Monday, April 15, 2024
HomePradeshBihar प्रॉपर्टी डीलर हत्याकांड में 3 गिरफ्तार

 प्रॉपर्टी डीलर हत्याकांड में 3 गिरफ्तार

मुजफ्फरपुर के चर्चित प्रॉपर्टी डीलर हत्याकांड में गिरफ्तार, परिजनों ने कराई 6 के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज

ध्रुव कुमार सिंह, मुजफ्फरपुर, बिहार,   

चर्चित जमीन कारोबारी  आशुतोष शाही समेत तीन लोगों की हत्या मामले में मुजफ्फरपुर पुलिस ने मृतक के पत्नी के आवेदन पर नगर थाने में प्राथमिकी दर्ज कर ली है। इस मामले में दो आरोपियों को भी गिरफ्तार कर लिया गया है।  पुलिस को दिए गए बयान में मृतक आशुतोष शाही की पत्नी ने मंटू शर्मा,  ओमकार, शेरू अहमद, वकील डालर, विक्कू  शुक्ला और गोविंद के खिलाफ नामजद मामला दर्ज कराया है। इसके अलावा कई अज्ञात लोगों को भी आरोपी बनाया है। जमीन कारोबारी आशुतोष शाही हत्याकांड में पुलिस ने प्राथमिकी दर्ज होते ही हत्याकांड में पटना में इलाजरत एडवोकेट सैयद कासिम हुसैन उर्फ डॉलर, पूर्व वार्ड पार्षद शेरू अहमद और प्रॉपर्टी डीलर विक्रांत कुमार उर्फ विक्कू शुक्ला को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है और अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है। गौरतलब है की शुक्रवार की रात नगर थाना क्षेत्र के मारवाड़ी हाई स्कूल लकड़ी ढाई के पास बाइक सवार बदमाशों ने वकील डालर के घर पर आशुतोष शाही समेत पांच लोगों को गोली मार दी गई थी। इसमें आशुतोष और उनके दो अंगरक्षक की मौत हो गई थी। जबकि घायल वकील डालर और एक अन्य का पटना में इलाज चल रहा है। जमीन कारोबारी आशुतोष शाही की हत्या ने मुजफ्फरपुर  पुलिस के खुफिया तंत्र की चूक को सामने ला दिया है। गृह विभाग ने पिछले वर्ष अक्टूबर में ही जिले में जमीन को लेकर दो गुटों में गैंगवार को लेकर अलर्ट जारी किया था। गृह विभाग द्वारा जारी अलर्ट में एक गुट में आशुतोष शाही समेत पांच लोगों का नाम शामिल किया था। दूसरे गुट में मंटू शर्मा, गोविंद कुमार समेत छह लोगों के नाम थे। इसमें आसूचना के आधार पर जानकारी दी गई थी कि जमीन को लेकर दोनों गुटों में गैंगवार हो सकता है। इसके बावजूद इस दिशा में कोई निरोधात्मक कार्रवाई नहीं की गई। जान के खतरे का अंदेशा जताते हुए आशुतोष शाही ने आवेदन दिया था तो उन्हें कुछ दिनों के लिए सरकारी अंगरक्षक दिए गए। कुछ दिनों के बाद में इसे हटा लिया गया, फिर उन्होंने निजी अंगरक्षक रख लिया था। नगर पुलिस अधीक्षक  अरविंद प्रताप सिंह ने बताया कि हत्याकांड की गुत्थी सुलझाने के लिए अलग-अलग जगहों पर एसआईटी की छह टीम छापेमारी कर रही है। संदेह के घेरे में आए कई लोगों से पूछताछ भी की जा रही है। पूर्व से जिनसे आशुतोष शाही का लेन-देन या जमीन का विवाद चल रहा था। उन सभी से पूछताछ की जा रही है। बिहार के बाहर भी स्पेशल टीम छापेमारी में जुटी हुई है। मुजफ्फरपुर पुलिस की एसआईटी की छह अलग-अलग टीम के साथ एसटीएफ की टेक्निकल टीम और स्पेशल ब्रांच के अधिकारी भी जांच में सहयोग कर रहे हैं। वहीं, दूसरी ओर आशुतोष शाही के परिजनों ने वरीय पुलिस अधीक्षक राकेश कुमार से मिलकर कार्रवाई की मांग की और परिवार की सुरक्षा की गुहार लगाई है। वरीय पुलिस अधीक्षक ने कार्रवाई का पूरा भरोसा दिया है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments