Tuesday, October 20, 2020

Bihar

प्रत्याशियों के खर्च पर नजर रखने के लिए निर्वाचन आयोग द्वारा नियुक्त व्यय प्रेक्षक नें अधिकारियों को दिए निर्देश 

ध्रुव कुमार सिंह,मुजफ्फरपुर,बिहार,  बिहार विधानसभा चुनाव में प्रत्याशियों के खर्च पर नजर रखने के लिए निर्वाचन आयोग द्वारा कुढ़नी,सकरा और मुजफ्फरपुर विधान सभा क्षेत्र के लिये नियुक्त व्यय प्रेक्षक कुंदन यादव द्वारा मुजफ्फरपुर समाहरणालय में  आहूत बैठक में कुढ़नी,सकरा और मुजफ्फरपुर निर्वाचन क्षेत्र से सम्बंधित प्रतिनियुक्त फ्लाइंग स्क्वायड वीडियो viewing टीम ,वीडियो सर्विलांस टीम और अकाउंटिंग टीम के पदाधिकारी उपस्थित थे।बैठक में उन्होंने सभी अधिकारियों को  दिए गए कार्यों को समय पर पूर्ण करने का निर्देश दिया।उन्होंने कहा कि निर्वाचन आयोग के दिए गए निर्देशों का समय पालन करना सुनिश्चित करें.श्री यादव नें निर्देश दिया कि अभ्यर्थियों के निर्वाचन व्यय,लेखा जांच करना एवं लेखा पंजी की जांच का कार्यक्रम तैयार करें. सभी अभ्यर्थियों की इसकी सूचना देना, चुनाव लड़ने वाले अभ्यर्थियों  को प्रतिदिन का व्यय लेखा संधारित जांच करने के लिए कहा गया। प्रचलित बाजार दर के अनुसार निर्वाचन प्रचार अभियान में इस्तेमाल होने वाली सामग्रियों जैसे टेबल, कुर्सी,लाउडस्पीकर, पोस्टर,बैनर ,वाहन आदि के विवरण तैयार करने के सम्बंध में आवश्यक जानकारी से भी उन्होंने उपस्थित पदाधिकारियों को अवगत कराया।बैठक में उन्होंने फ्लाइंग स्क्वायड टीम, वीडियो सर्विलेंस टीम, वीडियो Viewing  टीम,एमसीएमसी सेल के नोडल से अभी तक किए जा रहे कार्यों के बारे में जानकारी ली एवं निर्देश दिया कि मुस्तैदी के साथ अपने दायित्वों का निर्वहन करना सुनिश्चित करें। व्यय एवं अनुश्रवण कोषांग के नोडल पदाधिकारी गोपाल अग्रवाल ने बताया कि एफएसटी की 36 और भीएसटी की 14 टीम, स्टैटिकल सर्विलांस की 36 टीम द्वारा लगातार क्षेत्रों में कार्य किया जा रहा है।बैठक में व्यय अनुश्रवण कोषांग के नोडल पदाधिकारी गोपाल अग्रवाल एवं एमसीएमसी कोषांग के नोडल अधिकारी सह जिला जनसंपर्क पदाधिकारी कमल सिंह के साथ अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे।

एक-दूसरे का जीवनसाथी बनने की दो सहेलियों की जिद से मुजफ्फरपुर पुलिस फंसी उलझन में

ध्रुव कुमार सिंह,मुजफ्फरपुर,बिहार,  मुजफ्फरपुर जिले के सदर थानें की पुलिस उस समय हैरान रह गयी जब एक परिवार के लोग दो लड़कियों को लेकर थाने में पहुंच गये। ये दोनो लड़कियां पिछले चार साल से गर्लफ्रेंड-बॉयफ्रेंड के रिश्ते में जी रही थी लेकिन किसी को इसकी भनक नही लगी। एक सप्ताह पहले ये दोनो लड़कियां तब भाग गयी जब उनमें से एक की शादी उसके परिजनों नें तय कर दिया। दरअसल सदर थाना इलाके के गोबरसही इलाके की लड़की रानी (काल्पनिक) और मोनीका (काल्पनिक) दसवीं क्लास से एक साथ पढती थी। इसी बीच उनके बीच लड़के-लड़की वाले रिश्ते पनप गये। इनमें से सोनी गर्लफ्रेंड बन गयी तो मोनी ब्यॉयफ्रेंड बन गयी। मोनी नें अपना ड्रेस और गेटअप भी लड़कों जैसा बना लिया। स्कूल पास करके दोनो कॉलेज में गयी और बारहवीं पास कर स्नातक में पढ रही हैं। दोनो नें खुले तौर पर अपने रिश्ते को स्वीकार किया है। इसी बीच प्रेमिका सोनी के पिता नें उसकी शादी तय कर दी। यह बात दोनो को मंजूर नही हुआ और दोनो एक सप्ताह पूर्व कॉलेज जाने के बहाने फरार हो गये। परिजनों नें इसकी सूचना देकर खुद से खोजना शुरु किया। इसी बीच दोनो के दरभंगा में होने की सूचना मिली तो सोनी के परिजन उन दोनो तक पहुंच गये। दोनो को लेकर परिजन थाने पर पहुंचे तो भीड़ जुट गयी। दोनो लड़कियों नें खुद को बालिग बताया है और साथ रहने की कसमें खा रहे हैं। पुलिस भी इस रिश्ते को लेकर उहापोह में है। लेकिन सदर थाना के पुलिस अधिकारी पूर्णिमा सिंह का कहना है कि इस मामले में कानून के दायरे में हीं कोई कार्रवाई की जाएगी। इस बाबत जिले के वरीय अधिवक्ता अरविन्द कुमार सिंह का कहना है की दो युवती एक साथ रह सकती हैं। हालांकि, दो लड़कियों की शादी की अनुमति कानून से नहीं मिली है। दोनों के साथ रहने की स्थिति में कोई परेशान नहीं कर सकता है। इस संबंध में उच्चतम न्यायालय  ने स्पष्ट किया है कि दो बालिग अपनी मर्जी से बिना शादी के साथ रह सकते हैं।

विवाह के तुरंत बाद परिवार को पोता नही देने वाली बहु को जिन्दा जलाकर मार देने की हुई वारदात 

ध्रुव कुमार सिंह,मुजफ्फरपुर,बिहार,         मुजफ्फरपुर में विवाह के तुरंत बाद परिवार को पोता नही देने वाली बहु को जिन्दा जलाकर मार देने की...

शिक्षा हो या विज्ञान, खेल हो या सिनेमा या फिर कोई अन्य क्षेत्र हर क्षेत्र में लड़कियां अपना लोहा मनवा रही है- डॉ.चंद्रशेखर सिंह

ध्रुव कुमार सिंह,मुजफ्फरपुर,बिहार,  लड़कियों को समान अवसर मिले,उड़ान भरने के लिए आसमान मिले साथ ही किशोरावस्था के दौरान यदि उन्हें सहयोग दिया जाए तो निश्चित रूप से विश्व को बदलने का सामर्थ्य उनमे है।इसी परिपेक्ष्य में मुजफ्फरपुर समाहरणालय सभा कक्ष में अंतरराष्ट्रीय बालिका शिशु दिवस के अवसर पर आईसीडीएस के तत्वाधान में आयोजित कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में जिलाधिकारी  डॉ.चंद्रशेखर सिंह ने उपस्थित बालिकाओं, छात्राओं एवं महिलाओं को संबोधित करते हुए कहा की महिला सशक्तिकरण और उनको अधिकार प्रदान करने में मदद करना ताकि दुनिया भर में उनके सामने आने वाली चुनौतियों का सामना करने में वे सक्षम हो सके। इस उद्देश्य से अंतरराष्ट्रीय बालिका शिशु दिवस का आयोजन किया जाता रहा है।उन्होंने कहा कि बाल-विवाह, दहेज प्रथा इत्यादि रूढ़िवादी प्रथाओं के कारण लड़कियों को शिक्षा, पोषण, कानूनी अधिकार और चिकित्सा से वंचित रखा जाने लगा था। लेकिन आज तस्वीर बदल चुकी है। आजकल लड़कियों की सफलता भी आसमान में परवाज भर रही है। शिक्षा हो या विज्ञान,खेल हो या सिनेमा या फिर कोई अन्य क्षेत्र हर क्षेत्र में लड़कियां अपना लोहा मनवा रही हैं। हालांकि इसके बाद भी कई मोर्चों पर उम्मीदों का आसमान छूना अभी बाकी है।डॉ.सिंह नें कहा कि बदलते वक्त के साथ हालात बदल गए हैं। महिलाएं भी पुरुषों के से कंधा से कंधा मिलाकर समाज के मुख्यधारा में आज नजर आ रही हैं। उन्होंने कहा कि पुरानी धारणाओं में अब बदलाव आ रहा है। उन्होंने कहा कि बच्चियों में क्षमता एवं संवेदनशीलता अधिक होती हैं, अतः उनके लिए सफलता की संभावनाएं भी अधिक होती। डॉ.सिंह नें  कहा कि आज के जमाने में बेटा या बेटी में कोई अंतर नहीं है।वहीं सहायक समाहर्ता खुशबू गुप्ता ने अपने संबोधन में कहा कि हालात में परिवर्तन स्पष्ट रूप से दृष्टिगोचर हो रहे हैं। लड़कियां अपना मुकाम हासिल करने में लड़कों से कम नहीं है। अपनी प्रतिभा और मेहनत के बदौलत  आज के दौर में अपनी मंजिल पाने में वे कामयाब हैं।उन्होंने उपस्थित छात्राओं को शुभकामनाएं दी और कहा कि अपनी मेहनत और अपनी प्रतिभा से आप अपने परिवार, अपने समाज और अपने देश का नाम रोशन करें।बैठक में उप-विकास आयुक्त सुनील कुमार झा,जिला जनसम्पर्क अधिकारी कमल सिंह के साथ अन्य वक्ताओं ने भी अपनी बातें  रखी।बैठक में पॉक्सो कानून के बारे में अधिवक्ता आशा सिन्हा द्वारा महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान की गई।वहीं डॉ. रश्मि सिन्हा द्वारा बालिकाओं के स्वास्थ्य/ सेहत के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी दी गई तथा समाजसेवी वंदना कुमारी द्वारा भी लैंगिक हिंसा से सुरक्षा का उपाय एवं उसके कानूनी पहलू पर महत्वपूर्ण जानकारी उनके द्वारा उपलब्ध कराई गई।कार्यक्रम के अंत में मतदाता जागरूकता कार्यक्रम के तहत जिलाधिकारी तथा अन्य अधिकारियों द्वारा गुब्बारे उड़ाकर मतदाताओं को जागरूक करने की दिशा में एक महत्वपूर्ण संदेश दिया गया। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने जिले वासियों से अपील की कि इस चुनाव में सभी योग्य मतदाता सुरक्षित मतदान के लिए मतदान केंद्रों पर जाएं और अपने मताधिकार का प्रयोग कर लोकतंत्र को और मजबूती प्रदान करें। मतदान के दिन सुरक्षित मतदान के लिए माकूल व्यवस्था जिला प्रशासन द्वारा सुनिश्चित की गई है। कार्यक्रम में मंच संचालन का कार्य बाल विकास योजना अधिकारी मुसहरी ग्रामीण मंजू सिंह ने किया।

चुनाव में प्रत्याशियों के खर्च पर नजर रखने के लिए निर्वाचन आयोग के व्यय प्रेक्षक नें अधिकारियों को  दिए आवश्यक निर्देश

ध्रुव कुमार सिंह,मुजफ्फरपुर,बिहार,  चुनाव में प्रत्याशियों के खर्च पर नजर रखने के लिए निर्वाचन आयोग द्वारा नियुक्त व्यय प्रेक्षक मिर्जा अख्तर बेग  द्वारा मुजफ्फरपुर समाहरणालय सभा कक्ष में  एक महत्वपूर्ण बैठक आहूत की गई। पारू, बरूराज, मीनापुर,कांटी, साहिबगंज विधान सभा क्षेत्र के लिए श्री अख्तर को  चुनाव आयोग द्वारा व्यय प्रेक्षक बनाया गया है।बैठक में उन्होंने सभी अधिकारियों को  दिए गए कार्यों को समय पर पूर्ण करने का निर्देश दिया।उन्होंने कहा कि निर्वाचन आयोग के दिए गए निर्देशों का समय पालन करना सुनिश्चित करें साथ हीं निर्देश दिया कि अभ्यर्थियों के निर्वाचन व्यय,लेखा जांच करना एवं लेखा पंजी की जांच का कार्यक्रम तैयार करें. सभी अभ्यर्थियों की इसकी सूचना देना, चुनाव लड़ने वाले अभ्यर्थियों  को प्रतिदिन का व्यय लेखा संधारित/जांच करने के लिए कहा गया। प्रचलित बाजार दर के अनुसार निर्वाचन प्रचार अभियान में इस्तेमाल होने वाली सामग्रियों जैसे टेबल,कुर्सी,लाउडस्पीकर, पोस्टर,बैनर,वाहन आदि के विवरण तैयार करने के सम्बंध में आवश्यक जानकारी से भी उन्होंने उपस्थित पदाधिकारियों को अवगत कराया।बैठक में उन्होंने फ्लाइंग स्क्वायड टीम, वीडियो सर्विलेंस टीम, वीडियो Viewing  टीम,एमसीएमसी सेल के नोडल से अभी तक किए जा रहे कार्यों के बारे में जानकारी ली एवं निर्देश दिया कि मुस्तैदी के साथ अपने दायित्वों का निर्वहन करना सुनिश्चित करें। व्यय एवं अनुश्रवण कोषांग के नोडल पदाधिकारी गोपाल अग्रवाल ने बताया कि बैठक के बाद व्यय प्रेक्षक ने व्यय एवं अनुश्रवण कोषांग का निरीक्षण किया साथ ही नियंत्रण कक्ष की कार्यप्रणाली की भी जानकारी ली एवं इस संबंध में महत्वपूर्ण निर्देश उनके द्वारा दिया गया..बैठक में व्यय अनुश्रवण कोषांग के नोडल पदाधिकारी एवं एमसीएमसी कोषांग के नोडल अधिकारी सह जिला जनसंपर्क पदाधिकारी कमल सिंह के साथ अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे।

सोशल मीडिया एवं केबल चैनल्स पर राजनीतिक विज्ञापनों के प्रमाणीकरण

ध्रुव कुमार सिंह,मुजफ्फरपुर,बिहार,  विधानसभा चुनाव में  इलेक्ट्रॉनिक मीडिया,सोशल मीडिया एवं केबल चैनल्स पर राजनीतिक विज्ञापनों के प्रमाणीकरण तथा पेड न्यूज़ का अनुश्रवण करने के लिए  एमसीएमसी कोषांग गठित बिहार विधानसभा निर्वाचन 2020 में  इलेक्ट्रॉनिक...

मतदान कार्य से मुक्ति हेतु दिए गए अभ्यावेदनों के निष्पादन हेतु मेडिकल बोर्ड का हुआ  गठन

ध्रुव कुमार सिंह,मुजफ्फरपुर,बिहार,    बिहार विधानसभा चुनाव 2020 के अवसर पर मतदान कार्य में प्रतिनियुक्त कर्मियों द्वारा बीमारी के कारणों से मतदान कार्य से मुक्ति हेतु दिए गए अभ्यावेदनों के निष्पादन हेतु मेडिकल बोर्ड का गठन किया गया है। मेडिकल बोर्ड द्वारा मतदान कार्य  में प्रतिनियुक्त कर्मियों की बीमारी की जांच हेतु तिथि निर्धारित की गई है जिसमें संबंधित कर्मी उपस्थित होकर अपनी बीमारी की जांच करा सकेंगे। (1)  मतदान पदाधिकारी द्वितीय एवं तृतीय -14 अक्टूबर को 10:00 बजे पूर्वाहन से 5:00 बजे अपराहन तक। स्थान जिला परिषद सभा कक्ष* (2) पीठासीन पदाधिकारी एवं मतदान अधिकारी प्रथम 15 अक्टूबर को 10:00 बजे पूर्वाहन से 5:00 बजे अपराह्न तक। स्थान जिला परिषद सभा कक्ष* (3) गश्ती दंडाधिकारी एवं माइक्रो प्रेक्षक 16 अक्टूबर 10:00 बजे पूर्वाहन से 5:00 बजे अपराहन तक। स्थान जिला परिषद सभागार* जिला निर्वाचन पदाधिकारी डॉ.चंद्रशेखर सिंह द्वारा सिविल सर्जन मुजफ्फरपुर को निर्देश दिया गया है कि मेडिकल टीम को निर्धारित तिथि एवं स्थान पर उपस्थित होने हेतु अपने स्तर से निर्देशित करेंगे तथा इसकी सूचना कार्मिक कोषांग को स-समय भेजना सुनिश्चित करेंगे।जिला जनसम्पर्क अधिकारी कमल सिंह नें बताया की जिला निर्वाचन अधिकारी द्वारा उप-निर्वाचन पदाधिकारी मुजफ्फरपुर को निर्देशित किया गया है कि निर्धारित तिथि को जिला परिषद सभा कक्ष में मेडिकल बोर्ड के समक्ष उपस्थित कर्मियों के लिए तथा मेडिकल टीम के लिए आवश्यक व्यवस्था करना सुनिश्चित करेंगे।

बड़गांव जहाँ स्वयं भगवान सूर्य अपने परिवार के साथ हैं मौजूद देखें वीडियो

बिहार राज्य के नालंदा जिला स्थित बड़गांव की महानतम संस्कृति को जानने के बाद आप भी सोचने पर विवश हो जाएंगे की आखिर यह...

मगही भाषा को संवैधानिक दर्जा दिलाने हेतु मुख्यमंत्री सहित सभी दल के नेताओं को लिखा पत्र

सह संपादक - धर्म प्रकाश रुद्र आठवीं अनुसूची में शामिल हो मगही भाषा- पारस कुमार सिंह बिहार/नालन्दा : मगध के स्वाभिमान के प्रतीक मगही भाषा को...

दुर्गापूजा और चेहल्लुम के अवसर पर ना तो कोई अस्थाई प्रतिमा स्थापित की जाएंगी ना ही पंडाल बनाये जाएंगे

ध्रुव कुमार सिंह, मुजफ्फरपुर, बिहार,    किसी भी तरह का जुलूस या अखाड़े पर भी प्रतिबंध रहेगा. जिला शांति समिति का निर्णय  कोरोना महामारी के संक्रमण के...

जमीनी विवाद में प्रोपर्टी डीलर की हत्या

ध्रुव कुमार सिंह, मुजफ्फरपुर, बिहार, मुजफ्फरपुर में साला-जीजा के बीच जमीनी विवाद में एक प्रोपर्टी डीलर की हत्या कर दी गयी। आरोप एक निलंबित मजिस्ट्रेट पर है जिसे पत्नी के साथ पुलिस नें गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी रिटार्यड जज के बेटे हैं। घटना मिठनपुरा थाना के रामबाग मोहल्ले की है। मृतक की पहचान कन्हौली निवासी प्रोपर्टी डीलर नरेन्द्र नाथ के रुप में हुई है।मिठनपुरा थाना से मिली जानकारी के मुताबिक आरोपी निलंबित मजिस्ट्रेट आशुताष कुमार और उनके जीजा के बीच जमीन को लेकर काफी समय से विवाद चल रहा था। दोनो के बीच कई बार पंचायत हो चुकी थी। बीती रात भी आरोपी के घर पर दोनो पक्ष बैठे थे। मृतक नरेन्द्र पंचायत करने आए थे। इसी दौरान दोनो पक्षों के बीच खुनी विवाद हो गया। मृतक की पत्नी अनीता देवी नें बताया कि आशुतोष कुमार नें लोहे के पेचकस से नरेन्द्र पर वार कर दिया। नरेन्द्र नाथ को अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टर नें मृत घोषित कर दिया। उसके बाद स्थानीय लोगों नें आरोपी के घर पर हमला कर दिया। जमकर तोड़फोड़ और हंगामा किया। मौके पर मिठनपुरा थाना और नगर थाना दल- बल के साथ पहुंची और हालात पर काबु पाया। मिठपुरा थानाध्यक्ष भागीरथ प्रसाद नें बताया कि पुलिस नें आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है और छानबीन जारी है।

वन्यप्राणी सप्ताह के मौके पर किया गया घोषला वितरण

धर्म प्रकाश रुद्र बिहार/नालन्दा : गौरैया बिना सुना है हर घर और आंगन , लौट आओ गौरैया - दीपक कुमार गौरैया संरक्षण मुहिम में जी...

Most Read

पंजाब के किसान यूनियनों और राज्य सरकार के बीच समझौता अनिर्णायक था – पंजाब के किसान संघों और राज्य सरकार के बीच बातचीत का...

प्रतीकात्मक तस्वीरचंडीगढ़: पंजाब के काउंटरलिस्टर्स के समूह और किसान संघों के बीच बैठक बेनतीजा हो रही है। किसान संघों ने दावा किया कि...

ग्रीन पैकेज भारतीय अर्थव्यवस्था को 2030 तक पूरी तरह से समाप्त कर देगा

पर्यावरण अनुकुल रिकवरी पैकेज से भारत कोरोना हालत के अर्थव्यवस्था पर प्रभावों को 2030 तक पूरी तरह से खत्म कर सकता है।...