Tuesday, February 27, 2024
HomePradeshBiharचाहे प्रतियोगी परीक्षा हो या कोई अन्य क्षेत्र

चाहे प्रतियोगी परीक्षा हो या कोई अन्य क्षेत्र

ध्रुव कुमार सिंह, मुजफ्फरपुर, बिहार,  

बिहारी हर क्षेत्र में आगे हैं, चाहे प्रतियोगी परीक्षा हो या कोई अन्य क्षेत्र– राजेंद्र विश्वनाथ आर्लेकर, राज्यपाल, बिहार

बिहार के राज्यपाल सह कुलाधिपति राजेंद्र विश्वनाथ आर्लेकर ने कहा कि राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 औपनिवेशिक सोच को बदलते हुए युवाओं में नई ऊर्जा पैदा करेगी। श्री आर्लेकर नें राष्ट्रीय शिक्षा नीति-2020 तीन वर्ष पूरे होने पर पर ललित नारायण मिश्रा कॉलेज ऑफ बिजनेस मैनेजमेंट, मुजफ्फरपुर के तत्वाधान में पटना में आयोजित संगोष्ठी में उक्त विचार व्यक्त किये। उन्होंने कहा कि बिहारी जब प्रतिभावान और परिश्रमी हैं तो बिहार भी पिछड़ा हुआ नहीं रहेगा । नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति युवाओं को रोजगार याचक नहीं बल्कि रोजगार प्रदाता बनाएगी। राज्यपाल  ने कहा कि हमारी प्रतिज्ञा है कि बिहार के बच्चे शिक्षा के लिए बाहर नहीं जाएं दूसरी जगह के बच्चे यहां आकर शिक्षा ग्रहण करें। राज्यपाल ने कहा कि शिक्षा नीति में सुधार पर अमल करना काफी कठिन होता है। नई शिक्षा नीति 2020 में केवल किताबी ज्ञान नहीं है। इसके अतिरिक्त भी बहुत कुछ है। यह जड़ से जुड़ी हुई है। बिहारी हर क्षेत्र में आगे हैं। चाहे प्रतियोगी परीक्षा हो या कोई अन्य क्षेत्र, फिर बिहार क्यों पीछे रहेगा। उन्होंने युवाओं का आह्वान किया कि वह जॉब सीकर (नौकरी या रोजगार मांगने वाले) नहीं, अपितु जॉब देने वाले बनें। राज्यपाल ने कहा कि शिक्षा नीति में सुधार पर अमल करना काफी कठिन होता है। नई शिक्षा नीति 2020 में केवल किताबी ज्ञान नहीं है। इसके अतिरिक्त भी बहुत कुछ है। यह जड़ से जुड़ी हुई है। संगोष्ठी में बी.आर अम्बेडकर बिहार विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो.शैलेन्द्र चतुर्वेदी, छपरा के सांसद राजीव प्रताप रूडी, शिक्षा मंत्रालय के स्कूल शिक्षा एवं साक्षरता विभाग के सचिव संजय कुमार,बिहार भाजपा के अध्यक्ष सम्राट चौधरी, पूर्व मंत्री नीतीश मिश्रा, सीबीएसई के क्षेत्रीय निदेशक अरविंद कुमार मिश्रा ने भी नई शिक्षा नीति पर प्रकाश डाला और नई शिक्षा नीति के लाभ के बारे में बताया। ललित नारायण मिश्रा कॉलेज ऑफ बिजनेस मैनेजमेंट,मुजफ्फरपुर के कुलसचिव कुमार शेखर ने धन्यवाद ज्ञापित किया।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments