Sunday, February 25, 2024
HomePradeshUttar Pradeshमुख्यमंत्री ने   वाराणसी में संचालित विकास परियोजनाओं एवं निर्माण कार्यों की प्रगति...

मुख्यमंत्री ने   वाराणसी में संचालित विकास परियोजनाओं एवं निर्माण कार्यों की प्रगति की समीक्षा की

 
विकास परियोजनाओं तथा निर्माण कार्यों को युद्धस्तर पर अभियान चलाकर गुणवत्ता के साथ निर्धारित समय-सीमा में पूर्ण कराए जाने के निर्देश
 
जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ पात्र लाभार्थियों को प्रत्येक दशा में प्राथमिकता पर उपलब्ध कराया जाए : मुख्यमंत्री
 
संचारी रोगों से निपटने हेतु सभी तैयारियां समय से पूर्ण किए जाने के निर्देश, डेंगू, चिकनगुनिया आदि संक्रामक रोगों के दृष्टिगत प्रभावित क्षेत्रों में दवाओं का छिड़काव कराया जाए
 
ओ0पी0डी0 में डॉक्टरों की 24 घण्टे उपस्थिति सुनिश्चित कराई जाए
 
शहर की नियमित सफाई हो तथा रोजाना कूड़े का उठान हो, शहर में कहीं भी कूड़े का ढेर दिखाई न दे
 
पथ विक्रेताओं का स्ट्रीट वेण्डर जोन में सुरक्षित पुनर्वास कराया जाए
 
सम्भावित बाढ़ की स्थिति से निपटने के लिए सभी आवश्यक तैयारियां पूर्ण कर ली जाए
 
आई0जी0आर0एस0, सी0एम0 हेल्पलाइन एवं अन्य माध्यमों से प्राप्त शिकायती प्रार्थना पत्रों का निस्तारण प्रत्येक दशा में प्राथमिकता पर निर्धारित समय-सीमा में सुनिश्चित कराए जाने के निर्देश
 
सभी विभागीय अधिकारी अपने-अपने कार्यालयों में समय से उपस्थित रहकर जनसामान्य की समस्याओं का प्राथमिकता पर निस्तारण सुनिश्चित
करें, समस्याओं का मेरिट के आधार पर निस्तारण कराएं
 
स्मार्ट सिटी के इण्टीग्रेटेड ट्रैफिक मॉनीटरिंग सिस्टम के सिग्नल की संख्या और बढ़ाई जाए
 
उद्यमियों एवं व्यापारियों की समस्याओं का निस्तारण प्राथमिकता पर कराए जाने के निर्देश
 
शहर के सभी सी0सी0टी0वी0 कैमरे प्रत्येक दशा में क्रियाशील रहने चाहिए

 

लखनऊ :  

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ   ने   वाराणसी भ्रमण के दौरान सर्किट हाउस सभागार में जनपद में संचालित विकास परियोजनाओं एवं निर्माण कार्यों की प्रगति की समीक्षा की। उन्होंने विकास परियोजनाओं तथा निर्माण कार्यों को युद्धस्तर पर अभियान चलाकर गुणवत्ता के साथ निर्धारित समय-सीमा में पूर्ण कराए जाने के निर्देश अधिकारियों को दिए। उन्होंने कहा कि जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ पात्र लाभार्थियों को प्रत्येक दशा में प्राथमिकता पर उपलब्ध कराया जाए।
मुख्यमंत्री   ने शहर का विस्तार व बस स्टेशन की स्थापना रिंग रोड के किनारे कराए जाने पर बल देते हुए कहा कि शहर के मध्य स्थापित ट्रांसपोर्ट नगर को रिंग रोड के किनारे बसाया जाए। वेयरहाउस को स्थानान्तरित किया जाए।
मुख्यमंत्री जी ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी को संचारी रोगों से निपटने हेतु सभी तैयारियां समय से पूर्ण किए जाने के निर्देश देते हुए कहा कि इसमें कोई कोताही न बरती जाए। डेंगू, चिकनगुनिया आदि संक्रामक रोगों के दृष्टिगत प्रभावित क्षेत्रों में दवाओं का छिड़काव कराया जाए। अस्पतालों में संक्रामक रोगों के मरीजों के इलाज की समुचित व्यवस्था सुनिश्चित करायी जाए। ओ0पी0डी0 में डॉक्टरों की 24 घण्टे उपस्थिति सुनिश्चित कराई जाए। सर्विलांस टीम को एक्टिव रखा जाए।
मुख्यमंत्री जी ने शहर की स्वच्छता पर विशेष जोर देते हुए कहा कि स्वच्छता प्रधानमंत्री जी की प्राथमिकता है। उन्होंने नगर आयुक्त को निर्देशित किया कि शहर की नियमित सफाई हो तथा रोजाना कूड़े का उठान हो। शहर में कहीं भी कूड़े का ढेर दिखाई न दे। शहर के पब्लिक टॉयलेट एवं यूरिनल की नियमित साफ-सफाई करायी जाए। जी-20 का कार्यक्रम आगामी दिनों में होना है, इसलिए बेहतर स्वच्छता व्यवस्था सुनिश्चित कराई जाए। पथ विक्रेताओं का स्ट्रीट वेण्डर जोन में सुरक्षित पुनर्वास कराया जाए। इसमें लापरवाही बरतने वालों की जवाबदेही तय की जाए।
मुख्यमंत्री जी ने सम्भावित बाढ़ की स्थिति से निपटने के लिए सभी आवश्यक तैयारियां पूर्ण किए जाने पर विशेष जोर देते हुए कहा कि बाढ़ की स्थिति में प्रभावित लोगों को तत्काल राहत उपलब्ध कराई जाए। इसमें कतई विलम्ब नहीं होना चाहिए।
मुख्यमंत्री   ने जनशिकायतों के निस्तारण की समीक्षा के दौरान आई0जी0आर0एस0, सी0एम0 हेल्पलाइन एवं अन्य माध्यमों से प्राप्त शिकायती प्रार्थना पत्रों का निस्तारण प्रत्येक दशा में प्राथमिकता पर निर्धारित समय-सीमा में सुनिश्चित कराए जाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि सभी विभागीय अधिकारी अपने-अपने कार्यालयों में समय से उपस्थित रहकर जनसामान्य की समस्याओं का प्राथमिकता पर निस्तारण सुनिश्चित करें। समस्याओं का मेरिट के आधार पर निस्तारण कराएं। विकास प्राधिकरण के अधिकारी जनसामान्य की समस्याओं का सुगम निस्तारण सुनिश्चित कराएं।
मुख्यमंत्री   ने राजस्व वसूली में तेजी लाए जाने के निर्देश देते हुए कहा कि राजस्व वादों का भी प्राथमिकता पर निस्तारण कराया जाए। तहसीलदार, नायब तहसीलदार एवं राजस्व विभाग के फील्ड के अधिकारी/कर्मचारी अपने-अपने तैनाती स्थलों पर ही रात्रि निवास करें। थानेदार भी अपने-अपने थाना क्षेत्र में ही निवास करें। जनपद में वाहनों के अवैध स्टैण्ड कहीं भी नहीं रहने चाहिए।
मुख्यमंत्री   ने कानून व्यवस्था की समीक्षा के दौरान होमगार्ड्स एवं पी0आर0डी0 के जवानों को प्रशिक्षित कर उनका उपयोग सुगम यातायात व्यवस्था के लिए किए जाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि स्मार्ट सिटी के इण्टीग्रेटेड ट्रैफिक मॉनीटरिंग सिस्टम के सिग्नल की संख्या और बढ़ाई जाए।
मुख्यमंत्री   ने उद्यमियों एवं व्यापारियों की समस्याओं का निस्तारण प्राथमिकता पर कराए जाने के निर्देश अधिकारियों को दिए। उन्होंने कहा कि यह छोटी-छोटी घटनाएं, बड़ी घटनाओं का रूप ले लेती हैं। इसलिए पुलिस द्वारा नियमित फुट पेट्रोलिंग की जाए। शहर के सभी सी0सी0टी0वी0 कैमरे प्रत्येक दशा में क्रियाशील रहने चाहिए। अवैध खनन एवं वसूली पर रोक लगाए जाने के निर्देश देते हुए उन्होंने कहा कि जनपद की सीमाओं पर पैनी नजर रखी जाए।
बैठक में जल शक्ति मंत्री श्री स्वतंत्र देव सिंह, श्रम एवं सेवायोजन मंत्री श्री अनिल राजभर सहित अन्य जनप्रतिनिधिगण तथा शासन-प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments