Tuesday, February 27, 2024
HomePradeshUttar Pradesh‘कॉन्फ्लुएन्स-2023’ का भव्य उद्घाटन

‘कॉन्फ्लुएन्स-2023’ का भव्य उद्घाटन

अन्तर्राष्ट्रीय विश्व एकता एवं विश्व शान्ति महोत्सव
‘कॉन्फ्लुएन्स-2023’ का भव्य उद्घाटन

लखनऊ, 30 अगस्त। सिटी मोन्टेसरी स्कूल, इन्दिरा नगर कैम्पस द्वारा आयोजित
चार दिवसीय अन्तर्राष्ट्रीय विश्व एकता एवं विश्व शांति महोत्सव ‘कॉन्फ्लुएन्स-2023’
का भव्य उद्घाटन आज सायं सी.एम.एस. कानपुर रोड ऑडिटोरियम में हुआ। समारोह
के मुख्य अतिथि श्री सुधांशु मणि, वंदे भारत एक्सप्रेस के जनक एवं भारतीय रेलवे के
पूर्व जनरल-मैनेजर, ने दीप प्रज्वलित कर ‘कॉन्फ्लुएन्स-2023’ का विधिवत् उद्घाटन
किया। इस अवसर पर अपने संबोधन में श्री सुधांशु मणि ने कहा कि वर्तमान दौर में
शान्ति शिक्षा का विशेष महत्व है। अतः यह आवश्यक है कि हम बच्चों को मानवीय
गुणों से परिपूर्ण करें और उन्हें एकता व शान्ति की महत्ता से अवगत करायें।
उद्घाटन समारोह में देश-विदेश की प्रतिभागी छात्र टीमों ने जहाँ एक ओर अनूठे
अंदाज में अपना परिचय प्रस्तुत किया तो सी.एम.एस. छात्रों ने वंदे मातरम, सर्वधर्म
प्रार्थना, विश्व एकता प्रार्थना, स्वागत गान, कान्फ्लुएन्स सांग, लोकनृत्य,
कोरियोग्राफी आदि विभिन्न कार्यक्रमों की रंगारंग प्रस्तुति से सभी को मंत्रमुग्ध कर
दिया।
इससे पहले, ‘कॉन्फ्लुएन्स-2023’ में पधारे विभिन्न देशों के छात्र सी.एम.एस.
कानपुर रोड ऑडिटोरियम में आयोजित एक प्रेस कान्फ्रेन्स में पत्रकारों से रूबरू हुए।
सी.एम.एस. संस्थापक व प्रख्यात शिक्षाविद् डा. जगदीश गाँधी ने इस अवसर पर
कहा कि भावी पीढ़ी में एकता व शान्ति के विचारों को बढ़ावा देना ही इस आयोजन का
मूल उद्देश्य है। ‘कान्फ्लुएन्स-2023’ की संयोजिका एवं सी.एम.एस. इन्दिरा नगर
कैम्पस की प्रधानाचार्या श्रीमती रुचि भुवन जोशी ने विश्वास व्यक्त किया कि यह
महोत्सव छात्रों के बहुमुखी प्रतिभा के विकास के साथ ही उनके मानवीय एवं
आध्यात्मिक दृष्टिकोण का भी विकास करेगा ‘कॉन्फ्लुएन्स-2023’ का आयोजन 30
अगस्त से 2 सितम्बर तक किया जा रहा है, जिसमें श्रीलंका, नेपाल एवं भारत के

विभिन्न प्रान्तों से पधारे लगभग 500 छात्र विभिन्न रोचक प्रतियोगिताओं के माध्यम
से एकता व शान्ति का संदेश दे रहे हैं।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments