Monday, April 15, 2024
HomeIndia  केशव प्रसाद मौर्य ने बलिया के प्रशासनिक व विकास से जुड़े...

  केशव प्रसाद मौर्य ने बलिया के प्रशासनिक व विकास से जुड़े अधिकारियों के साथ की बैठक

लखनऊ:
उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने गुरूवार को कलेक्ट्रेट सभागार बलिया में प्रशासनिक व विकास से जुड़े अधिकारियों के साथ बैठक की। उन्होंने विकास कार्यों की समीक्षा के दौरान प्रधानमंत्री आवास योजना-ग्रामीण एवं मुख्यमंत्री आवास योजना के आवासों का पिछले पांच वर्ष में किये गये निर्माण की जानकारी ली। कहा कि योजना के लाभार्थियों की संख्या का प्रचार-प्रसार भी कराया जाए। स्वास्थ्य एवं चिकित्सा विभाग की समीक्षा के दौरान सीएमओ व डीपीआरओ को निर्देश दिए कि अगले एक महीने में अभियान चलाकर आयुष्मान भारत योजनान्तर्गत निर्धारित  लक्ष्यों को शत प्रतिशत हासिल किये जांए। इसके अलावा गोल्डेन कार्ड से उपचारित लाभार्थियों की संख्या भी बढ़ाने के निर्देश डिप्टी सी एम ने दिये। जिला अस्पताल के अलावा सभी सीएचसी-पीएचसी पर चिकित्सकों व दवाओं की उपलब्धता की जानकारी ली।
बैठक में ‘मेरी माटी- मेरा देश‘ एवं ‘हर घर तिरंगा’ कार्यक्रम की तैयारियों की जानकारी लेते हुए उप मुख्यमंत्री ने कार्यक्रमों से जुड़े समस्त विभागों को समय से सारी तैयारियां पूर्ण करने के निर्देश दिये, ताकि कार्यक्रम की सफलता सुनिश्चित हो सके। विद्युत विभाग की समीक्षा के दौरान विद्युत आपूर्ति की शिकायत पर उन्होंने अधीक्षण अभियंता विद्युत को निर्देश दिया कि अधीनस्थ कार्यरत कर्मचारियों के कार्यों की नियमित समीक्षा करें और लापरवाह कार्मिकों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करें। इस बात का ख्याल रखें कि उपभोक्ताओं को कोई दिक्कत न हो। ओवर बिलिंग की शिकायत नहीं मिले। खाद्यान्न वितरण के बारे में डीएसओ से पूरी जानकारी ली। नियमित रूप से खाद्यान्न वितरण एवं खाली यूनिट की जानकारी जनपद के निर्वाचित जनप्रतिनिधियों को भी उपलब्ध कराने के निर्देश दिये।
जनपद में तालाब, चारागाह, चकमार्ग, आदि जैसी सार्वजनिक भूमि पर अवैध अतिक्रमण की शिकायतों पर डिप्टी सी एम   मौर्य ने कहा कि ऐसी भूमि का सर्वे कर अवैध अतिक्रमण हटवाया जाए। इस दौरान कमजोर एवं गरीब लोगों को विस्थापित करने से पहले वैकल्पिक व्यवस्था करने के भी निर्देश दिए। जल जीवन मिशन के कार्यों की समीक्षा के दौरान उन्होेंने कार्यदायी संस्थाओं द्वारा किये जा रहे कार्यों की गुणवत्ता की नियमित जांच करने एवं पाईपलाईन डालने के दौरान क्षतिग्रस्त सड़कों को तत्काल ठीक कराने के भी निर्देश दिए। उप मुख्यमंत्री ने बाढ़ खंड के अधिशासी अभियंता को गंगा नदी पर रिवर फ्रंट बनाने के लिए सर्वे कराने के निर्देश दिए, जिससे भविष्य में शहर की बाढ से सुरक्षा के साथ-साथ पर्यटन को भी बढ़ावा मिल सके। गो-आश्रय स्थलों में गोवंश संरक्षण की स्थिति की जानकारी लेते हुए उन्होंने सीवीओ को निर्देश दिया कि अभियान चलाकर निराश्रित गोवंशों को गो-आश्रय स्थलों में सुरक्षित करें।
बैठक के दौरान उप मुख्यमंत्री ने समस्त अधिकारियों को निर्देश दिया कि जनप्रतिनिधियों द्वारा संज्ञान में लाई गई शिकायतों का नियमानुसार तत्काल निस्तारण सुनिश्चित कराएं। गोंड एवं खरवार जाति के लोगों का जाति प्रमाण पत्र नहीं बनाये जाने की बात संज्ञान में आने पर उन्होंने जिलाधिकारी को सम्बन्धित अधिकारियों के साथ बैठक कर नियमानुसार कार्यवाही करने के निर्देश दिये। साथ ही जनसुनवाई के दौरान प्राप्त शिकायतों का गुणवत्तापूर्ण ढ़ंग से निस्तारण करने के निर्देश दिए। सभी अधिकारियों को यह भी निर्देश दिया कि अपने-अपने विभागों में नवाचार को बढ़ावा दें। इस क्षेत्र में अच्छे कार्य करने वालों को पुरस्कृत भी किया जाएगा। बैठक के बाद प्रेस प्रतिनिधियों के साथ वार्ता कर सरकार की उपलब्धियों को साझा किया। बैठक में परिवहन राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) दयाशंकर सिंह, राज्यमंत्री दानिश आजाद अंसारी, विधायक श्रीमती केतकी सिंह, भाजपा जिलाध्यक्ष श्री जयप्रकाश साहू, पूर्व राज्यमंत्री श्री उपेंद्र तिवारी, जिलाधिकारी रवीन्द्र कुमार, सीडीओ प्रवीण वर्मा सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।
आयुष्मान कार्ड व आवास स्वीकृति पत्र का किया वितरण
उपमुख्यमंत्री   केशव प्रसाद मौर्य ने जनपद भ्रमण के दौरान कलेक्ट्रेट सभागार में आयुष्मान भारत के तीन लाभार्थियों को गोल्डेन कार्ड वितरित किया। इसके अलावा प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण दो लाभार्थियों को स्वीकृति पत्र तथा एक लाभार्थी को चाभी प्रदान किया। मुख्यमंत्री आवास योजना- ग्रामीण के दो लाभार्थियों को भी चाभी प्रदान कर पक्के आवास की सौगात दी। स्वयं सहायता समूह की भी महिलाओं से मिलकर उनके द्वारा बनाये जा रहे उत्पाद के जरिए आर्थिक उन्नति करने पर उनकी सराहना की।
विवि परिसर में निर्माणाधीन भवन का किया निरीक्षण
डिप्टी सीएम   केशव प्रसाद मौर्य ने गुरूवार को जननायक चन्द्रशेखर विश्वविद्यालय बलिया  के परिसर में निर्माणाधीन भवनों का निरीक्षण किया। उन्होंने कार्यदायी संस्था के अधिकारी से निर्माण से जुड़ी पूरी जानकारी ली। कहा कि प्राप्त बजट के सापेक्ष भौतिक प्रगति में भी तेजी लाए। उन्होंने कहा कि गुणवत्तापरक कार्य सरकार की प्राथमिकता में एक है, लिहाजा निर्माण की गुणवत्ता का हमेशा विशेष ख्याल रखें। जिलाधिकारी, सीडीओ के अलावा प्रशासनिक व विकास से जुड़े अधिकारियों को भी निर्माण पर हमेशा नजर बनाये रखने को कहा।
विवि परिसर में किया पौधरोपण
डिप्टी सीएम  मौर्य ने विश्वविद्यालय परिसर में निर्माणाधीन भवनों के निरीक्षण के बाद पौधरोपण भी किया। उन्होंने वृक्षारोपण अभियान से जुड़ी जानकारी वन विभाग के अधिकारी से ली। कहा कि पौधे लगाने के साथ उन्हें बचाने के लिए लोगों को जागरूक करें। इस दौरान डिप्टी सीएम विश्वविद्यालय कार्यालय में भी गये और विश्वविद्यालय के विकास पर कुलपति प्रो संजीत कुमार गुप्ता से विस्तार से चर्चा की।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments