Thursday, August 5, 2021
Home Pradesh Uttar Pradesh UP Election 2022: यूपी में खोए जनाधार को वापस पाने के लिए...

UP Election 2022: यूपी में खोए जनाधार को वापस पाने के लिए BSP की ब्राह्मणों को साधने की तैयारी

अयोध्या. उत्तर प्रदेश के 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव में अयोध्या केंद्र में रहेगा, यही वजह है कि भाजपा के साथ ही साथ अन्य पार्टियों ने भी अयोध्या का रुख किया है. कल यानि 23 जुलाई को अयोध्या में बहुजन समाज पार्टी का प्रबुद्ध समाज सम्मेलन आयोजित होगा. उसके पहले स्थानीय स्तर के नेता तैयारियां करने पर जुट गए हैं. बसपा के राष्ट्रीय महासचिव व राज्यसभा सांसद सतीश मिश्रा इस सम्मेलन में प्रमुख रूप से शामिल हो रहे हैं. इसके जरिये बसपा यूपी में चुनावी बिगुल फूंकने जा रही है. साथ ही दलित-ब्राह्मण सोशल इंजीनियरिंग को एक बार फिर से आजमाने की कोशिश करेगी.

सतीश चंद्र मिश्रा सुबह 11 बजे अयोध्या पहुंचेंगे और वहां के तारा जी रिसोर्ट में प्रबुद्ध समाज के लोगों से वार्ता करेंगे. उसके बाद हनुमानगढ़ी और राम जन्म भूमि दर्शन पूजन का कार्यक्रम है. सरयू में दुग्धाभिषेक करेंगे, भोजन समाज पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव व राज्यसभा सांसद सतीश मिश्रा अयोध्या के वरिष्ठ संतो से मुलाकात भी करेंगे. लेकिन इस सब में सबसे अहम होगा कि बसपा अपने खोए हुए जनाधार को ब्राह्मणों के साथ साधने के प्रयास में होगी. इस संपूर्ण कार्यक्रम का उद्देश्य ब्राह्मणों को एकजुट करना है. इसके लिए स्थानीय स्तर के नेता संतों से मुलाकात कर कार्यक्रम को सफल बनाने के प्रयास में हैं. 2022 के चुनाव से पहले यह प्रबुद्ध समाज का सम्मेलन चर्चा का विषय बना हुआ है.

बीएसपी ने ब्राह्मण समाज को हमेशा सम्मान दिया: संयोजक

अयोध्या में प्रबुद्ध समाज सम्मेलन के संयोजक करुणाकर पांडे ने बताया कि बीएसपी के महासचिव सतीशचंद्र मिश्रा जी 23 जुलाई को अयोध्या की पवित्र भूमि पर मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्रीराम का दर्शन करके बजरंग बली का दर्शन करके कार्यक्रम का प्रारंभ करने जा रहे हैं. प्रबुद्ध वर्ग के लोगों से मिलेंगे प्रदेश में हर समाज हर वर्ग के ऊपर ज्यादती हो रही है. अन्याय और अत्याचार हो रहा है, उसके खिलाफ एक बिगुल फूंकने की तैयारी है. पूरे प्रदेश के हर जनपद में जाएंगे लोगों से मिलेंगे लोगों से बात करेंगे. लोगों की समस्याओं से रूबरू होंगे बीएसपी ने ब्राह्मण समाज को हमेशा सम्मान देने का काम किया है. सबसे ज्यादा सम्मान ब्राह्मण समाज को उत्तर प्रदेश के धरती पर राजनीति में दिया है.

प्रबुद्ध वर्ग पर जो अन्याय और अत्याचार हो रहा है. उत्पीड़न हो रहा है अब इससे ज्यादा विकट और क्या हो सकता है. 5 दिन की बेहयता खुशी दुबे को जेल में डाल दिया गया. यह तो तालिबानी सरकार चल रही है. इस तरह से कहीं होता है साथी खुशी दुबे के मामले पर बोलते हुए कहा कि सतीश मिश्रा देश के जाने-माने अधिवक्ता हैं अगर उनके पास परिवार जाएगा तो निश्चित है वह उनका मुकदमा लड़ेंगे और उनके न्याय और इंसाफ के लिए लड़ाई लड़ी जाएगी.

बहन जी हमारी नेता, बाकी सब कार्यकर्ता: प्रबुद्ध वर्ग संयोजक

वहीं अयोध्या में दर्शन पूजन पर कहा कि सतीश मिश्रा भारतीय संस्कृत और सनातन धर्म को मानने वाले व्यक्ति हैं हनुमान जी के चरणों में आ रहे हैं माथा टेकने प्रभु श्री राम के चरणों में माथा टेकने आ रहे हैं. सरयू जी की आरती करने के लिए आ रहे हैं. 1 कुंटल दूध से सरयू जी का दुग्धाभिषेक और आरती करेंगे. अयोध्या के जो संत महंत हैं, उनसे आशीर्वाद लेंगे. वहीं सतीश मिश्रा के साथ बीएसपी का कौन सा बड़ा नेता मंच साझा करेगा. इसका जवाब देते हुए बोले कि हमारी नेता माननीय बहन जी हैं. उसके बाद सभी लोग कार्यकर्ता हैं. माननीय बहन जी के आदेश पर हमारे राष्ट्रीय महासचिव आ रहे हैं.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

2020 से बेहतर हुई यूपी के खजाने की स्थिति, जुलाई में 12655 करोड़ आए : सुरेश खन्ना

प्रदेश में कोरोना संक्रमण पर प्रभावी नियंत्रण का सकारात्मक असर राज्य की आर्थिक गतिविधियों में नजर आने लगा है। चालू वित्तीय वर्ष के...

सदर अस्पताल प्रांगन में ऑक्सीजन प्लांट की भी शुरुआत हो जाएगी: सिविल सर्जन सिविल सर्जन की अध्यक्षता में स्वास्थ्य विभाग की मासिक समीक्षात्मक...

संवाददाता - धर्मेंद्र रस्तोगी बैठक में स्वास्थ्य विभाग के सभी कार्यक्रम की समीक्षा की गई अन्य प्रदेश से आने वाले सभी व्यक्तियों की जांच आवश्यक: किशनगंज, जिले में...

विश्व स्तनपान सप्ताह: स्वास्थ्यकर्मी स्तनपान को लेकर कर रहे जागरूक

संवाददाता - धर्मेंद्र रस्तोगी एनएफएचएस—5 की रिपोर्ट जिला में 42.4 फीसदी शिशु ही कर पाते हैं पहले घंटे में स्तनपान: नियमित स्तनपान से शिशुओं को गंभीर...

कोरोना टीका के महत्व को जाना तो खुद के साथ पूरे परिवार को दिलाया टीका

संवाददाता - धर्मेंद्र रस्तोगी लोगों को जागरूक करने व टीकाकरण को बढ़ावा देने में अखबारों की भूमिका महत्वपूर्ण: जिले में टीकाकरण को गति देने में जागरूकता...

Recent Comments