Thursday, January 20, 2022
HomeUttar Pradeshup assembly chunav 2022: विपक्ष पर अमित शाह का बड़ा हमला, निषादों...

up assembly chunav 2022: विपक्ष पर अमित शाह का बड़ा हमला, निषादों के जरिए पिछड़ों को साधने की कोशिश – Amit Shah’s big attack on the opposition, trying to help the backwards through Nishad Samaj


हाइलाइट्स

  • अमित शाह ने यूपी के चुनावी मैदान में निषादों के माध्यम से पिछड़ों को दिया संदेश
  • विपक्षी पार्टियों की सरकार में पिछड़ों की उपेक्षा का लगाया आरोप
  • पीएम मोदी के नेतृत्व में पिछड़ों के विकास के लिए किए गए कार्यों का किया जिक्र
  • शाह ने अयोध्या व काशी के जरिए पिछड़ों के ध्रुवीकरण पर शुरू किया काम

लखनऊ
केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने लखनऊ में निषाद पार्टी की ओर से आयोजित ‘सरकार बनाओ, अधिकार पाओ’ रैली में विपक्ष को सीधे तौर पर निशाना साधा। निषाद समाज की उपेक्षा का आरोप लगाते हुए उन्होंने समाजवादी पार्टी, बहुजन समाज पार्टी और कांग्रेस पर हमला बोला। शाह ने अपने भाषण की शुरुआत ‘जय श्री राम, जय-जय श्री राम’ से करके यूपी की चुनावी राजनीति की बदल रही करवट के संकेत दे दिए। शाह ने रैली में माफियाओं पर योगी सरकार की ओर से की गई कार्रवाई की तारीफ की। वहीं, भगवान श्रीराम के साथ-साथ उनके दोस्त और परमभक्त निषाद राज का जिक्र कर समाज को साधने का भी प्रयास किया

केंद्रीय गृह मंत्री ने उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 में एक बार फिर भाजपा व एनडीए का 300 के पार सीटें जीतने का लक्ष्य दोहराया। उन्होंने कहा कि कार्यक्रम में पहुंचे लोगों की भीड़ ने साबित कर दिया है कि एक बार फिर प्रदेश में 300 के पार सीटें जीत कर भाजपा की सरकार बनने जा रही है। निषाद पार्टी के डॉ. संजय निषाद का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव में वे भाजपा के साथ आए। कमल संदेश लेकर वे गांव-गांव तक गए और इसका परिणाम यह हुआ कि केंद्र में दो-तिहाई बहुमत से नरेंद्र मोदी सरकार बनी। इसके बाद अयोध्या में प्रभु श्रीराम के भव्य मंदिर का शिलान्यास हुआ।

रामचरित मानस के प्रसंग का किया जिक्र
अमित शाह ने गोस्वामी तुलसीदास के रामचरित मानस के प्रसंग का जिक्र किया। उन्होंने कहा कि गोस्वामी तुलसीदास लिखते हैं, जब निषाद राज ने प्रभु श्रीराम और माता सीता को जमीन पर सोता देखा तो उनके आंखों से आंसू बहने लगे। हमने सालों तक अपने आराध्य श्री राम को तिरपाल के मंदिर में देखा है। सालों तक प्रभु श्री राम का मंदिर बनने से किसने रोका। यह हम सबको मालुम है। लेकिन, जब आपने मोदी जी के नेतृत्व में दो तिहाई बहुमत की सरकार केंद्र में बनाई तो आकाश से भी ऊंचे गगनचुंबी मंदिर की नींव पड़ चुकी है। कुछ ही समय में प्रभु श्रीराम का मंदिर बनकर तैयार हो जाएगी।

दलित पिछड़ों के लिए समर्पित है सरकार
केंद्रीय गृह मंत्री ने केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार को गरीब, दलित और पिछड़ों के लिए समर्पित करार दिया। उन्होंने कहा कि सपा, बसपा और कांग्रेस ने कई सालों तक देश और उत्तर प्रदेश में शासन किया, लेकिन तब गरीब के घर में गैस आया था क्या? हर घर में गैस कनेक्शन किसने दिया? हर घर में शौचालय किसने बनवाया? हर गरीब को घर किसने दिया? हर घर तक पीने का पानी कौन पहुंचा रहा है? हर गरीब के घर में 5 लाख के आयुष्मान कार्ड किसने दिया? ये सभी कार्य पीएम नरेंद्र मोदी की ओर से किए गए। इन कार्यों का लाभ पिछड़े समाज से आने वाले निषाद को भी मिला।

सपा-बसपा पर करारा हमला
अमित शाह ने प्रदेश में पिछले सालों में सरकार में रहने वाली पार्टी सपा और बसपा पर निशाना साधते हुए कहा कि इनकी लगातार अदला-बदली की सरकारें बनी। इसके बाद भी उन्होंने केवल अपनी जाति के लोगों का ही काम किया। निषाद समाज या अन्य पिछड़ी जातियों को इस लाभ से वंचित रखा गया। सभी गरीब और पिछड़ी जातियों का बिना भेदभाव के काम पूरा करने का लक्ष्य मोदी का था और उन्होंने इसे पूरा किया। वर्षों से मांग चल रही थी कि एक अलग मंत्रालय बनाया जाए। वर्ष 2019 के चुनाव में साध्वी निरंजन ज्योति और संजय निषाद ने पीएम मोदी के समक्ष मांग उठाई थी, उसे उन्होंने पूरा कराया है।

पिछड़ा वर्ग आयोग का भी उठाया मामला
अमित शाह ने पिछड़ा वर्ग आयोग के संवैधानिक दर्जा दिए जाने का मामला भी उठाया। उन्होंने कहा कि सपा और बसपा खुद को पिछड़ा वर्ग के हित में काम करने वाली पार्टी कहती है। वर्षों तक उन्होंने कांग्रेस को केंद्र में समर्थन दिया, लेकिन पिछड़ा वर्ग आयोग को संवैधानिक दर्जा नहीं दिलवा पाए। यह कार्य पीएम नरेंद्र मोदी ने किया। वर्ष 2014 में ही पीएम मोदी ने सरकार बनने के बाद यह फैसला किया। विपक्ष पर हमला करते हुए उन्होंने कहा कि जातियों में समाज को बांटकर उन्होंने घर भरने का कार्य किया। मोदी जी ‘सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास’ के विजन के साथ आगे बढ़ रहे हैं। शाह ने कहा कि यूपी में बनने वाली अगली एनडीए सरकार निषाद समाज की तमाम मांगों को पूरा करने का कार्य करेगी।

योगी सरकार की थपथपाई पीठ
निषाद समाज के कार्यक्रम में केंद्रीय गृह मंत्री ने कानून व्यवस्था को लेकर सीएम योगी आदित्यनाथ की पीठ थपथपाई। उन्होंने कहा कि सीएम योगी ने प्रदेश में माफियाओं और गुंडों को उखाड़ फेंकने का काम किया है। कानून के राज में ही गरीबों का विकास होता है। विपक्ष पर हमला करते हुए उन्होंने कहा में प्रदेश की पूर्व की बुआ-भतीजे की सरकारें माफियाओं का संरक्षण करती थी। योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व वाली सरकार के काल में सारे माफिया-गुंडे प्रदेश छोड़कर पलायन कर गए। शाह ने कहा, कोरोना काल में योगी आदित्यनाथ का प्रबंधन शानदार रहा। पूरा देश यूपी की तरफ देख रहा था। सीएम योगी ने बेहतर काम किया।

काशी कॉरिडोर का भी किया जिक्र
अमित शाह ने कहा कि आपने पिछले दिनों देखा होगा, काशी में बाबा विश्वनाथ के धाम को सजाने का काम पीएम नरेंद्र मोदी जी ने किया है। एक तरफ अयोध्या में भगवान श्री राम का मंदिर बनने जा रहा है। वहीं, दुनिया में प्रसिद्ध बाबा विश्वनाथ को एक बार फिर अपनी भव्यता वापस दिलाने का कार्य किया गया है। शाह ने उपस्थित लोगों को 300 सीटें जीतने की लड़ाई लड़ने, सपा-बसपा का सूपड़ा साफ करने और कांग्रेस का खाता न खुलने देने का संकल्प दिलाया।

लखनऊ में अमित शाह ने विरोधियों पर साधा निशाना



Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments