Wednesday, December 7, 2022
HomeUttar PradeshUP में सड़कों में गड्ढे हैं या गड्ढों में सड़क... 5 साल...

UP में सड़कों में गड्ढे हैं या गड्ढों में सड़क… 5 साल से केवल तारीख पर तारीख दे रहे CM योगी, जमकर बरसे अखिलेश – akhilesh yadav showered on cm yogis pit free campaign said giving date on date for last 5 years

लखनऊ:समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव योगी सरकार पर जुबानी हमले का कोई मौका नहीं छोड़ते है। रविवार को सपा मुखिया ने योगी सरकार के गड्ढामुक्त अभियान पर जोरदार हमला बोल दिया है। उन्होंने कहा मुख्यमंत्री जी पिछले 5 साल से सत्ता में है तब से प्रदेश में गड्ढे भरने की तारीख पर तारीख दे रहे है पर अब तक कुछ नहीं हुआ। ना ही कोई उनकी सुनता है और ना कोई उनपर अमल करता है।

अखिलेश ने कहा बीजेपी सरकार की गड्ढा मुक्त करने की योजना भ्रष्टाचार की योजना मात्र है। साथ ही उन्होंने कहा गड्ढे भरने के लिए कई बार हजारों करोड़ रूपये का बजट तो जारी हुआ पर बंदरबांट में इसकी धनराशि किस गड्ढे में चली गई, इसकी निष्पक्ष जांच से ही शायद कभी पता लग सकेगा।

सड़कों में गड्ढे हैं या गड्ढों में सड़कें- अखिलेश का तंज
अखिलेश ने कहा बीजेपी सरकार में यह पता लगाना मुश्किल है कि सड़कों में गड्ढे हैं या गड्ढों में सड़कें हैं। सड़कों की बदहाली में भी यूपी अव्वल हो गया है। खुद सरकारी आंकड़े बताते हैं कि उत्तर प्रदेश में सर्वाधिक सड़क दुर्घटनाएं होती है और सैकड़ों लोगों की जाने चली जाती हैं। उन्होंने कहा बीजेपी सरकार में गड्ढामुक्त सड़कों का हो हल्ला कई बार मचा लेकिन नतीजा कुछ नहीं निकला। उल्टे विभागीय मंत्री जी ही बदल गए। फिर मुख्यमंत्री जी ने इसकी कमान संभाली और एक नए मंत्री जी ने भी कई बार घोषणाएं कर गड्ढा मुक्त सड़कें होने की 15 नवम्बर 2022 अंतिम तिथि बताई। लक्ष्य से कोसों दूर सिर्फ और सिर्फ झूठी बयानबाजी से ही बीजेपी सरकार काम चलाने का जौहर दिखा रही है।

ऊपर से नीचे तक भ्रष्टाचार और लूट मची- सपा मुखिया
सपा मुखिया ने बीजेपी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि बीजेपी सरकार में ऊपर से नीचे तक भ्रष्टाचार और लूट मची है। पुल और सड़कों के निर्माण में मानकों को ताक पर रखकर काम करने का नतीजा है कि सड़कें बनते ही टूटने लगती है। उन्होंने रविवार को बयान जारी करते हुए बताया कि पिछले दिनों पीडब्लूडी मंत्री जी के खुरचते ही कानपुर में 34 करोड़ की लागत से बनी सड़क की लेबल उखड़ गई और मिट्टी निकल आई। ऐसी घटनाएं और भी सामने आई है। वर्ष 2017 में सोनभद्र में 22 सड़कें गड्ढा मुक्त करने के नाम पर 2.25 करोड़ रूपए हड़प लिए गए।

विक्रमादित्य मार्ग की दशा बहुत खराब- अखिलेश
सूबे के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव यहीं नहीं रुके, उन्होंने कहा राजधानी लखनऊ क्षेत्र की सड़कों के गड्ढे भी बीजेपी राज का नायाब तोहफा है। उन्होंने कहा लखनऊ में राजभवन और मुख्यमंत्री आवास के पास ही विक्रमादित्य मार्ग की दशा इतनी खराब है कि वहां कभी न कभी गाड़ियां दुर्घटनाग्रस्त हो सकती है। सपा मुखिया ने कहा इसी सड़क पर लोरेटों स्कूल भी है, और उच्च न्यायालय के माननीय न्यायाधीशों के आवास भी हैं। साथ ही कहा बीजेपी राज में जहां हर स्तर पर निर्माणकार्यों में घोटाला हुआ है वहीं सपा सरकार में बना पुल और एक्सप्रेस-वे अपनी गुणवत्ता की वजह से आज भी उदाहरण बना हुआ हैं। आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे का निर्माण सिर्फ 21 महीने में मानकों के अनुसार हुआ इस वजह से उस पर वायुसेना के युद्धक और माल वाहक विमान भी उतर सके।
रिपोर्ट- अभय सिंह, लखनऊ


Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments