Tuesday, January 18, 2022
HomeIndiaSorry Bhaaisaab Short film review: 'द फैमिली मैन' के जेके बनें मिडिल...

Sorry Bhaaisaab Short film review: ‘द फैमिली मैन’ के जेके बनें मिडिल क्लास ‘फैमिली मैन’, गौहर बनीं मिसेज गुप्ता


Sorry Bhaaisaab Short film review- India TV Hindi
Image Source : AMAZON
Sorry Bhaaisaab Short film review

मुंबई: अमेजन ने प्राइम वीडियो के बाद एक नई शुरुआत की है, जहां अमेजन प्राइम वीडियो में आपको कॉन्टेंट पेड सब्सक्रिप्शन के साथ देखना होता है, वहीं अब आप अमेजन शॉपिंग एप में फ्री में कई कॉन्टेंट देख सकते हैं। अमेजन शॉपिंग एप में अमेजन मिनी टीवी का ऑप्शन आता है और खास बात ये है कि ये सिर्फ एन्ड्रॉइड उपभोक्ताओं के लिए इसी प्लेटफॉर्म पर गौहर खान और शारिब हाशमी की शॉर्ट फिल्म रिलीज हुई है, नाम है- सॉरी भाईसाहब। इस फिल्म में एक मिडिल क्लास कपल की कहानी है। पति-पत्नी के साथ एक 7-8 साल की बेटी भी है। 

फिल्म में मिडिल क्लास फैमिली की स्ट्रगल दिखाई गई है। जहां पत्नी को नई गाड़ी चाहिए क्योंकि वो पुरानी गाड़ी से परेशान हो चुकी है। वहीं पति को नई गाड़ी लेने में परेशानी नहीं है लेकिन वो दिवाली तक वेट करना चाहता है क्योंकि उसे और भी तमाम खर्चे देखने होते हैं। लेकिन फिल्म में ट्विस्ट तब आता है जब दोनों की ये गाड़ी चोरी हो जाती है। मिडिल क्लास परिवार जहां पैसे सोच समझकर खर्च करने होते हैं, वहां पुरानी गाड़ी जाने का भी बहुत अफसोस होता है मिस्टर गुप्ता को। मगर मिसेज गुप्ता खुश हैं क्योंकि उन्हें इस खटारा से छुटकारा मिलता है। 

आप सोच रहे होंगे इसमें क्या खास है, लेकिन 20 मिनट की कहानी में कुछ ऐसा होता है जो आपको हैरान कर देगा। क्योंकि फिल्म में सस्पेंस भी है और ट्विस्ट भी और वो क्या है इसके लिए तो आपको ये शॉर्ट फिल्म देखनी होगी।

जहां तक अभिनय की बात है गौहर और शारिब दोनों ही मंझे हुए कलाकार हैं, शारिब को फैमिली मैन, असुर और स्कैम 1992 जैसी सीरीज में सीरियस रोल में देखा है और उन्हें इस कॉमेडी फिल्म में बेचारे पति का रोल करते देखना अलग अनुभव रहा। यही अच्छे कलाकार की निशानी होती है कि वो जिस भी रोल में होता है उसी में ढल जाता है। इस कि

इस फिल्म में उनका नेचुरल अभिनय आपको हैरान करेगा। गौहर खान मिसेज गुप्ता की नब्ज पकड़ लेती हैं, इसलिए वो इस किरदार में पूरी तरह से ढल गई हैं। हालांकि शारिब के सामने वो थोड़ी फीकी लगी हैं। जहां तक स्क्रीनप्ले की बात है,स्क्रिप्ट थोड़ी और बेहतर की जा सकती थी। गौहर का किरदार ठीक से एक्सप्लोर नहीं किया गया, उनके रोल में और भी संभावनाएं दिख रही थीं। 

जहां तक फिल्म की बात है ये एक मजेदार फिल्म है और इसमें कई ट्विस्ट आएंगे जो आपको गुदगुदाएंगे।मैं जरूर आपको ये फिल्म रिकमेंड करूंगी। फ्री में ये फिल्म उपलब्ध है और आप दिन के 20 मिनट निकालकर ये फिल्म जरूर देखिए, आपका मूड फ्रेश हो जाएगा।

Related Video





Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments