Friday, May 27, 2022
HomeUttar PradeshSir Syed Ahmad Day: AMU के संस्थापक सर सैयद अहमद खान का...

Sir Syed Ahmad Day: AMU के संस्थापक सर सैयद अहमद खान का गाजीपुर कनेक्शन, बालिका शिक्षा के लिए स्थापित की थी इंडियन साइंटिफिक सोसाइटी – ghazipur connection of sir syed ahmad khan founder of aligarh muslim university


अमितेश कुमार सिंह, गाजीपुर
अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के संस्थापक सैयद अहमद खान का जन्म 17 अक्टूबर को हुआ था। इस दिन को सर सैयद अहमद डे रूप में भी मनाया जाता है। सर सैयद अहमद खान ग़ाज़ीपुर में 1862 से 1864 तक जिला जज के रूप में कार्यरत रहे थे। इस दैरान उन्होंने साइंटिफिक सोसाइटी का स्थापना की थी। साथ ही उन्होंने विक्टोरिया स्कूल को भी स्थापित किया था। कालांतर में यह दोनों संस्थाएं अपना वजूद खो बैठी हैं।

आधुनिक शिक्षा के हिमायती थे सर सैयद
सर सैयद ने गाजीपुर में रहते हुए बालिका शिक्षा और मुस्लिम समुदाय को आधुनिक शिक्षा दिलाने के लिए इंडियन साइंटिफिक सोसाइटी की स्थापना की थी। इस सोसाइटी के जरिए उन्होंने वैज्ञानिक किताबों का हिंदी, उर्दू एवं अंग्रेजी तीनों भाषाओं में प्रकाशन शुरू करवाया। इसके साथ ही उन्होंने अरबी, फारसी की किताबों का अंग्रेजी में भी ट्रांसलेशन करवाया। भारत में वैज्ञानिक शिक्षा के प्रचार-प्रसार में सर सैयद की महती भूमिका रही है। सर सैयद ने गाजीपुर में अपनी नौकरी के दौरान विक्टोरिया स्कूल की स्थापना की। जिसमें अंग्रेजी, फारसी, उर्दू आदि की पढ़ाई होती थी।

साइंटिफिक सोसायटी का अब कोई उपयोग नहीं
गाजीपुर इलाके के महुआबाग के जिस भवन में साइंटिफिक सोसाइटी को शुरू किया गया था। आज की तारीख में यह भवन राजकीय बालिका इंटर कॉलेज परिसर में स्थित है। भवन बुरी तरह से टूटने के बाद निष्प्रयोज्य पड़ा हुआ है।

गाजीपुरः युवक की पिटाई की उड़ी अफवाह, गुस्साए ग्रामीणों ने थाने पर बोला हमला, एसएचओ का सिर फूटा
प्रगतिशील लेखक संघ के पूर्व अध्यक्ष डॉ. पीएन सिंह ने एनबीटी ऑनलाइन को बताया कि देश को अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी देने वाले सैयद अहमद खान के सामाजिक परिवर्तन के लिए किए गए उनके योगदानों को ग़ाज़ीपुर शहर याद नहीं रख पाया। उनसे जुड़े धरोहरों को महफूज रखा जाना चाहिए था। यहां तक की शहर में सर सैयद अहमद डे के दिन कुछ आयोजन अकलियत संस्थाओं की ओर की आयोजित होती हैं, लेकिन मुख्यालय पर सामूहिक रूप से किसी बड़े आयोजन का नहीं होना खलता है।



Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments