Thursday, June 30, 2022
HomeUttar Pradeshpriyanka gandhi varanasi rally: lakhimpur incident boost congress workers for pratigya rally...

priyanka gandhi varanasi rally: lakhimpur incident boost congress workers for pratigya rally लखीमपुर की घटना ने कांग्रेसियों में भरा जोश, प्रियंका की रैली में 1 लाख की भीड़ जुटाने का दावा


अभिषेक कुमार झा, वाराणसी
यूपी विधान सभा चुनाव को लेकर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाराणसी में प्रतिज्ञा रैली करने वाली हैं। 10 अक्टूबर को रोहनिया विधान सभा के जगतपुर डिग्री कॉलेज मैदान में रैली होगी। इसे सफल बनाने के लिए वाराणसी के साथ आसपास के जिलों के पदाधिकारियों को भी भीड़ जुटाने का निर्देश दिया गया है। लखीमपुर हिंसा के बाद जिस तरह प्रियंका गांधी ने सक्रियता दिखाई है, उससे कांग्रेस कार्यकर्ताओं में जबरदस्‍त उत्‍साह देखा जा रहा है। वे उत्‍तर प्रदेश में कांग्रेस के लिए इसे एक बड़ी घटना के रूप में देख रहे हैं।

लखीमपुर में 4 किसानों की मौत के बाद प्रियंका गांधी समेत विपक्ष को भाजपा को घेरने के लिए एक बड़ा मुद्दा मिल गया था। देश के सभी विपक्षी नेता लखीमपुर में मृतक के परिजनों से मिलने के लिए जाना चाहते थे, लेकिन सबसे ज्यादा चर्चा में प्रियंका गांधी ही रही हैं। प्रियंका गांधी को लखीमपुर जाने के क्रम में सीतापुर पीएसी गेस्ट हाउस में 60 घंटे तक हिरासत में रखा गया। इसके बाद राहुल गांधी समेत भूपेश बघेल, चरणप्रीत सिंह चन्नी, सचिन पायलट समेत बड़े नेताओं ने एक साथ यूपी की सियासत में अपनी धमक दिखाई। इसके बाद बैकफुट पर आई यूपी सरकार ने कांग्रेस के नेताओं को लखीमपुर जाने की इजाजत दी।

1 लाख की भीड़ जुटाने का है लक्ष्य
कांग्रेस नेता अजय राय ने एनबीटी ऑनलाइन को बताया की प्रियंका गांधी की प्रतिज्ञा रैली ऐतिहासिक होगी। सभी कांग्रेस के पदाधिकारियों ने मिलकर करीब 1 लाख की भीड़ जुटाने का लक्ष्य रखा है। जगतपुर डिग्री कॉलेज में वाराणसी के साथ आसपास के जिले मिर्जापुर, सोनभद्र ,चंदौली, भदोही समेत कई जिलों से कार्यकर्ता और समर्थक आएंगे। सोनभद्र के उम्भा गांव से लेकर हाथरस, उन्नाव, गोरखपुर समेत सभी घटनाओं में प्रियंका गांधी ने हक की लड़ाई लड़ी और प्रदेश की सरकार को घुटनों पर ला दिया है। इस बार 2022 के विधान सभा चुनावों में जनता निश्चित रूप से कांग्रेस को जीत दिलाएगी।

प्रियंका संग भूपेश बघेल और चन्नी भी होंगे रैली में
पंजाब के पहले सिख दलित मुख्‍यमंत्री बने चरनजीत सिंह चन्नी और छतीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल भी प्रियंका गांधी के साथ मंच पर होंगे। कांग्रेस के सभी वरिष्ठ नेता और पदाधिकारी रैली को सफल बनाने में जुटे हुए हैं। ये लोग कमलापति त्रिपाठी के चौथे पीढ़ी के नेता ललितेशपति त्रिपाठी के पार्टी छोड़ने को कोई बड़ी घटना नही मान रहे है और कह रहे हैं कि किसी के जाने से संगठन पर कोई फर्क नहीं पड़ेगा।



Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments