Sunday, November 29, 2020
Home Pradesh Bihar भगवान श्री राम के मंदिर निर्माण के खुशी में नालंदा में राष्ट्र...

भगवान श्री राम के मंदिर निर्माण के खुशी में नालंदा में राष्ट्र रक्षा यज्ञ का आयोजन

लोगों की आस्था की हुई जीत भगवान श्री रामचन्द्र जी के मंदिर निर्माण हेतु प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र दामोदरदास मोदी ने रखा नींव

सह संपादक – धर्म प्रकाश रूद्र

बिहार/नालन्दा:अयोध्या में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के द्वारा श्री राम मंदिर निर्माण की नींव मध्याह 12 बजकर 44 मिनट 8 सेकेंड से लेकर 12 बजकर 44 मिनट 40 सेकेंड के बीच रखी गई । 32 सेकंड का समय ग्रहों और नक्षत्र का बहुत ही शुभ योग माना गया है. पीएम मोदी ने मंदिर की नींव खोदने के लिए चांदी के फावड़े का इस्तेमाल किया. बताते चलें कि पीएम मोदी ने नींव की ईंट पर सीमेंट लगाने के लिए चांदी की कन्नी का भी प्रयोग किया. आपको बता दें कि रामलला को हरे और भगवा रंग के वस्त्र पहनाए गए. रामलला के वस्त्र मखमल के कपड़े से बनाए गए हैं. इन वस्त्रों खास तौर पर 9 तरह के रत्नों को लगाया गया है.

जैसा कि सभी को ज्ञात है कि राम मंदिर निर्माण को लेकर कई बलिदान दिए गए । कई लोगों ने अपनी जान न्योछावर कर दिया कितने ही लोग कई सालों तक भगवान श्री राम के लिए एड़ी चोटी एक करके मंदिर बनाने की मांग को लेकर डटे रहे और अंततः आज यह सपना पूरा हुआ और हिंदुओं की आस्था की जीत हुई इस जीत की खुशी पूरे भारतवर्ष में देखी जा रही।
वहीं इस मौके पर नालंदा में भी लोगों ने पूजा पाठ करके एक दूसरे को मिठाईयां बांटा और प्रभु श्री राम जी के मंदिर बनने की खुशी में लोग एक दूसरे के साथ जश्न भी मनाते दिखे ।

i7news sri ram
आप सभी देशवासियों i7 न्यूज की तरफ से प्रभु श्री राम जन्मभूमि मन्दिर निर्माण की हार्दिक शुभकामनाएं

खबर नालन्दा के बिहार श्री से है जहां राष्ट्र रक्षा यज्ञ का आयोजन किया गया जिसमें मुख्य यजमान के रूप में राजा श्री कैलाश डोम एवं उनकी पत्नी श्रीमती किरण देवी के देखरेख में राष्ट्र रक्षा यज्ञ संपन्न हुआ।
इस में मुख्य तौर पर संघ के प्रांत सह बौद्धिक प्रमुख श्री उपेंद्र भाई त्यागी जी सम्मिलित हुए इस मौके पर बजरंग दल के जिला संयोजक गौरव कुमार एवं संघ के शिवम कुमार, भाजयुमो आईटी सेल जिला अध्यक्ष धीरज पाठक, अशोक सोनू ,प्रशांत, विक्रांत अमरेश, अजीत इत्यादि लोगों ने अपनी उपस्थिति दर्ज कराई । देखा जाए तो अलग – अलग राज्यों में जिलों में लोग अपने – अपने तरीके से खुशियां मना रहे हैं लेकिन लोगों की माने तो उनका कहना है जो मंदिर की लड़ाई थी वह केवल मंदिर बनाने की ही लड़ाई नहीं थी बल्कि की आस्था और धर्म की भी लड़ाई थी। आज लोगों ने कहा की मंदिर की नींव रखी जाने से न केवल हिंदुत्व को मजबूती मिली है बल्कि लोगों के आस्था को भी बल मिला है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

असदुद्दीन ओवैसी ने हैदराबाद का नाम बदलने के लिए कहा – योगी आदित्यनाथ के हैदराबाद का नाम बदलने के बयान पर असदुद्दीन ओवैसी का...

हैदराबाद: योगी आदित्यनाथ पर असदुद्दीन ओवैसी: हैदराबाद नगर निकाय चुनाव में बीजेपी के मैराथन प्रचार अभियान के दौरान योगी आदित्यनाथ द्वारा हैदराबाद का...

Q2 GDP: अर्थव्यवस्था में सुधार के बीच बुनियादी उद्योगों की कठिनाइयाँ

देश की अर्थव्यवस्था में सुधार के संकेतों के बीच बुनियादी क्षेत्रों के प्रमुख उद्योगों का उत्पादन इस बार अक्टूबर महीने में एक साल...

Recent Comments