Thursday, August 18, 2022
HomeIndiaMonkeypox News: मंकीपॉक्स पीड़ितों के लिए दिल्ली के एक हॉस्पिटल में बनाया...

Monkeypox News: मंकीपॉक्स पीड़ितों के लिए दिल्ली के एक हॉस्पिटल में बनाया गया अलग वार्ड


Image Source : INDIA TV
Monkeypox

Highlights

  • LNJP हॉस्पिटल में मंकीपॉक्स से पीड़ित मरीजों के लिए अलग वार्ड बनाया गया है
  • दिल्ली के सीएम केजरीवाल ने लोगों से कहा कि उन्हें घबराने की जरूरत नहीं है, स्थिति कंट्रोल में है
  • “हमारी सबसे अच्छी टीम इस संक्रमण को फैलने से रोकने और दिल्लीवासियों की सुरक्षा में जुटी है”

Monkeypox News: केरल के बाद मंकीपॉक्स ने अब दिल्ली में भी पैर पसारने शुरू कर दिए हैं। इसी सिलसिले में दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने रविवार को कहा कि दिल्ली के लोक नायक जय प्रकाश अस्पताल (LNJP) में मंकीपॉक्स से पीड़ित मरीजों के लिए अलग वार्ड बनाया गया है। राष्ट्रीय राजधानी में एक 34 वर्षीय एक व्यक्ति में मंकीपॉक्स के होने का मामला सामने आया है, जबकि उसकी कोई ट्रवल हिस्ट्री भी नहीं है। केजरीवाल ने लोगों से कहा कि उन्हें घबराने की जरूरत नहीं है। उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘मरीज की हालत स्थिर है और वह ठीक हो रहा है। घबराने की जरूरत नहीं है। स्थिति नियंत्रण में है। हमने LNJP में एक आइसोलेशन वार्ड बनाया है। हमारी सबसे अच्छी टीम इस संक्रमण को फैलने से रोकने और दिल्लीवासियों की सुरक्षा में जुटी है।’’ 

मंकीपॉक्स को WHO ने ग्लोबल पब्लिक हेल्थ इमरजेंसी किया घोषित

मंकीपॉक्स का भारत में यह चौथा मामला है, इससे पहले के तीन मामले केरल से सामने आए थे। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने शनिवार को मंकीपॉक्स को अंतरराष्ट्रीय चिंता का विषय बताते हुए ग्लोबल पब्लिक हेल्थ इमरजेंसी घोषित किया था। अभी तक 68 देशों को मंकीपॉक्स अपनी जद में ले चुका है। हमारे देश में भी केरल में मंकीपॉक्स ने दस्तक दे दी है। वैश्विक स्तर पर 75 देशों से मंकीपॉक्स के 16,000 से ज्यादा मामले सामने आए हैं और इसके कारण अब तक पांच लोगों की मौत हो चुकी है। यह किस गति से फैल रहा है इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि पिछले माह मंकीपॉक्स 47 देशों में फैला था। इन देशों में 3040 केस थे, लेकिन अब यह 68 देशों में फैल चुका है।

मई माह के बाद उन देशों में भी फैला, जहां इसका नामोनिशान नहीं थाः WHO

WHO प्रमुख टेड्रोस एडनॉम घेब्रेयसस ने बताया कि अभी तक मंकीपॉक्स के 16 हजार से अधिक मामले सामने आ चुके हैं। वायरस के दशकों तक अफ्रीकी महाद्वीप तक सीमित रहने के बाद मई से यह उन देशों में भी पहुंचने लगा है जहां इसका नामोनिशान नहीं था। उऩ्होंने कहा कि इसका ट्रांसमिशन नए-नए तरीकों के जरिए हो रहा है। जिसके बारे में हमे बहुत कम जानकारी है। इसी को ध्यान में रहते हुए संगठन ने मंकीपॉक्स को पब्लिक हेल्थ इमरजेंसी घोषित करने का फैसला किया है।

 

Latest India News





Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments