Wednesday, December 7, 2022
HomeUttar PradeshLiquor Ban Demand in UP: यूपी जदयू की महिला विंग की अध्यक्ष...

Liquor Ban Demand in UP: यूपी जदयू की महिला विंग की अध्यक्ष शालिनी सिंह पटेल ने बांदा में शराबबंदी की मुहिम चलाई योगी सरकार से प्रदेश में बिहार की तर्ज पर शराब बैन करने की मांग की गई

बांदा: उत्तर प्रदेश में भी बिहार की तर्ज पर शराबबंदी की मांग जोर पकड़ने लगी है। इस बार कवायद जदयू की ओर से शुरू की गई है। जदयू की महिला विंग की प्रदेश अध्यक्ष की ओर से लोगों के बीच बिहार की तर्ज पर शराबबंदी की मांग को रखने की कोशिश की जा रही है। दरअसल, शराब के कारण अनेक घर उजड़ रहे हैं हैं। शराब के नशे की गिरफ्त में लोग अपना सब कुछ बेच कर मौत को गले लगा लेते हैं। शराब से हो रही तबाही को रोकने के लिए बिहार में जदयू के नेतृत्व वाली नीतीश कुमार सरकार ने शराबबंदी कर रखी है। यूपी में भी शराबबंदी को लेकर कई बार आंदोलन हुए, लेकिन बेअसर रहे। इस बार जदयू की प्रदेश अध्यक्ष शालिनी सिंह पटेल ने इस मुहिम को आगे बढ़ाते हुए न सिर्फ गांव- गांव में अलख जगाना शुरू किया, बल्कि इसके खिलाफ जन आंदोलन शुरू कर दिया है।

जदयू की महिला विंग की प्रदेश अध्यक्ष शालिनी सिंह पटेल पिछले कई महीनों से शराबबंदी को लेकर गांव गांव में महिलाओं को जागरूक कर रही है। इसी मुहिम के तहत शालिनी सिंह पटेल शनिवार की शाम नरैनी तहसील के मुरवां गांव पहुंची। यहां उनके साथ पार्टी के सदस्य रविंद्र कुमार उर्फ गोल्डन भी मौजूद थे। उन्होंने गांव में ही एक बैठक के जरिए महिलाओं को शराब के खिलाफ एकजुट होने का आह्वान किया। वहीं, पुरुषों को भी शराब छोड़ने के लिए समझाया। इस दौरान बड़ी संख्या में गांव के बच्चे भी एकत्र हुए। उन्होंने शराबबंदी के लिए शुरू की गई मुहिम का समर्थन किया। कुछ बच्चों ने शराब के कारण अपने घर में हो रही कलह के बारे में भी बताया। वहीं, कुछ बच्चों ने यह भी बताया कि शराब के कारण ही उनकी पढ़ाई नहीं हो पा रही है।

सभा के बाद गांव में जन जागरण अभियान चलाया गया। इस दौरान बच्चे नारे लगा रहे थे ‘दारू बंद कराना है, शिक्षा की क्रांति लाना है। दारू बंद कराना है, महिलाओं ने ठाना है।’ इस तरह के नारे लगाते हुए बच्चे और महिलाएं गांव की गली गली से गुजरे। कारवां बढ़ता चला गया। इन्होंने यह जन जागरण अभियान शराब के ठेके के सामने ही चलाया। इस मौके पर जदयू की महिला प्रदेश अध्यक्ष शालिनी सिंह पटेल ने कहा कि शराब पीने के कारण बड़ी संख्या में दुर्घटनाएं हो रही हैं, जिससे महिलाओं की मांग उजड़ जाती हैं। इसी तरह शराब पीने के आदि लोग शराब न मिलने पर लोगों से कर्ज लेते हैं। कर्ज अदा न करने पर मौत को गले लगाने के लिए मजबूर हो जाते हैं।

जदयू नेता ने कहा कि इसमें भी महिलाओं का सुहाग उजड़ जाता है। अब समय आ गया है महिलाओं को शराबबंदी के खिलाफ डटकर मुकाबला करना है। उन्होंने उत्तर प्रदेश की योगी सरकार से मांग की है कि जिस तरह बिहार में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शराबबंदी की है उसी तरह से यूपी में भी शराबबंदी की जानी चाहिए।


Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments