Friday, May 27, 2022
HomeUttar Pradeshlakhimpur kheri incident jeep: Lakhimpur Kheri case: Mahindra Thar was not registered...

lakhimpur kheri incident jeep: Lakhimpur Kheri case: Mahindra Thar was not registered which was run over on farmers: लखीमपुर खीरी में किसानों को कुचलने वाली जीप का नहीं था बीमा, केंद्रीय मंत्री के नाम पर था रजिस्ट्रेशन


हाइलाइट्स

  • लखीमपुर खीरी कांड में जिस गाड़ी से कुचलकर किसानों की दर्दनाक मौत हुई थी उसका बीमा ही नहीं था
  • परिवहन ऐप के पब्लिक डोमेन में दी गई जानकारी से सामने आई बात, अजय मिश्रा के नाम रजिस्टर्ड है जीप
  • मंत्री अजय मिश्रा टेनी के बेटे आशीष मिश्रा के खिलाफ जो एफआईआर हुई है उसमें भी इस गाड़ी का जिक्र है

लखीमपुर खीरी
लखीमपुर खीरी कांड में जिस गाड़ी से कुचलकर किसानों की दर्दनाक मौत हुई थी उसका बीमा ही नहीं था। इस गाड़ी का रजिस्ट्रेशन केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय कुमार मिश्र टेनी के नाम से है। परिवहन ऐप के पब्लिक डोमेन में उपलब्ध जानकारी से यह बात सामने आई है। मंत्री के बेटे आशीष मिश्रा के खिलाफ जो एफआईआर हुई है उसमें भी इस गाड़ी का जिक्र है। उधर, लखीमपुर खीरी पुलिस लाइन में आज आशीष मिश्रा पूछताछ के लिए पेश हो सकता है।

परिवहन ऐप में उपलब्ध जानकारी के अनुसार, बीते 3 अक्टूबर को तिकुनिया में जिस महिंद्रा थार UP31 AS 1000 से कथित तौर पर किसानों को कुचला गया था उस गाड़ी का पंजीकरण केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय कुमार मिश्र टेनी के नाम से है। यह पंजीकरण 14 जुलाई 2017 को हुआ था। परिवहन विभाग की वेबसाइट के मुताबिक जिस गाड़ी से हादसा हुआ है उस गाड़ी का बीमा 13 जुलाई 2018 को खत्म हो गया था।

मुआवजा देने की जिम्मेदारी वाहन मालिक की
पंजीकरण के दिन बीमा न्यू इंडिया इंश्योरेंस कम्पनी ने किया था, जो एक वर्ष के लिए था। एआरटीओ आलोक सिंह ने बताया की वह जली कार का निरीक्षण जल्द करेंगे। उन्होंने बताया कि अगर वाहन में बीमा नहीं होता है तो गाड़ी से दुर्घटना की स्थिति में मुआवजा देने की जिम्मेदारी वाहन मालिक की होती है। वहीं इस मामले को लेकर गाड़ी मालिक से घटना के पांच दिन बाद भी कोई पूछताछ नहीं की गई है।

इसी गाड़ी में बैठकर फायरिंग करने का आरोप
आशीष मिश्रा के खिलाफ एफआईआर में भी इसी महिंद्रा थार जीप का जिक्र है। इसमें लिखा है कि आशीष मिश्रा अपनी थार महिंद्रा गाड़ी में बांयी सीट पर बैठकर फायरिंग करता हुए भीड़ को रौंदकर आगे बढ़ा। फायरिंग के कारण किसान गुरविंदर सिंह (22) की मौत हो गई। तेज गति से आती जीप ने सड़क के दोनों तरफ खड़े किसानों को दरिंदगी पूर्वक रौंद दिया। महिंद्रा थार के अलावा घटना वाले दिन फॉर्च्युनर (UP32KM0036) और एक अज्ञात वाहन (स्कॉर्पियो महिंद्रा गाड़ी) का भी इस्तेमाल हुआ था।

अजय मिश्रा टेनी का बेटा आशीष मिश्रा (दाएं)



Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments