Friday, December 9, 2022
HomeUttar Pradeshlakhimpur kheri incident accused: Lakhimpur Kheri Incident: Lakhimpur Kheri incident accused Aashish...

lakhimpur kheri incident accused: Lakhimpur Kheri Incident: Lakhimpur Kheri incident accused Aashish Mishra to be questioned by Police: लखीमपुर कांड में मंत्री के बेटे आशीष मिश्रा का क्या होगा? पूछताछ की तैयारी में पुलिस

हाइलाइट्स

  • लखीमपुर खीरी हिंसा मामले में केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा टेनी के बेटे आशीष मिश्रा की भूमिका संदिग्ध
  • आशीष मिश्रा मोनू के खिलाफ एफआईआर भी दर्ज, अब पुलिस उनसे पूछताछ की तैयारी कर रही है
  • आशीष मिश्रा पर आरोप है कि वह उसी जीप में मौजूद थे जिसने घटनास्थल पर किसानों को कुचला

लखनऊ
लखीमपुर खीरी हिंसा मामले में केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा टेनी के बेटे आशीष मिश्रा की भूमिका संदिग्ध है। उनके खिलाफ एफआईआर भी दर्ज हो चुकी है और पुलिस उनसे पूछताछ की तैयारी कर रही है। अजय मिश्रा के खिलाफ आईपीसी की धारा 302 के तहत हत्या का केस दर्ज किया गया है। आशीष मिश्रा पर आरोप है कि वह उसी जीप में मौजूद थे जिसने किसानों को कुचला। साथ ही आशीष पर गोलियां चलाने का भी आरोप है।

एक टीवी न्यूज चैनल से बातचीत में लखनऊ आईजी लक्ष्मी सिंह ने बताया, ‘लखीमपुर खीरी हिंसा में दो एफआईआर हुई हैं। दूसरी एफआईआर में किसी को नामजद नहीं किया गया है।’ आशीष मिश्रा से पूछताछ के सवाल पर उन्होंने कहा,’पहले हम जांच करेंगे और फिर उन्हें बुलाएंगे।’ कहा जा रहा है कि 302 के तहत एफआईआर दर्ज होने के चलते आशीष मिश्रा को गिरफ्तार भी किया जा सकता है।

सरेंडर भी कर सकते हैं आशीष
सूत्रों के अनुसार, आशीष मिश्रा खुद लखीमपुर खीरी जनपद न्यायालय पहुंचकर सरेंडर कर सकते हैं। बहराइच जिले के जगजीत सिंह ने आशीष मिश्रा के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है। एफआईआर के मुताबिक, लखीमपुर खीरी में हुई हिंसा पूर्व नियोजित है। केंद्रीय मंत्री और उनके बेटे ने साजिश रची थी। केंद्रीय राज्य मंत्री की ओर से किसानों पर भड़काऊ भाषण दिया गया था जिसके चलते हिंसा हुई और 8 लोगों की जान गई।

15-20 लोगों के साथ आए आशीष
एफआईआर में लिखा है, ‘घटना वाले दिन किसान महाराजा अग्रसेन इंटर कॉलेज के मैदान में इकट्ठा हुए थे और डेप्युटी सीएम केशव प्रसाद मौर्य और अजय मिश्रा के खिलाफ शांतिपूर्ण आंदोलन कर रहे थे। तभी आशीष (निवासी बनबीरपुर, निघासन, खीरी) और 15-20 अज्ञात और सशस्त्र लोग तीन चार पहिया वाहनों पर सवार होकर बनवीरपुर से सभास्थल की तरफ तेज स्पीड से आए।’

जीप में बाईं तरफ बैठकर गोली चला रहे थे आशीष
आरोप लगाया गया है कि आशीष जीप में बाई सीट पर बैठकर गोलीबारी कर रहे थे जबकि वाहन ने भीड़ को रौंद दिया। इस गोलीबारी में मटरनियां, बहराइच निवासी किसान गुरविंदर सिंह (22) की गोली लगने से मौके पर मौत हो गई। तहरीर में शिकायतकर्ता ने दो गाड़ियों के नंबर भी दिए हैं। शिकायत में आरोप लगाया गया है कि तेज गति से आती ये गाड़ियां अनियंत्रित होकर गड्ढे में पलट गई जिससे कई राहगीर भी गंभीर रूप से घायल हो गए।

आशीष मिश्रा


Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments