Sunday, August 14, 2022
HomeIndiaKhalistani Terrorists: खालिस्तानी आतंकियों, वॉन्टेड गैंगस्टर का पनाहगाह बन रहा कनाडा, भारत...

Khalistani Terrorists: खालिस्तानी आतंकियों, वॉन्टेड गैंगस्टर का पनाहगाह बन रहा कनाडा, भारत में लोगों की हत्या करने का देते हैं ठेका


Image Source : IANS (FILE PHOTO)
Sidhu Moose Wala and Goldy Brar

Highlights

  • कनाडा स्थित गैंगस्टर भारत में अपराध को नियंत्रित कर रहे हैं
  • खालिस्तान टाइगर फोर्स के प्रमुख हरदीप सिंह निज्जर पर 10 लाख का इनाम घोषित
  • ‘वे कनाडा में सुरक्षित, इसलिए खुलेआम आतंकी गतिविधियों की साजिश रचते हैं’

Khalistani Terrorists: कनाडा तेजी से खालिस्तानी आतंकवादियों और गैंगस्टरों के लिए एक सुरक्षित पनाहगाह बनता जा रहा है, जो भारत में कई आपराधिक गतिविधियों में शामिल हैं, जिनमें हत्याएं भी शामिल हैं। खुफिया एजेंसियों के सूत्रों ने यह जानकारी दी। 29 मई को सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड ने फिर से इस बात को उजागर किया है, क्योंकि खुफिया एजेंसियों और पुलिस के सूत्रों ने कहा कि कनाडा स्थित गैंगस्टर ‘भारत में अपराध को नियंत्रित कर रहे हैं।’

एक सूत्र ने कहा, “मूसेवाला मामले की जांच के दौरान सतिंदरजीत सिंह उर्फ गोल्डी बराड़ का नाम सामने आया। लेकिन उसे भारत वापस लाना आसान नहीं है, क्योंकि कनाडा के अधिकारी सहयोग नहीं करते हैं।” सूत्र ने यह भी कहा कि भारत ने कनाडा को खालिस्तानी तत्वों और अन्य गैंगस्टरों की मौजूदगी के संबंध में दस्तावेज सौंपे हैं, लेकिन अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की गई है।

हरदीप सिंह निज्जर पर 10 लाख रुपये का इनाम घोषित


हाल ही में एनआईए NIA ने जालंधर में एक हिंदू पुजारी की हत्या के मामले में खालिस्तान टाइगर फोर्स के प्रमुख हरदीप सिंह निज्जर पर 10 लाख रुपये का इनाम घोषित किया था। निज्जर वर्तमान में कनाडा में रह रहा है और भारत में ‘सिख फॉर जस्टिस’ (SFJ) के अलगाववादी और हिंसक एजेंडे को बढ़ावा दे रहा है।

अर्शदीप सिंह उर्फ अर्श के खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस जारी

हाल ही में इंटरपोल ने खालिस्तानी ऑपरेटिव अर्शदीप सिंह उर्फ अर्श के खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस जारी किया था, जिसके बारे में कहा जाता है कि वह कनाडा में है और निज्जर से जुड़ा है। इन खालिस्तानी आतंकवादियों ने भारत में सांप्रदायिक सद्भाव को बाधित करने के लिए कई लोगों की हत्या करने का ठेका दिया था। उन्होंने भारत में अपने सहयोगियों को कनाडा की नागरिकता देने का भी वादा किया। जबकि भारतीय अधिकारियों ने अपने कनाडाई समकक्षों से बात की है, भारत में उनके प्रत्यर्पण के मामले में अब तक कोई प्रगति नहीं हुई है।

‘वे कनाडा में सुरक्षित, इसलिए खुलेआम आतंकी गतिविधियों की साजिश रचते हैं’

एक अन्य कनाडा स्थित खालिस्तानी आतंकवादी, गुरपतवंत सिंह पन्नून, जो ‘सिख फॉर जस्टिस’ आंदोलन चलाता है, का उद्देश्य भारत में आतंकवाद फैलाना है। किसान आंदोलन के दौरान उसने कई वीडियो जारी कर लोगों से लाल किले सहित सरकारी इमारतों पर हमला करने को कहा। सूत्र ने कहा, “वे जानते हैं कि वे कनाडा में सुरक्षित हैं और इसलिए वे वहां से खुलेआम आतंकी गतिविधियों की साजिश रचते हैं।”

(इनपुट- IANS)

Latest India News





Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments