Tuesday, January 18, 2022
HomeUttar PradeshKanpur Latest News: Kanpur News: गैंगरेप का आरोपी लेखपाल निलंबित... पीड़िता की...

Kanpur Latest News: Kanpur News: गैंगरेप का आरोपी लेखपाल निलंबित… पीड़िता की प्रसव के दौरान जच्चा-बच्चा की हुई थी मौत – gang rape accused lekhpal suspended in kanpur


सुमित शर्मा, कानपुर
कानपुर में प्रसव के दौरान गैंगरेप पीड़िता और नवजात की मौत के मामले में आरोपी लेखपाल को निलंबित कर दिया गया है। आरोपी लेखपाल की गिरफ्तारी के बाद विभागीय कार्रवाई की गई है। लेखपाल पर एफआईआर दर्ज होने के बाद भी पुलिस उसे बचाने का प्रयास कर रही थी, लेकिन जच्च-बच्चा की मौत होने के बाद पुलिस हरकत में आ गई। आलाधिकारियों की फटकार के बाद आरोपी को गिरफ्तार किया गया था। गैंगरेप मामले में पुलिस ने लेखपाल समेत चार आरोपियों पर एफआईआर दर्ज की थी।

ककवन थाना क्षेत्र के एक गांव रहने में रहने वाली 15 वर्षीय किशोरी की मां की मौत हो चुकी है। परिवार गांव के बाहर झोपड़ी बनाकर रहता है। परिवार में पिता और भाई हैं। दोनों ही मजदूरी कर करके जीवनयापन करते हैं। पीड़िता ने मौत से पहले अपने बयान दर्ज कराए थे। जिसमें उसने कहा था कि लेखपाल रंजीत, करन अपने दो दोस्तों के साथ घर आते थे। शराब पीने के बाद गैंगरेप करते थे।

लेखपाल कहता था कि प्रेग्नेंट होने पर अबॉर्शन करा देंगे। अक्टूबर महीने में पीड़िता के परिजनों को गर्भवती होने की जानकारी हुई। इसके बाद परिवार ने 11 अक्टूबर को आरोपियों के खिलाफ ककवन थाने में गैंगरेप, पॉक्सो एक्ट, एससीएसटी और धमकी देने की धाराओं में केस दर्ज किया था, लेकिन पुलिस बीते दो महीनों में आरोपी लेखपाल को अरेस्ट नहीं कर पाई। लेखपाल बिल्हौर तहसील में नौकरी करता रहा।

पुलिस कराएगी डीएनए टेस्ट
पोस्टमॉर्टम के दौरान डॉक्टरों ने मृतका और बच्चे का डीएनए टेस्ट कराने के लिए खून के नमूने लिए थे। डीएनए टेस्ट के सैंपलों को आरोपियों के डीएनए से मिलान कराया जाएगा। इसके लिए ककवन थाना प्रभारी कौशलेंद्र प्रताप सिंह ने आरोपी के खून के नमूने लेने के लिए माती कोर्ट में अर्जी दी है।

पुलिस देना चाहती थी क्लीनचिट
गैंगरेप मामले में ककवन पुलिस सवालों के घेरे में है। पुलिस ने लेखपाल रंजीत, करन समेत चार आरोपियों पर 11 अक्टूबर को केस दर्ज किया था। जिसमें दो आरोपी अज्ञात हैं। इस मामले में आईजी ने एक हफ्ते पहले कार्रवाई करने निर्देश दिए थे। जिस पर पुलिस ने करन को जेल भेज दिया था, लेकिन लेखपाल को अरेस्ट नहीं किया था। इस मामले के विवेचक लेखपाल को क्लीनचिट देने की तैयारी में जुटे थे।



Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments