India

EXCLUSIVE: ‘वह खुद को कानून से ऊपर समझते हैं’, रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने राहुल गांधी पर साधा निशाना

Ashwini Vaishnav targets Rahul Gandhi, Ashwini Vaishnav, Rahul Gandhi- India TV Hindi

Image Source : INDIA TV
रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव।

नई दिल्ली: रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने इंडिया टीवी को दिए एक एक्स्क्लूसिव इंटरव्यू में कांग्रेस नेता राहुल गांधी पर जमकर निशाना साधा। वैष्णव ने कहा कि राहुल गांधी को लगता है कि बाबा साहेब भीमराव आंबेडकर ने जो कानून बनाया है वह सिर्फ आम लोगों को लिए हैं, वह इससे ऊपर हैं। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि जो पार्टी पवन खेड़ा के मामले में 15 मिनट में सुप्रीम कोर्ट पहुंच गई वह राहुल के मामले में वहां नहीं गई क्योंकि वे खुद को कानून से ऊपर मानते हैं।

‘राहुल एंटाइटलमेंट की राजनीति में यकीन रखते हैं’

अश्विनी वैष्णव ने कहा, ‘राहुल गांधी को यह लगता है कि उनको और उनकी पार्टी को देश में राज करने का जन्मसिद्ध अधिकार है। राहुल गांधी एंटाइटलमेंट की राजनीति में विश्वास रखते हैं।  उनको लगता है कि वह संविधान और संवैधानिक संस्थाओं से ऊपर हैं। 3 साल की एक कानूनी प्रक्रिया के बाद फैसला आया, लेकिन राहुल गांधी को लगता है कि कैसे कोर्ट ने उनके खिलाफ ऑर्डर दे दिया। मेरा सवाल है कि क्या राहुल गांधी को ऊपरी अदालत में अपील नहीं करनी चाहिए।’

‘राहुल गांधी खुद को कानून के ऊपर समझते हैं’
रेल मंत्री ने कहा, ‘जब पवन खेड़ा के मामले में कांग्रेस पार्टी 15 मिनट में सुप्रीम कोर्ट पहुंच सकती है, तो राहुल गांधी क्यों नहीं, क्योंकि वह कानून से खुद को ऊपर मानते है। कांग्रेस पार्टी बीजेपी पर आरोप इसलिए लगा रही है कि देश में एक अलग गवर्नेंस का मॉडल तैयार हुआ है। अब तक एक परिवार ने देश में राज किया और जो कुछ भी होता था घूम-फिर के उन्हीं तक पहुंच जाता था। आज मोदी ने देश को नया मॉडल दिया है जिसकी वजह विपक्ष बौखला गया है। उनके भ्रष्टाचार सामने आ रहे हैं, सभी भ्रष्टाचारी एक साथ आ रहे हैं।’

देखें: अश्निनी वैष्णव के साथ इंडिया टीवी का Exclusive इंटरव्यू

Latest India News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Politics News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन




Source link

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button