Wednesday, December 7, 2022
HomeUttar PradeshDudhwa Reserve Park: टूरिस्ट्स के लिए खुला दुधवा रिजर्व पार्क, एंट्री से...

Dudhwa Reserve Park: टूरिस्ट्स के लिए खुला दुधवा रिजर्व पार्क, एंट्री से लेकर पार्किंग तक की फीस बढ़ी, ये है नई रेट लिस्ट – dudhwa reserve park lakhimpur kheri open for tourists

लखीमपुर खीरी: उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में बाघों, हिरणों, जंगली हाथियों, एक सींग वाले गैंडों और कई अन्य मांसाहारी और शाकाहारी जीवों का आदर्श आवास, दुधवा राष्ट्रीय उद्यान (डीएनपी) मंगलवार से पर्यटकों के लिए खुल जाएगा। दुधवा टाइगर रिजर्व (डीटीआर) के क्षेत्रीय निदेशक संजय कुमार पाठक ने बताया कि दुधवा राष्ट्रीय उद्यान 15 नवंबर से पर्यटकों के स्वागत के लिए तैयार है। उन्होंने बताया कि वन विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों की मौजूदगी में उप्र के वन एवं पर्यावरण मंत्री डॉ. अरुण कुमार द्वारा औपचारिक उद्घाटन के बाद मंगलवार को दुधवा में पर्यटन गतिविधियां शुरू हो जाएंगी।

उन्होंने बताया दक्षिण सोनारीपुर रेंज में गैंडा (राइनो) क्षेत्र में जाने के इच्छुक पर्यटकों को उपलब्धता के अनुसार हाथी की सवारी का आनंद लेने का मौका दिया जाएगा। पाठक ने कहा, “दुधवा राष्ट्रीय उद्यान, किशनपुर और कतर्नियाघाट वन्यजीव अभयारण्यों में आने वाले पर्यटकों को जंगल सफारी के दौरान नियमों का सख्ती से पालन करने की सलाह दी जाती है।” उन्होंने कहा कि पर्यटकों और आगंतुकों को ऐसी किसी भी चीज से बचना चाहिए जो जंगली जानवरों को परेशान, उत्तेजित या भयभीत कर सकती हैं।

पाठक ने बताया कि दुधवा, किशनपुर या कतर्नियाघाट जंगल सफारी जाने के इच्छुक लोग उत्तर प्रदेश सरकार के पर्यटन विभाग की वेबसाइट पर जाकर या इसके मोबाइल ऐप का उपयोग करके कॉटेज बुक करा सकते हैं और अपनी यात्रा की योजना बना सकते हैं। पाठक ने कहा कि प्रवेश शुल्क, कैमरा शुल्क, वाहन और हाथी की सवारी शुल्क, ठहरने के शुल्क आदि सभी को संशोधित किया गया है और दरों के बारे में जानकारी वेबसाइट पर उपलब्ध है।

भारत-नेपाल सीमा पर स्थित दुधवा राष्ट्रीय उद्यान हर साल पर्यटकों, वन्यजीव प्रेमियों और शोधकर्ताओं को अपने प्राकृतिक आवास, घास के मैदानों, आर्द्रभूमि और वन्यजीव प्रजातियों की विशाल आबादी से आकर्षित करता है।

ढीली करनी होगी जेब
वन, पर्यावरण और वन्यजीव राज्य मंत्री डॉ. अरुण कुमार दुधवा में पर्यटन सीजन का उद्घाटन करेंगे। हालांकि यहां आने वाले पर्यटकों को पहले की तुलना में अधिक पैसे चुकाने होंगे क्योंकि प्रवेश शुल्क, कुटीर, छात्रावास, वाहन और हाथी की सवारी शुल्क सहित सभी दरों को दोगुना और कुछ मामलों में तीन गुना कर दिया गया है। पाठक ने कहा, 2010 में इन दरों को अंतिम बार संशोधित किया गया था।

नई रेट लिस्ट
उन्होंने बताया, दुधवा में अब वयस्क को 300 रुपये का प्रवेश शुल्क देना होगा, जबकि 5 से 12 वर्ष की आयु के बच्चों का प्रवेश शुल्क 150 रुपये होगा। स्कूल या कॉलेज द्वारा प्रायोजित छात्रों के लिए प्रवेश शुल्क 50 रुपये प्रति छात्र होगा। सड़क शुल्क, वाहन प्रवेश शुल्क और वन मार्ग शुल्क को संशोधित कर कुल 600 रुपये कर दिया गया है, जबकि हिंदी या अंग्रेजी भाषी गाइड शुल्क को संशोधित कर 400 रुपये और द्विभाषी के लिए 500 रुपये कर दिया गया है। इस सीजन से वाहन पाकिंर्ग शुल्क भी वसूला जाएगा। इसके तहत पर्यटकों को पाकिंर्ग स्लॉट की अपनी श्रेणी के अनुसार 100 रुपये से 500 रुपये के बीच शुल्क देना होगा।


Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments