Tuesday, January 18, 2022
HomeUttar Pradeshchilla border: 2 घंटे से ज्यादा चिल्ला बॉर्डर पर किसानों का रहा...

chilla border: 2 घंटे से ज्यादा चिल्ला बॉर्डर पर किसानों का रहा कब्जा, नोएडा अथॉरिटी के खिलाफ 3 माह से जारी है प्रदर्शन – farmers performing against noida authority performed shouting border jaam


नोएडा
विभिन्न मांगों को लेकर आंदोलनरत किसानों का गुरुवार को गुस्सा फूट पड़ा। गुस्साए किसानों ने नोएडा अथॉरिटी के विरोध में सेक्टर-14ए स्थित चिल्ला बॉर्डर को जाम कर दिया और जमकर प्रदर्शन किया। जाम को देखते हुए मौके पर भारी पुलिस बल तैनात किया गया। साथ ही पुलिस अधिकारी किसानों को समझाने में जुटे रहे। हालांकि, बाद में नोएडा अथॉरिटी के अधिकारियों ने किसानों की मांग पूरी करने का आश्वासन दिया। जिसके बाद किसानों ने जाम को खोला। हालांकि, जाम के दौरान गुजरने वाले लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा।

बता दें कि नोएडा के 81 गांवों के किसान अथॉरिटी के खिलाफ जमीन अधिग्रहण के बदले दिए जाने वाले 10 प्रतिशत प्लांट, गांव में नक्शा नीति लागू न कराने, गांव में कमर्शियल एक्टिविटी बंद न करने और मौके पर मौजूद बिल्डिंगों को अवैध बताकर न तोड़ा जाने के विरोध में पिछले तीन माह से धरना-प्रदर्शन कर रहे हैं। किसानों का कहना है कि जमीन अधिग्रहण के बदले 10 प्रतिशत प्लॉट दिया जाए। साथ ही नोएडा अथॉरिटी किसानों की पिछले 60 साल पुरानी आबादी को भी अवैध बता रही है। आए दिन किसानों की पुरानी आबादी को तोड़ दिया जाता है। नोएडा अथॉरिटी अफसरों की तरफ से कोई हल न निकलता देख तीन माह से धरना दे रहे किसान चिल्ला बॉर्डर पर पहुंच गए। यहां उन्होंने सड़क जाम कर दी।

सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर भी पहुंच गई। यहां पुलिस ने किसानों को समझाने का प्रयास किया, लेकिन किसान ठोस आश्वासन न मिलने तक पीछे हटने को तैयार नहीं हुए। उधर, नोएडा अथॉरिटी और किसानों के बीच उनकी मांगों को जल्द से जल्द हल कराने का आश्वासन दिया है। जिसके बाद किसानों ने जाम खोला। किसान नेता सुखबीर खलीफा का कहना है कि पिछले 3 माह से किसान आंदोलनरत हैं, लेकिन उनकी समस्या को कोई सुनने को तैयार नहीं है। मांग पूरी न होने तक किसानों का धरना जारी रहेगा। उधर, करीब ढाई घंटे तक किसानों ने बॉर्डर को जाम रखा। इस दौरान लोगों को जाम से जुझना पड़ा। एडमिशनल डीसीपी रणविजय सिंह का कहना है कि अथॉरिटी और किसानों के बीच कई बार मीटिंग हो चुकी है। उसके बाद भी किसानों ने चिल्ला बॉर्डर को जाम कर दिया था। हालांकि, जाम खुलवा दिया गया है।



Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments