Sunday, November 27, 2022
HomeUttar Pradeshashish mishra arrest: ashish mishra arrested in lakhimpur violence case after 12...

ashish mishra arrest: ashish mishra arrested in lakhimpur violence case after 12 hours long interrogation 12 घंटे लंबी पूछताछ के बाद अरेस्‍ट हुआ आशीष मिश्रा, कल कोर्ट में किया जाएगा पेश


हाइलाइट्स

  • लखीमपुर हिंसा मामले में अरेस्‍ट किए गए आशीष मिश्रा
  • केंद्रीय गृह राज्‍य मंत्री अजय कुमार मिश्रा के बेटे हैं आशीष
  • यूपी पुलिस की जांच टीम ने करीब 12 घंटे तक की पूछताछ

लखीमपुर खीरी
लखीमपुर हिंसा मामले में मुख्‍य आरोपी बीजेपी नेता आशीष मिश्रा को करीब 12 घंटे की लंबी पूछताछ के बाद गिरफ्तार कर लिया गया है। यूपी पुलिस की एसआईटी ने आशीष को शनिवार रात करीब साढ़े दस बजे अरेस्‍ट किया है। डीआईजी उपेंद्र अग्रवाल ने बताया कि जांच में सहयोग न करने और गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज होने के नाते आशीष को गिरफ्तार किया गया है। आशीष को अब कोर्ट में पेश किया जाएगा। उनसे करीब 40 सवाल पूछे गए। आशीष मिश्रा केंद्रीय गृह राज्‍य मंत्री अजय कुमार मिश्रा के बेटे हैं। आशीष से सुबह 11 बजे से पूछताछ चल रही थी।

आशीष पर लगी हैं ये धाराएं
आशीष मिश्रा के खिलाफ आईपीसी की धारा 147, 148, 149 (दंगों से संबंधित), 279 (लापरवाही से गाड़ी चलाना), 338 (किसी शख्स को चोट पहुंचाना जिससे उसकी जान को खतरा हो), 304-ए (लापरवाही से मौत), 302 (हत्या) और 120 बी (आपराधिक साजिश रचना) के तहत केस दर्ज हुआ है। बताया जा रहा है कि एसआईटी के कई सवालों का वह ठीक से जवाब नहीं दे पाए। आशीष की गिरफ्तारी को लेकर पूरा विपक्ष और किसान संगठन यूपी सरकार पर लगातार दबाव बना रहे थे।

4 किसानों सहित आठ की गई जान
गौरतलब है कि 3 अक्‍टूबर को लखीमपुर खीरी में चार किसानों को थार जीप से कुचलकर मार डाला गया था। इसके बाद भड़की हिंसा में चार और लोगों की मौत हो गई थी। यूपी सरकार ने सभी मृतकों के परिवारवालों को 45-45 लाख रुपये का मुआवजा दिया है। साथ ही, एक परिजन को सरकारी नौकरी देने का ऐलान किया है।

केंद्रीय मंत्री ने बेटे को बताया निर्दोष
इससे पहले केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा टेनी ने कहा था कि हम जानते हैं कि मेरा बेटा निर्दोष हैं। वह घटनास्थल पर मौजूद थे ही नहीं। वह क्राइम ब्रांच में सिर्फ पूछताछ के लिए गए हैं। शुक्रवार को पूछताछ के लिए न पहुंचने पर आशीष मिश्रा को दोबारा नोटिस भेजी गई थी। यह नोटिस शनिवार को 11 बजे तक क्राइम ब्रांच में हाजिर होने का था।इस पर अजय मिश्रा टेनी ने कहा था कि वह कहीं भागा नहीं है, शनिवार को पुलिस के सामने पहुंचेगा। अजय कुमार मिश्रा ने अपने बेटे को निर्दोष बताते हुए कहा था कि उनका बेटा बीमार है और वह शनिवार को पुलिस के सामने पेश होगा।

न्याय पर भरोसा रखिए… लखीमपुर में मंत्री अजय मिश्र टेनी ने की भाजपाइयों से अपील, देखिए Video

किसानों को कुचलने वाली जीप का नहीं था बीमा
लखीमपुर खीरी कांड में जिस जीप से कुचलकर किसानों की मौत हुई थी उसका बीमा ही नहीं था। इस गाड़ी का रजिस्ट्रेशन केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय कुमार मिश्र टेनी के नाम से है। परिवहन ऐप के पब्लिक डोमेन में उपलब्ध जानकारी से यह बात सामने आई है। यह पंजीकरण 14 जुलाई 2017 को हुआ था। परिवहन विभाग की वेबसाइट के मुताबिक, जिस गाड़ी से हादसा हुआ है उस गाड़ी का बीमा 13 जुलाई 2018 को खत्म हो गया था।मंत्री के बेटे आशीष मिश्रा के खिलाफ जो एफआईआर हुई है उसमें भी इस गाड़ी का जिक्र है।

आशीष पर लटकी गिरफ्तारी की तलवार



Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments