Friday, January 21, 2022
HomeBihar07 नवंबर को मुजफ्फरपुर में मेगा कोविड-19 वैक्सीनेशन अभियान चलेगा, शत-प्रतिशत लक्ष्य प्राप्ति हेतु जिलाधिकारी ने...

07 नवंबर को मुजफ्फरपुर में मेगा कोविड-19 वैक्सीनेशन अभियान चलेगा, शत-प्रतिशत लक्ष्य प्राप्ति हेतु जिलाधिकारी ने दिए आवश्यक निर्देश

ध्रुव कुमार सिंहमुजफ्फरपुरबिहार,  

 

07 नवंबर 2021 को मुजफ्फरपुर जिले में  मेगा कोविड-19 वैक्सीनेशन अभियान चलाया जाएगा। कोविड-19 टीकाकरण के  इस मेगा अभियान में प्रथम डोज के साथ-साथ कोविड-19 वैक्सीनेशन के दूसरे डोज से वंचित लोगों  का शत-प्रतिशत टीकाकरण करने का लक्ष्य को पाने की दिशा में आवश्यक निर्देश जिलाधिकारी के द्वारा दिये गए हैं। जिलाधिकारी प्रणव कुमार की अध्यक्षता में समाहरणालय स्थित उनके कार्यालय कक्ष में आयोजित बैठक में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सभी प्रखंडों के प्रखंड विकास पदाधिकारियों और प्रखंड चिकित्सा अधिकारियों के साथ मेगा अभियान को सफल बनाने के दृष्टिगत गंभीरता पूर्वक अपने कर्तव्यों का निर्वहन करने का निर्देश दिया गया है। बैठक में उप-विकास आयुक्त आशुतोष द्विवेदी, सिविल सर्जन डॉ.विनय कुमार शर्मा, जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ.ए.के पांडे, डब्ल्यूएचओ के प्रतिनिधि डॉ.आनंद गौतम के साथ स्वास्थ्य विभाग के अन्य अधिकारी मौजूद थे। बैठक में जिलाधिकारी श्री कुमार द्वारा उपलब्ध ड्यूलिस्ट के अनुसार सभी प्रखंडों में प्रथम एवं दूसरे डोज से वंचित व्यक्तियों का शत-प्रतिशत टीकाकरण कराने का निर्देश दिया गया है। इस हेतु सभी आंगनवाड़ी सेविका एवं आशा कार्यकर्ताओं को निर्देशित किया गया है कि ड्यू लिस्ट के अनुसार अपने- अपने प्रखंडों के ड्यू लिस्ट के अनुसार प्रथम एवं दूसरे डोज  से वंचित लोगों को जागरूक करते हुए टीकाकरण हेतु  उन्हें संबंधित केंद्र पर लाना सुनिश्चित किया जाएगा। इनके द्वारा अपने-अपने क्षेत्रों में सघन जागरूकता अभियान भी चलाना है।मेगा अभियान के अंतर्गत द्वितीय डोज  से वंचित लोगों का टीकाकरण प्राथमिकता के आधार पर किया जाना आवश्यक है। इस हेतु निर्देश दिया गया है कि ड्यू लिस्ट के कम से कम 50% लाभार्थियों का टीकाकरण कराना सुनिश्चित किया जाए। जिन क्षेत्रों में द्वितीय डोज का टीकाकरण ड्यू लिस्ट के 50% से कम होगा,उन क्षेत्र में कार्यरत आशा कार्यकर्ता, आंगनवाड़ी सेविका/सहायिका एवं महिला पर्यवेक्षिका के विरुद्ध सख्ती बरती जाएगी। इस संबंध में उन्हें पूरी गंभीरता से अपने कर्तव्यों का निर्वहन करना होगा ताकि शत प्रतिशत टीकाकरण के लक्ष्य को पाने की दिशा में अपेक्षित सफलता मिल सके। बैठक में निर्देश दिया गया कि सभी सीडीपीओ की यह  जिम्मेदारी होगी  कि उनके द्वारा सेविका/सहायिका एवं पर्यवेक्षकों के कार्यों का सतत अनुश्रवण किया जाएगा। सभी बीएचएम एवं बीसीएम भी अपने अपने प्रखंडों में इस अभियान के सफलता के निमित गंभीरता पूर्वक अपने अपने दायित्व का निर्वहन करना सुनिश्चित करेंगे। जिला जनसम्पर्क अधिकारी कमल सिंह ने बताया की जिन सेविका/ सहायिका एवं पर्यवेक्षकों द्वारा निर्धारित लक्ष्य की प्राप्ति नहीं की जा सकेगी इसके संबंध में शाम तक डीपीओ आईसीडीएस को प्रतिवेदित किया जाएगा और उनके द्वारा प्राप्त प्रतिवेदन को समेकित कर जिलाधिकारी को उपलब्ध कराया जाएगा।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments