Thursday, January 20, 2022
HomeIndiaस्वास्थ्य मंत्रालय ने की अपील, गैर-जरूरी यात्राओं, समारोहों और भीड़भाड़ वाली जगहों...

स्वास्थ्य मंत्रालय ने की अपील, गैर-जरूरी यात्राओं, समारोहों और भीड़भाड़ वाली जगहों से बनाएं दूरी


Image Source : PTI
गैर-जरूरी यात्राओं, समारोहों और भीड़भाड़ वाली जगहों से दूरी बनाने की अपील

Highlights

  • 5% से ज्यादा पॉजिटिव केस वाले जिले हैं, वे कड़े उपाय लागू करें: स्वास्थ्य मंत्रालय
  • स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा सात राज्‍यों के 24 जिलों में कोरोना गाइडलाइनका सख्‍ती से पालन करने का भी आह्वान किया
  • केरल के नौ और मणिपुर के आठ जिलों में कोरोना का खतरा बढ़ता जा रहा है

नई दिल्लीः  दुनियाभर में कोरोना का नया वेरिएंट ओमिक्रॉन अपना कहर बरपा रहा है। अधिकतर देशों में ओमिक्रॉन ने दस्तक दे दी है। देश में भी ओमिक्रॉन के मरीज बढ़ते जा रहे हैं। इस बीच भारत में तेजी से बढ़ रहे ओमिक्रॉन वेरिएंट को देखते हुए भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद के महानिदेशक बलराम भार्गव ने गैर जरूरी यात्रा, बड़े समारोह और भीड़भाड़ वाले स्‍थानों पर जाने से बचने की सलाह दी है। उन्‍होंने लोगों से अपील की है कि वह 25 दिसंबर और नए साल पर मनाए जाने वाले जश्‍न से दूरी बनाएं और अपने घर पर ही रहें।

ओमिक्रॉन के बढ़ने को लेकर आईसीएमआर के डीजी डॉ. बलराम भार्गव ने शुक्रवार को स्वास्थ्य मंत्रालय की प्रेस वार्ता में कहा, इस समय एहतियात बहुत जरूरी है। ये समय गैर-जरूरी यात्राओं, सामूहिक समारोहों और भीड़भाड़ से बच कर रहने का है।

डॉ भार्गव ने कहा कि हम एंटी-वायरल कोविड पिल्स के बारे में चर्चा कर रहे हैं। हमने पाया है कि इन गोलियों को रोग के निदान से पहले ही बहुत जल्दी दिया जाना चाहिए। हालांकि वैज्ञानिक डेटा अभी बड़े पैमाने पर समर्थित नहीं है कि गोलियां इस समय कितनी उपयोगी होंगी। नीति आयोग के सदस्य डॉ वीके पॉल ने ओमिक्रॉन खतरे पर कहा कि यूरोप में कोरोना महामारी के एक नए फेज का अनुभव किया जा रहा है, यहां मामलों में तेजी से वृद्धि हो रही है। उन्होंने कहा कि हर एक सैंपल की जीनोम सीक्वेंसिंग भी संभव नहीं है।

उन्होंने कहा कि जिन राज्यों में कोरोना के नए मामले बढ़ रहे हैं, या यूं कहें कि जो 5% से ज्यादा पॉजिटिव केस वाले जिले हैं, वे कड़े उपाय लागू करें।

कोरोना की जानकारी देते हुए उन्‍होंने सात राज्‍यों के 24 जिलों में कोरोना गाइडलाइनका सख्‍ती से पालन करने का भी आह्वान किया। बता दें कि केरल के नौ और मणिपुर के आठ जिलों में कोरोना का खतरा बढ़ता जा रहा है। यहां पर कोरोना पॉजिटिविटी रेट अब 5 प्रतिशत से अधिक हो चुका है। यह बताते हुए कि ओमिकॉन पूरे यूरोप और दुनिया के अन्य हिस्सों में तेजी से फैल रहा है, भार्गव ने कहा, मैं जोर देकर कहना चाहता हूं कि लोग गैर जूरूरी यात्रा से बचें। अगर सामूहिक समारोह से बचा जा सकता है तो भीड़भाड़ वाले स्‍थानों पर जानें से बचें। उन्‍होंने कहा कि नए साल पर लोग एक दूसरे से मिलने से परहेज करें और जश्‍न में शामिल होने से बचें. उन्‍होंने कहा कि कोरोना के विस्‍फोट से बचना है तो इन बातों का ध्‍यान रखना जरूरी है।

स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने बताया है कि देश के 19 जिले ऐसे हैं जहां संक्रमण बहुत ज़्यादा है, यहां साप्ताहिक पॉजिटिविटी 5-10 प्रतिशत के बीच है। केरल में ऐसे 9 जिले, मिजोरम में 5 जिले, नागालैंड, राजस्थान, सिक्किम, अरुणाचल प्रदेश और पश्चिम बंगाल में ऐसा एक-एक जिला है। उन्होंने बताया कि पिछले 20 दिनों से नए दैनिक मामले 10,000 से नीचे दर्ज किए गए हैं। पिछले 1 हफ्ते से केस पॉजिटिविटी 0.65 फीसदी थी। वर्तमान में, केरल से सक्रिय मामलों की कुल संख्या का 40.31 फीसदी है।





Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments