Sunday, October 2, 2022
HomeUttar Pradeshसियान टावर में चार्जिंग की प्रक्रिया पूरी, ट्विन टावर को ध्वस्त करने...

सियान टावर में चार्जिंग की प्रक्रिया पूरी, ट्विन टावर को ध्वस्त करने की तैयारी तेज… जानिए पूरा अपडेट – noida twin tower blast update siyan charged apex work will complete 24 august


नोएडा: उत्तर प्रदेश के नोएडा सेक्टर 93ए में बनी भ्रष्टाचार की इमारत ट्विन टावर को गिराने की प्रक्रिया तेज कर दी गई है। 28 अगस्त को इमारत को ध्वस्त किए जाने से पहले तमाम पहलुओं को ध्यान में रखते हुए सुरक्षात्मक उपाय भी किए जा रहे हैं। अवैध रूप से बने सुपरटेक के ट्विन टावरों को गिराने के लिए एडिफिस कंपनी ने सियान टावर में चार्जिंग प्रक्रिया पूरी कर ली गई है। टावर में विस्फोटक लगाने की प्रक्रिया को चार्जिंग प्रक्रिया कहा जाता है। एपेक्स टावर में चार्जिंग का काम 24 अगस्त तक पूरा होने की बात कही जा रही है। कंपनी के एक अधिकारी ने गुरुवार को यह जानकारी दी।

एडिफिस इंजीनियरिंग के प्रोजेक्ट मैनेजर मयूर मेहता ने बताया कि दोनों टावर में विस्फोटक लगाने का काम 13 अगस्त से शुरू हुआ था। ट्विन टावर के दोनों टावरों को 28 अगस्त को गिराया जाना है। मेहता ने कहा कि पिछले पांच दिन में एपेक्स टावर की तीन मंजिल के अलावा सियान टावर में 10 प्राइमरी और सात सेकेंडरी मंजिल पर विस्फोटक लगाने का काम पूरा कर लिया गया है। अब एपेक्स टावर की 24वीं और 22वीं मंजिल की चार्जिंग शुरू हो गई है। उन्होंने बताया कि चार्जिंग प्रक्रिया को पूरा करने के लिए 15 दिन की समय सीमा रखी गई है। वहीं फ्लोर पर काम करने वाली 16 टीमें एक-दो दिन पहले काम पूरा कर सकती हैं।

सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर गिराए जा रहे टावर
सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर ट्विन टावर के दोनों टावरों को गिराया जा रहा है। 28 अगस्त को दोनों टावर गिराया जाना है। मयूर मेहता ने बताया कि एपेक्स टावर में 11 प्राथमिक मंजिल और सात द्वितीयक फ्लोर हैं। इसके अलावा बेसमेंट के सभी तलों पर विस्फोटक और सेकंड बेसमेंट के 60 प्रतिशत स्तंभों (पिलर) में विस्फोटक लगाए जाने हैं। उन्होंने बताया कि सियान से ऊंचे एपेक्स टावर की चार्जिंग में विभिन्न कारणों से अधिक समय लगेगा।

मयूर मेहता ने बताया कि एपेक्स टावर में प्रति फ्लोर 110 पिलर हैं और जैसे-जैसे नीचे के फ्लोर की चार्जिंग शुरू होगी, वहां विस्फोटक की मात्रा ज्यादा लगेगी। ऐसे में नीचे की मंजिलों पर चार्जिंग प्रक्रिया में अधिक समय लगेगा। इनमें से प्रत्येक मंजिल को चार्ज करने में लगभग एक दिन का समय लगेगा।

ट्रैफिक प्लान को दिया गया अंतिम रूप
ट्विन टावर को धवस्त किए जाने को लेकर पुलिस ने ट्रैफिक प्लान को अंतिम रूप दे दिया है। दोनों टावरों में विस्फोट के समय नोएडा-ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेसवे को बंद करने के साथ विस्फोट के दिन रूट डायवर्जन शामिल है। डीसीपी (यातायात) गणेश प्रसाद साहा ने कहा कि विस्फोट में कुछ सेकेंड लगेंगे और उसके बाद लगभग 10-15 मिनट तक धूल फैले रहने की आशंका है। उन्होंने बताया कि सुरक्षा कारणों से अतिरिक्त समय रखा गया है। धूल छंटते ही एक्सप्रेसवे को खोल दिया जाएगा। यातायात पुलिस सेक्टर-44 के महामाया फ्लाईओवर और सर्विस लेन से परी चौक के बीच एक्सप्रेस-वे को पूरी तरह से बंद करने पर विचार कर रही है।



Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments