Thursday, August 5, 2021
Home Pradesh Uttar Pradesh सपा ने उतारे सबसे ज्यादा कैंडीडेट, जानें किस पार्टी के प्रत्याशी के...

सपा ने उतारे सबसे ज्यादा कैंडीडेट, जानें किस पार्टी के प्रत्याशी के पास कितनी संपत्ति है


लखनऊ। यूपी की 7 विधानसभा सीटों पर होने वाले उपचुनाव (यूपी विधानसभा उपचुनाव) के लिए नामांकन की प्रक्रिया खत्म हो गई है। चुनाव आयोग को दिए गए हलफनामे में सभी प्रत्याशियों ने अपनी संपत्ति की घोषणा की है। भाजपा (भाजपा), सपा (सपा), बसपा (बसपा) और कांग्रेस (कांग्रेस) के प्रत्याशियों की घोषित संपत्ति पर नजर डालें तो सबसे धनी देवरिया से सपा के प्रत्याशी ब्रह्मा शंकर त्रिपाठी हैं। त्रिपाठी ने 31 करोड़ 49 लाख की चल-अचल संपत्ति घोषित की है, जो सबसे ज्यादा है। दूसरे नंबर पर जौनपुर के मल्हनी से निर्दलीय चुनाव लड़ रहे बाहुबली धनंजय सिंह हैं। में उसने 23 करोड़ की संपत्ति घोषित की है।

एक विशेष बात और, सपा के प्रत्याशी धनबल के मामले में बाकी तीनों पक्षों से आगे हैं। 6 में से 4 प्रत्याशी ऐसे हैं, जिनकी संपत्ति 10 करोड़ से ज्यादा घोषित है। ऐसा सौभाग्य दूसरे पक्षों में देखने को नहीं मिला है। खास बात ये भी है कि सालों से सत्ता से बाहर कांग्रेस के भी 7 में से 5 उम्मीदवर करोड़पति हैं। आईए एक नजर डालते हैं कि किस पार्टी के किस कैंडीडेट ने कितनी संपति घोषित की है।

सपा कैंडीडेट की संपत्ति

देवरिया – ब्रह्मा शंकर त्रिपाठी – ३१ करोड़ ४ ९ लाख ऊ६ हजार १३ करोड़रामऊ – सुरेश कुमार पाल – ९ करोड़ २२ लाख 28 हजार २3३

घाटमपुर – इन्द्रजीत – 20 लाख 39 हजार 441 हालांकि इसमें 8 लाख की अचल संपत्ति का जिक्र किया गया है, लेकिन अचल संपत्तियों के कुल योग के कॉलम में शून्य परिलक्षित है।

मल्हनी – लकी यादव (निवर्तमान विधायक पारसनाथ यादव के बेटे) – 18 करोड़ 18 लाख 68 हजार 484 रुपये

नौगावा सादत – सैय्यद जावेद अब्बास – 11 करोड़ 77 लाख 11 हजार 394

टुंडला – महाराज सिंह धनगर – 10 करोड़ 10 लाख 10 हजार 741 रुपये

बता दें कि सपा 7 में से 6 सीट पर ही चुनाव लड़ रही है। बुलंदशहर की सीट ने रालोद के लिए छोड़ दी है।

भाजपा कैंडीडेट की संपत्ति

देवरिया – सत्य प्रकाश मणि त्रिपाठी – 2 करोड़ 7 लाख 80 हजार 271

घाटमपुर – अपेंद्र पासवान – 1 करोड़ 7 लाख 79 हजार 12

मल्हनी – मनोज सिंह – 5 करोड़ 25 लाख 73 हजार

नौगावा सादत – संगीता चौहान (दिवंगत मंत्री चेतन चौहान की पत्नी) – ६ करोड़ ४ लाख लाख ५४ हजार त१ ९

टूंडला – प्रेम पाल सिंह धनगर – 90 लाख 19 हजार 666

चंद्रमऊ – श्री कांत – 78 लाख 84 हजार 764

बुलंदशहर – उषा सिरोही – ५६ लाख ५। हजार

बसपा कंदीडेट की संपत्ति

मल्हनी – जय प्रकाश – 8 करोड़ 20 लाख 39 हजार 623 रुपये

टूंडला – संजीव कुमार चक – 4 करोड़ 79 लाख 42 हजार 645 रुपये

बुलंदशहर – मोहम्मद हिन्दू – २ करोड़ ३६ लाख .२ हजार ११

घाटमपुर – कुलदीप कुमार – 1 करोड़ 78 लाख 35 हजार

गोपरामऊ – महेश प्रसाद – 1 करोड़ 62 लाख 36 हजार 46

देवरिया – अभय मणि त्रिपाठी – १ करोड़ ४ 32 लाख ३२ हजार ३य४

नौगाँव सदात – मो। फुरकान अहमद – 1 करोड़ 20 लाख 800

कांग्रेस कैंडीडेट की संपत्ति

बंगरामऊ – आरती बाजपेयी – 3 करोड़ 43 लाख 31 हजार 147

बुलंदशहर – सुशील चौधरी – १ करोड़ हजार६ लाख १7 हजार २३ सु

देवरिया – मुकुंद भाष्कर मणि – 17 लाख 25 हजार 597, अचल संपत्ति नहीं।

घाटमपुर – कृपाशंकर – ४ करोड़ ६१ लाख .० हजार ४०

मल्हनी – राकेश मिश्रा – 52 लाख 69 हजार 989 रुपये

नौगावा सादत – कमलेश सिंह (महिला) – १ करोड़ ६० लाख ११ हजार २१५

टूंडला – स्नेह लता – 90 लाख 64 हजार 650

बता दें कि चुनाव आयोग को दिए गए हलफनामे में कोई भी उम्मीद्वार अपना, अपनी पत्नी और बच्चों के नाम दर्ज संपत्ति का लाभ देने वाला है। कुछ एक अपनी जायवीण्ट फैमिली की संपत्ति के बारे में भी जानकारी देते हैं।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने कहा- ‘महिलाएं आनंद की वस्तु हैं’ पुरुष वर्चस्व की इस मानसिकता से सख्ती से निपटना जरूरी, पढ़ें मामला

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने एक महत्वपूर्ण आदेश में कहा है कि शादी का झूठा वादा कर यौन संबंध बनाना कानून में दुराचार का अपराध...

2020 से बेहतर हुई यूपी के खजाने की स्थिति, जुलाई में 12655 करोड़ आए : सुरेश खन्ना

प्रदेश में कोरोना संक्रमण पर प्रभावी नियंत्रण का सकारात्मक असर राज्य की आर्थिक गतिविधियों में नजर आने लगा है। चालू वित्तीय वर्ष के...

सदर अस्पताल प्रांगन में ऑक्सीजन प्लांट की भी शुरुआत हो जाएगी: सिविल सर्जन सिविल सर्जन की अध्यक्षता में स्वास्थ्य विभाग की मासिक समीक्षात्मक...

संवाददाता - धर्मेंद्र रस्तोगी बैठक में स्वास्थ्य विभाग के सभी कार्यक्रम की समीक्षा की गई अन्य प्रदेश से आने वाले सभी व्यक्तियों की जांच आवश्यक: किशनगंज, जिले में...

विश्व स्तनपान सप्ताह: स्वास्थ्यकर्मी स्तनपान को लेकर कर रहे जागरूक

संवाददाता - धर्मेंद्र रस्तोगी एनएफएचएस—5 की रिपोर्ट जिला में 42.4 फीसदी शिशु ही कर पाते हैं पहले घंटे में स्तनपान: नियमित स्तनपान से शिशुओं को गंभीर...

Recent Comments