Home Pradesh Bihar संगम सीएलएफ की दीदीया पूरे बिहार के लिए बन रही है मिसाल

संगम सीएलएफ की दीदीया पूरे बिहार के लिए बन रही है मिसाल

0
संगम सीएलएफ की दीदीया पूरे बिहार के लिए बन रही है मिसाल

ध्रुव कुमार सिंह, मुज़फ्फरपुर, बिहार, 

संगम सीएलएफ की दीदीया पूरे बिहार के लिए बन रही है मिसाल- राहुल कुमार, मुख्य कार्यपालक पदाधिकारी, जीविका

बिहार सरकार के महत्वाकांक्षी परियोजना जीविका द्वारा मुजफ्फरपुर जिले के सभी प्रखंडों में समूह का निर्माण किया जा रहा है। समूह के निर्माण के बाद ग्राम संगठन और संकुल स्तरीय संघ के जरिए दीदियों को सशक्त बनाने की मुहिम चल रही है। इसी कड़ी में मुजफ्फरपुर जिले के मुसहरी प्रखंड के संगम जीविका महिला विकास स्वावलंबी सहकारी समिति लिमिटेड का वार्षिक आम सभा का आयोजन किया गया। जिसमें मुख्य अतिथि के तौर पर जीविका  के मुख्य कार्यपालक पदाधिकारी राहुल कुमार, उप-विकास आयुक्त आशुतोष द्विवेदी, प्रशिक्षु आईएएस किसलय कुमार उपस्थित थे। वार्षिक आम सभा का शुभारंभ सभी अतिथियों के साथ ही संगम संकुल स्तरीय संघ की  दीदियों ने दीप प्रज्वलित करके किया। उपस्थित दीदियों को संबोधित करते हुए जीविका के सीईओ राहुल कुमार ने कहा कि पूरे बिहार में संगम सीएलएफ की दीदीया एक नजीर के रूप में उभरी है। संगम विद्या निधि और संगम श्री निधि एक अनोखी पहल है जहां पर विद्यार्थियों को शिक्षा में सहयोग दिया जाता है। गरीबी के स्तर को तोड़ते हुए दीदियाँ जिस कदर अपने आप को बुलंदी की ओर स्थापित कर रही है, यह एक अच्छी मिसाल है। घर परिवार की जिम्मेदारियां संभालते हुए दीदियाँ  अपनी पढ़ाई भी आगे जारी रखें हुए है। कार्यक्रम के दौरान सभी अतिथियों का स्वागत संगम के निदेशक मंडल के सदस्यों द्वारा किया गया और  स्वागत गान आशा देवी, संगीता कुमारी और अंजली देवी के द्वारा गाया गया। इस वार्षिक आम सभा में वार्षिक प्रतिवेदन, सीएलएफ का पूरा लाभ हानि का व्योरा और अगले कार्य योजना की विस्तृत रूप से चर्चा की गई और संगम विद्या निधि के तहत एक लाख चौदह हज़ार  का सांकेतिक चेक एनआईओएस को दिया गया। जो वैसी महिलाओं के लिए था जो घर परिवार की जिम्मेदारियां को देखते हुए अपनी पढ़ाई को आगे बढ़ा रही है। इस अवसर पर उप-विकास आयुक्त आशुतोष द्विवेदी ने जीविका दीदियों का हौसला बढ़ाते हुए कहा कि कई अनोखी पहल संगम की दीदियाँ कर रही है जिसमें मशरूम कलस्टर एक नई पहचान के रूप में उभरेगा। जहां पर कई  दीदियों को मिलाकर एआई तकनीक से मशरूम हट की तैयारी की जा रही है। कार्यक्रम के दौरान मंच संचालन बखूबी संगम की मास्टर बुक कीपर मीना देवी ने किया। इस दौरान कई दीदियों ने जीविका से जुड़ने के बाद अपने जीवन के कठिन दौर को मंच से साझा किया। जिन्हें सुनकर कार्यक्रम में मौजूद दीदियों ने तालियां बजाकर उनका हौसला बढ़ाया। इसके साथ ही सीईओ राहुल कुमार और उप-विकास आयुक्त  ने  निर्माणाधीन मशरूम  क्लस्टर और बेला के बैग क्लस्टर का भ्रमण कर विस्तृत चर्चा की। इस दौरान जीविका के जिला कार्यालय से संचार प्रबंधक राजीव रंजन, मानव संसाधन प्रबंधन उज्जवल कुमार, रितेश कुमार, मनीष कुमार, प्रशांत कुमार, पन्नालाल कुमार, सिद्धार्थ कुमार, संजीत कुमार, मुसहरी के बीपीएम संजीव कुमार, अखिलेश कुमार, अमरीन आजाद, अभिजीत कुमार, सोमनाथ कुमार, रितिका जेना, विकास कुमार, मनीष कुमार, रोशन कुमार, पूनम देवी, रजिया खातून, सीता देवी सहित कई जीविका कर्मी उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here