Sunday, November 29, 2020
Home Uncategorized शिक्षा क्षेत्र के पूरे कोट स्थित पूर्व माध्यमिक विद्यालय निबहा में...

शिक्षा क्षेत्र के पूरे कोट स्थित पूर्व माध्यमिक विद्यालय निबहा में i7 news का आपरेशन

रामसनेहीघाट बाराबंकी। कोरोना संक्रमण को देखते हुए सरकार द्वारा भले ही बच्चों को अवकाश देते हुए सरकारी स्कूलों में अध्यापकों की उपस्थिति अनिवार्य कर रखी हो उसके बाद भी बनीकोडर शिक्षा क्षेत्र से जुड़े पूरे कोट में स्थित पूर्व माध्यमिक विद्यालय निबहा के इंचार्ज महोदय पिछले कई दिनों से विद्यालय की दहलीज नहीं पार की है इसके पीछे उनको होम कवारेंटाईन होने की बात कही गयी है। इस दौरान जब हमारे संवाददाता ने मौके पर जा कर निरिक्षण किया तो हालात कुछ और ही देखने को मिले दर असल पूरा माजरा भी समझ लीजिये
बनीकोडर शिक्षा क्षेत्र के पूरे कोट गांव में स्थित पूर्व प्राथमिक विद्यालय निबहा की जब वास्तविक स्थित को देखा गया तो यह विद्यालय पूरी तरह से बदहाली का शिकार होता दिखा, विद्यालय की स्थिति देखकर ही अंदाजा लगाया जा सकता है कि इस विद्यालय में पिछले कई वर्षों से मेंटेनेंस के नाम पर सिर्फ खाना पूर्ति का कार्य किया गया जब कि बाराबंकी के जिला अधिकारी डॉ आदर्श सिंह ने जिले की कमान संभालने के बाद ही परिषदीय विद्यालयों को संवारने के लिए कायाकल्प के तहत विद्यालय का मेंटेनेंस करके कान्वेंट स्कूलों की तरह बनाने के निर्देश दिए थे जिसके बाद क्षेत्र के तमाम ऐसे विद्यालय हैं जो कान्वेंट स्कूलों को भी पीछे छोड़ रहे हैं लेकिन पूरेकोट में स्थित पूर्व माध्यमिक विद्यालय निबहा की स्थिति का अंदाजा देखने के बाद लगाया जा सकता है कि विद्यालय पर इंचार्ज महोदय की कितनी मेहरबानी है यह विद्यालय की स्थित ही बया करती दिखाई पड़ रही है, इंचार्ज की उदासीनता के चलते अभी तक काया कल्प के तहत कितना काम विद्यालय में किया गया है यह कह पाना कठिन है क्योकि विद्यालय बदहाली का शिकार हो गया है, यहां पर पूरे परिसर में गंदगी का अंबार स्पष्ट दिखाई दे रहा था, कूड़ा दान काबाड की स्थित में पड़ा देखा गया। इस विद्यालय में 53 बच्चे पंजीकृत है तथा सच्चिदानन्द सिंह, निशा वर्मा, प्रियंका दुबे सहायक के पद पर तैनात है इन सभी मे सच्चिदानन्द सिंह को विद्यालय का प्रभारी बनाया गया है लेकिन चर्चा है कि वह अक्शर विद्यालय से गायब रहते है, शुक्रवार को भी विद्यालय में महिला अध्यापक तो मौजूद रही लेकिन प्रभारी गायब रहे, जिनके बारे में महिला अध्यापकों ने स्वास्थ्य खराब होने की बात कही है, चर्चाओं ओर गौर किया जाए तो अक्सर विद्यालय से गायब रहने वाले इंचार्ज महोदय को जिलाधिकारी बाराबंकी आदर्श सिंह के निर्देशों व उनकी कार्यवाई का कोई खौफ नहीं है, जिलाधिकारी के साथ साथ वर्तमान समय में तहसील रामसनेहीघाट की कमान ज्वाइंट मजिस्ट्रेट आईएएस दिव्यांशु पटेल के हाथों में है जिन्होंने गलत कार्य करने वालों के खिलाफ अभियान छेड़ रखा है, श्री पटेल द्वारा अबतक कई ऐसी सख्त कार्यवाई की है जिनकी जनता प्रशंसा करते नही थकती, जिले की कमान संभाले हुए डीएम डॉक्टर आदर्श सिंह भी शुरुआत से ही गलत काम करने वालों पर कार्रवाई करते रहें इसके बाद भी इन दोनों अधिकारियों के खौफ से अंजान ग्राम प्रधान ने इस विद्यालय में कायाकल्प योजना के तहत होने वाले किसी कार्य को नही कराया है तथा विद्यालय में गंदगी का अंबार लगा हुआ है, विधालय परिसर में बने शौचालय की हालत देखकर मोदी सरकार का स्वच्छता अभियानमिशन दम तोड़ता दिखाई दे रहा है खंड शिक्षाधिकारी बनीकोडर डॉ अजीत प्रताप सिंह भी लापरवाह अध्यापकों पर कार्यवाही करने में जरा सी भी देर नहीं लगाते है लेकिन अपने कर्तब्यों के प्रति लापरवाह इस विद्यालय के इंचार्ज महोदय पर उनकी इतनी मेहबानी उन्हें भी सवालों के घेरे में खड़ी कर रही है, हाँ इस बात से भी इंकार नही किया जा सकता है कि हो सकता हो कि इस विद्यालय की वास्तविकता से वह अंजान हो, लेकिन यह खबर इस विद्यालय की सच्चाई को जिलाधिकारी डॉ आदर्श सिंह के साथ रामसनेहीघाट ज्वाइंट मजिस्ट्रेट दिव्यांशू पटेल व एबीएसए डॉ अजीत सिंह तक पहुचेगी जिससे इस विद्यालय के प्रति बरती गई लापरवाही पर जांच कर कार्यवाही की जा सके

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

असदुद्दीन ओवैसी ने हैदराबाद का नाम बदलने के लिए कहा – योगी आदित्यनाथ के हैदराबाद का नाम बदलने के बयान पर असदुद्दीन ओवैसी का...

हैदराबाद: योगी आदित्यनाथ पर असदुद्दीन ओवैसी: हैदराबाद नगर निकाय चुनाव में बीजेपी के मैराथन प्रचार अभियान के दौरान योगी आदित्यनाथ द्वारा हैदराबाद का...

Q2 GDP: अर्थव्यवस्था में सुधार के बीच बुनियादी उद्योगों की कठिनाइयाँ

देश की अर्थव्यवस्था में सुधार के संकेतों के बीच बुनियादी क्षेत्रों के प्रमुख उद्योगों का उत्पादन इस बार अक्टूबर महीने में एक साल...

बारूदी सुरंग में विस्फोट, सीआरपीएफ के पांच जवान घायल, लैंडमाइन ब्लास्ट, सीआरपीएफ के पांच जवान घायल

प्रतीकात्मक तस्वीररायपुर: छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित सुकमा जिले में बारूदी सुरंग में हुए विस्फोट में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के पांच जवान घायल...

Recent Comments