Sunday, December 4, 2022
HomeIndiaशशि थरूर के नामांकन पत्र पर किन-किन नेताओं के दस्तखत? सांसद ने...

शशि थरूर के नामांकन पत्र पर किन-किन नेताओं के दस्तखत? सांसद ने किया ट्वीट


Image Source : FILE PHOTO
Shashi Tharoor

Highlights

  • शशि थरूर केवल पांच नामांकन पत्र ही जमा कर सके थे
  • कुल 20 नामांकन पत्र में से चार को खारिज किया गया: मिस्त्री
  • झारखंड के पूर्व मंत्री केएन त्रिपाठी का नामांकन रद्द हो गया

Congress President Election: कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए शशि थरूर की उम्मीदवारी के समर्थन में उनके नामांकन पत्र पर दस्तखत करने वालों में पूर्व केंद्रीय मंत्री मोहसिना किदवई और सैफुद्दीन सोज, तीन सांसद और जी-23 के नेता संदीप दीक्षित शामिल हैं। थरूर ने ट्विटर पर छह फॉर्म पोस्ट किए, लेकिन वह शुक्रवार को केवल पांच नामांकन पत्र ही जमा कर सके थे, क्योंकि छठा नामांकन पत्र जमा करने में उन्हें कुछ मिनट की देरी हो गई। 

हालांकि, अभी यह नहीं पता है कि उनके सभी पांच नामांकन पत्र स्वीकार किए गए हैं या नहीं, क्योंकि कांग्रेस के केंद्रीय चुनाव प्राधिकरण के प्रमुख मधुसूदन मिस्त्री ने शनिवार को कहा कि कुल 20 नामांकन पत्र में से चार को खारिज किया गया है। रद्द किया गया एक नामांकन पत्र झारखंड के पूर्व मंत्री के एन त्रिपाठी का है, लेकिन मिस्त्री ने यह बताने से इनकार कर दिया कि खारिज किए गए अन्य तीन नामांकन पत्र किसके हैं। 

खड़गे ने 14 नामांकन पत्र सौंपे थे, जबकि थरूर ने पांच 

पार्टी नेता मल्लिकार्जुन खड़गे और थरूर अब दौड़ में रह गए हैं। खड़गे ने 14 नामांकन पत्र सौंपे थे, जबकि थरूर ने पांच और त्रिपाठी ने एक नामांकन पत्र सौंपा था। ट्विटर पर थरूर की ओर से पोस्ट किए गए छह फॉर्म पर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रतिनिधियों के 60 दस्तखत हैं (हर नामांकन पत्र पर 10 दस्तखत)। जम्मू-कश्मीर के 10 और नगालैंड के 10 प्रतिनिधियों ने थरूर का समर्थन किया है। 

संदीप दीक्षित और थरूर जी-23 के नेताओं में शामिल थे

थरूर का समर्थन करने वाले सांसदों में पूर्व केंद्रीय मंत्री सोज, किदवई और तीन सांसद कार्ति चिदंबरम, प्रद्युत बारदोलोई और मोहम्मद जावेद हैं। संदीप दीक्षित और थरूर जी-23 के नेताओं में शामिल थे, जिन्होंने कांग्रेस प्रमुख सोनिया गांधी को वर्ष 2020 में पत्र लिखकर बड़े पैमाने पर संगठनात्मक सुधार का अनुरोध किया था। 

जी-23 के ज्यादातर नेताओं ने खड़गे का साथ दिया है

हालांकि, रोचक बात यह है कि जी-23 के ज्यादातर नेताओं ने थरूर के बजाय मल्लिकार्जुन खड़गे का साथ दिया है। चुनाव के लिए नामांकन पत्र दाखिल करने की अवधि 24 सितंबर से 30 सितंबर तक थी। वोटिंग 17 अक्टूबर को होगी। वोटों की गिनती 19 अक्टूबर को होगी और उसी दिन परिणाम घोषित किया जाएगा। इस चुनाव में 9,000 से अधिक प्रदेश कांग्रेस कमेटी (पीसीसी) के प्रतिनिधि वोट डालेंगे। थरूर ने ट्वीट करके अपनी उम्मीदवारी का समर्थन करने वाले नेताओं और कांग्रेस कार्यकर्ताओं के प्रति आभार व्यक्त किया। 

Latest India News





Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments