Tuesday, August 11, 2020
Home Desh विवादों से घिरे रहने के बावजूद अमर सिंह को हमेशा राजनीतिक दलों...

विवादों से घिरे रहने के बावजूद अमर सिंह को हमेशा राजनीतिक दलों की जरूरत बनी रहती है – विवादों से घिरे रहने के बावजूद हमेशा राजनीतिक दलों की जरूरत बन गई है।


समाजवादी पार्टी के पूर्व नेता अमर सिंह का निधन हो गया (फाइल फोटो)।

नई दिल्ली:

समाजवादी पार्टी के पूर्व नेता और राज्यसभा सांसद अमर सिंह (अमर सिंह) का आज निधन हो गया। वे 64 साल के थे। लंबे समय से बीमार चल रहे अमर सिंह का सिंगापुर में इलाज चल रहा था। इसी वर्ष मार्च महीने में उन्होंने अपनी किडनी से जुड़ी बीमारी की वजह से सिंगापुर के एक बड़े अस्पताल में सर्जरी करवाई थी। अमर सिंह को समाजवादी पार्टी के बड़े नेता के तौर पर भरोसेाना जाता रहा है। अमर सिंह हमेशा खास तौर पर यूपी की राजनीति के केंद्र में बने रहे। वे राजनीतिक विवादों के कारण भी हमेशा चर्चा में रहते हैं।

यह भी पढ़ें

अमर सिंह का regktitvent ही ऐसा था कि वे राजनीति में भले ही विवादों से घिरे रहे हों लेकिन उनकी अपरिहार्यता हमेशा बनी रही। अमर सिंह के प्रतिद्वंदी वेन बेहद संवेदनशील स्वाशि और साध्य रचने वाला मानते थे तो उनके समर्थक उन्हें फंड फंड रेजर और क्राईइसिस प्रबंधन का उपयोग बताते थे। कारोबारी अमर सिंह के बारे में कहा जाता है कि उनके संबंध में सभी पक्ष में थे, जिसके कारण वे 'संकटमोचक' के तौर पर उभर रहे थे।

राजपूत परिवार में जन्मे अमर सिंह को उनकी विशेष सहयोगी जयाप्रदा के साथ 2010 में समाजवादी पार्टी से निकाल दिया गया था। सपा से निकाले जाने के बाद अमर सिंह ने लोकसभा चुनाव के दौरान रास लोकदल से हाथ मिला लिया और फतेहपुर सीकरी से चुनाव भी हार गए लेकिन हार गए। सपा से बाहर रहने के बाद भी न तो पार्टी प्रमुख मुलायम सिंह अमर सिंह को भूल पाया और नर्म सिंह, सपा सुप्रीमो को। सन 2016 में यूपी में विधानसभा चुनाव के पहले वे पार्टी में बदलाव करने में कामयाब रहे थे। हालाँकि श्याम के बेटे अखिलेश के अमर सिंह को नापसंद करने से यह संबंध आगे नहीं बढ़ पा रहा है। वर्तमान में अमर सिंह की बीजेपी से करीबी बताई जा रही थी।

अमर सिंह के निधन पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने जताया दुख, बोले- सभी दलों में उनकी दोस्ती थी

अमर सिंह को मुलायम सिंह का काफी विशवास हासिल था। सन 2008 में जब यूपीए सरकार के अमेरिका के साथ प्रस्तावित परमाणु समझौते के कारण भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी ने अपना समर्थन वापस ले लिया था। इससे सरकार अल्पमत में आ गई थी। कहा जाता है कि उस समय अमर सिंह ने ही श्याम सिंह यादव को यूपीए सरकार को समर्थन देने के लिए गांधी किया था। समाजवादी पार्टी में काउंटी कल्चर लाने वाले भी अमर सिंह ही थे। हालांकि इसके लिए वे संपादकों के निशाने पर भी रहे। पैसा, बॉलीवुड और देश की ताकतवर हस्तियों तक अपनी पहुंच के लिए मशहूर अमर सिंह सपा की ओर से कई बार राज्यसभा सदस्‍य रहे। वे संसद की कई समितियों के सदसय भी रहे।

अमर सिंह ने अमिताभ बच्चन से पूछा माफी, बोले- मैं जिंदगी और मौत की लड़ाई लड़ रहा हूं, ऐसे में …

अमर सिंह के साथ विवाद हमेशा जुड़े रहे। इसमें यूपीए सरकार के पक्ष में वोट देने के लिए तीन बीजेपी सांसदों को कथित तौर पर रिवर्ट की पेशकश करने का मामला प्रमुख है। उनके खिलाफ एक ऑड टैप भी आया था जिसमें दावा किया गया था कि उसमें अमर सिंह की आवाज है। अमर सिंह एक समय बॉलीवुड के सुपर स्टारटार अमिताभ औरचनचन के भी विशेष सहयोगी रहे लेकिन वख्त के साथ उनके संबंधों में खटास आते हैं।

VIDEO: अमर सिंह ने कहा, अमिताभ बच्चन पर मैंने कोई एहसान नहीं किया



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

सुप्रीम कोर्ट ने रिया चक्रवर्ती की याचिका पर फैसला सुरक्षित रखा SSR मृत्यु: प्रधान चक्रवर्ती की याचिका पर SC ने फैसला सुरक्षित रखा, क्या...

डिज़टल डेस्क, मुंबई। एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत मामले में प्रधान चक्रवर्ती की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को...

फिलीपींस के राष्ट्रपति रोड्रिगो दुतेर्ते रूस कोरोनावायरस परीक्षण

वर्षों के राष्ट्रपति रोड्रिगो दुतेर्ते ने रूसी निर्मित कोरोनावायरस 'को विभाजित -19' वैक्सीन के परीक्षण को खुद पर किए जाने की इच्छा...

सोना 2300 रुपये टूटकर रिकॉर्ड ऊंचाई पर, 6000 रुपये प्रति किलो चांदी में गिरावट | रिकॉर्ड ऊंचाई से 2300 रुपये टूटा सोना, 6000 रुपये...

डिजिटल डेस्क, मुंबई, 11 अगस्त (आईएएनएस)। डॉलर में रिकवरी आने से मंगलवार को एक बार फिर सोने और चांदी की तेजी...

ग्रेटर नोएडा में चाय की दुकान चलाने वाले पिता के वित्तीय संकट के बीच सुदीक्ष भाटी ने अमेरिका की यात्रा करने का फैसला किया...

ग्रेटर नोएडा के दादरी क्षेत्र के डेरी स्कैनर गांव की होनहार बेटी सुदीक्षा भाटी (सुदीक्षा भाटी) की मौत पर पूरा गांव गम...

Recent Comments