Saturday, September 19, 2020
Home Pradesh Uttar Pradesh राम मंदिर भूमि पूजन: मेरठ में मुस्लिम महिलाओं ने की राम की...

राम मंदिर भूमि पूजन: मेरठ में मुस्लिम महिलाओं ने की राम की आरती, मनाई खुशियां | meerut – हिंदी में समाचार


राम मंदिर भूमि पूजन: मेरठ में मुस्लिम महिलाओं ने की राम की आरती, मनाई खुशियां

मेरठ में मुस्लिम समुदाय की महिलाओं ने राम की आरती कर देशवासियों को जीत दी

मुस्लिम राष्ट्रीय मंच (मुस्लिम राष्ट्रीय मंच) की संयोजिका पत्रनी परवेज़ ने कहा 'हम सब की पहचान श्रीराम' है। श्री राम सभी के हैं, श्री राम इमामे हिन्द हैं, हिंदुस्तान की पहचान हैं। भारतीय संस्कृति की पहचान हैं '। उनका कहना था कि सभी देशवासियों की इच्छा पूरी होने पर सभी को भरोसा है।

मेरठ। अयोध्या में आज राम मंदिर भूमि पूजन (राम मंदिर भूमि पूजन) के अवसर पर मेरठ जनपद में मुस्लिम राष्ट्रीय मंच (मुस्लिम राष्ट्रीय मंच) की महिला प्रकोष्ठ से जुड़ी मुस्लिम समाज की महिलाओं ने भगवान राम की आरती उतारी और मिठाइयां बांटीं। उनका कहना था कि आज सभी देशवासियों की सारी भक्तों की इच्छा पूरी हो गई है। हमारी आस्था श्रीराम में है। हम लोग हिंदुस्तानी मुसलमानों हैं, अपनी भारतीय संस्कृति को मानते हैं। राम तो एक संस्कृति हैं, भारतीय संस्कृति हैं। उनका कहना था कि हम सब आज बहुत खुश हैं।

हम सब की पहचान श्रीराम से है!

मुस्लिम राष्ट्रीय मंच की राष्ट्रीय संयोजिका शाहीनी परवेज़ ने राम मंदिर के शिलान्यास के अवसर पर प्रभु श्री राम की आरती उतारी खुशियां मनाई और अपने घर में दीप प्रज्वलित किया। इस मौके पर शाहीन परवेज़ ने कहा कि 'हम सब की पहचान श्रीराम से है। श्री राम सभी के हैं, श्री राम इमामे हिन्द हैं, हिंदुस्तान की पहचान हैं। भारतीय संस्कृति की पहचान हैं '। उनका कहना था कि 'हिंदुस्तानी मुसलमानों की पहचान श्रीराम इमामे हिंद से है किसी बबरिया बाबरी से नहीं है। हमारे देश का भाईचारा सांप्रदायिक समुदाय सौहार्द हमेशा कायम है और हमें कोई नहीं बांट सकता '।

ये भी पढ़ें- राम मंदिर भूमि पूजन: टिहरी में उत्साहित कार सेवक बोले- उनके संघर्ष का परिणाम इन दिनों है

सभी देशवासियों की इच्छा पूरी हो गई

उनका कहना था कि वे इस ख़ुशी के अवसर पर मुस्लिम राष्ट्रीय मंच की ओर से सभी देशवासियों को हार्दिक बधाई और शुभकामनाएँ चाहते हैं। उन्होंने मुस्लिम राष्ट्रीय मंच केद्स्कक डॉ। इंद्रेश कुमार और मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के सभी कार्यकर्ताओं को भी शुभकामनाएं दीं। बातचीत को आगे बढ़ाते हुए उन्होंने कहा कि श्री राम जन्म स्थान पर मंदिर बनवाने की कसम मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के हर कार्यकर्ता ने खाई थी। 'कसम खुदा की खा रहे हैं मंदिर वहीं बनाएंगे' आज सभी देशवासियों, सभी भक्तों की इच्छा पूरी हो गई है। वो कहती हैं कि कितनी सौभाग्य की बात है कि उनकी बनाई राखी (राखी) जो उन्होंने श्रीराम के लिए भेजी थी उनकी भावनाएं अयोध्या में स्वीकार कर ली गई हैं। अयोध्या से उनके पास इस बारे में संवाद भी आया कि शिलान्यास से पहले उनके हाथों की बनाई हुई राखी रामलला के पास समय से पहुंच गई।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

मौसम विभाग का कहना है कि अगले हफ्ते से मानसून शुरू होने की संभावना है, ओडिशा में भारी बारिश की संभावना – मौसम विभाग...

प्रतीकात्मक तस्वीरनई दिल्ली: भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) ने शुक्रवार को कहा कि दक्षिण पश्चिम मानसून के जाने की शुरुआत अगले सप्ताह के अंत...

सरकार ने समग्र स्थिति की व्यापक समीक्षा की, पूर्वी लद्दाख में अभियान की तैयारी – सरकार ने पूर्वी लद्दाख में संपूर्ण स्थिति, अभियानगत तैयारियों...

प्रतीकात्मक तस्वीरनई दिल्ली: सरकार ने पूर्वी लद्दाख में भारत की अभियानगत तैयारियों सहित क्षेत्र में संपूर्ण स्थिति की शुक्रवार को व्यापक समीक्षा की।...

Recent Comments