Thursday, August 5, 2021
Home Pradesh Uttar Pradesh रात भर सात फेरों के लिए इंतजार करता रहा दूल्हा, दुल्हन की...

रात भर सात फेरों के लिए इंतजार करता रहा दूल्हा, दुल्हन की दूसरे युवक संग करा दी गई शादी, जानें पूरा मामला 

यूपी के मथुरा जिले से एक अजीबो-गरीब मामला सामने आया है। यहां एक दूल्हा ढोल-नगाड़ों के साथ धूमधाम से बारात लेकर दुल्हन लेने पहुंचा था। लड़की पक्ष के घर पर पहुंचने के बाद यहां कुछ ऐसा हुआ कि दूल्हा रात भर दुल्हन के साथ सात फेरे पड़ने का इंतजार ही करता रह गया। उधर दुल्हन के किसी और व्यक्ति के साथ फेर डलवा दिए गए। सुबह होने के बाद दूल्हे को इसकी जानकारी हुई तो ग्रामीणों के सहयोग से दूल्हे का रिश्ता तय करके दूसरी लड़की के साथ शादी करवा दी गई। यह शादी पूरे क्षेत्र में चर्चा का विषय बनी रही।

गांव तेहरा निवासी एक व्यक्ति ने अपनी पुत्री का विवाह गांव नगलामनी, मांट के युवक के साथ तय किया था। निर्धारित कार्यक्रम के तहत मंगलवार रात 30 -35 बारातियों के साथ गांव तेहरा बारात पहुंच गयी। वहां पर गाजे बाजे से बारात चढ़ना शुरू हो गया। बाराती नाचते थिकरते चल रहे थे। बारात ने आधा  रास्ता ही तय किया होगा तभी वधु पक्ष ने रास्ते में बारात को रोक दिया। बताते हैं कि वधु पक्ष ने यह कहते हुए रिश्ता तोड़ दिया कि बाराती बहुत कम आए हैं। बारात को वापस ले जाओ। यह सुनते ही बारातियों में खलबली मच गयी। आधे रास्ते से ही बैंडबाजे बंद हो गए। गांव के पूर्व प्रधान करनवीर सिंह ने अपने यहां पर बारातियों के भोजन की व्यवस्था करायी। 

लड़की की कर दी दूसरे युवक से शादी

कम बारात आने की बात कहकर शादी से इनकार करने वाले वधु पक्ष ने अपनी लड़की की शादी मंगलवार को उसी समय दूसरे युवक से तय कर दी और मंगलवार को ही विवाह कार्यक्रम भी सम्पन्न करा दिया।

ग्रामीणों ने डलवाये दूसरे दिन अन्य कन्या के साथ फेरे

बताते हैं कि इस समूचे घटनाक्रम की जानकारी तेहरा के ग्रामीणों को हुई तो चर्चा होने लगी और रात को वर पक्ष को समझा बुझा कर बारातियों के साथ लोगों ने गांव में ही रोक लिया। समीपवर्ती गांव सोगरवार के प्रधान कुंवरपाल, मदन, मनीष रावत, करनवीर सिंह, दीनानाथ आदि के सहयोग से लड़की तलाशना शुरू कर दिया और गांव के ही एक अन्य व्यक्ति की पुत्री से विवाह तय कर दिया। बुधवार सुबह से ही उस घर में विवाह की तैयारियां शुरू हो गयीं और युवक का विवाह संपन्न करा दिया। इस विवाह कार्यक्रम में गांव के लोग भी शामिल हुए और कार्यक्रम सम्पन्न होने के बाद शाम को दूल्हन भी विदा हो गयी। घटना क्षेत्र में चर्चा का बनी हुयी है।

दोनों तरफ छलकने लगे खुशियों के आंसू

चट मंगनी पट ब्याह की कहावत चरितार्थ हुई। दोनों तरफ खुशियों के आंसु छलकने लग गए। दोनों में किसी ने नहीं सोचा था कि ऐसा भी हो सकता है। जब बारात गांव पहुंची तो खुशी थी और उसके बाद विवाह कार्यक्रम रद होने पर वर पक्ष मायूस हो गया था। बाद में गांव तेहरा के लोगों ने इस कदर उनका साथ दिया कि रात ही रात में चट मंगनी पट ब्याह का कार्यक्रम तय करा दिया। विवाह कार्यक्रम में दोनों पक्षों के खुशी के आंसु छलक रहे थे। 

तेहरा के पूर्व प्रधान करनवीर सिंह ने बताया, गांव मे मंगलवार को मांट से बारात आयी थी। किन्हीं कारणो के चलते लड़की पक्ष ने शादी से इंकार कर दिया। गांव का नाम बदनाम नहीं हो और किसी का परिवार बस जाए, यही सोच कर गांव के लोगों ने साथ दिया और लड़के की शादी भी बुधवार को सकुशल सम्पन्न करा दी।
 

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

2020 से बेहतर हुई यूपी के खजाने की स्थिति, जुलाई में 12655 करोड़ आए : सुरेश खन्ना

प्रदेश में कोरोना संक्रमण पर प्रभावी नियंत्रण का सकारात्मक असर राज्य की आर्थिक गतिविधियों में नजर आने लगा है। चालू वित्तीय वर्ष के...

सदर अस्पताल प्रांगन में ऑक्सीजन प्लांट की भी शुरुआत हो जाएगी: सिविल सर्जन सिविल सर्जन की अध्यक्षता में स्वास्थ्य विभाग की मासिक समीक्षात्मक...

संवाददाता - धर्मेंद्र रस्तोगी बैठक में स्वास्थ्य विभाग के सभी कार्यक्रम की समीक्षा की गई अन्य प्रदेश से आने वाले सभी व्यक्तियों की जांच आवश्यक: किशनगंज, जिले में...

विश्व स्तनपान सप्ताह: स्वास्थ्यकर्मी स्तनपान को लेकर कर रहे जागरूक

संवाददाता - धर्मेंद्र रस्तोगी एनएफएचएस—5 की रिपोर्ट जिला में 42.4 फीसदी शिशु ही कर पाते हैं पहले घंटे में स्तनपान: नियमित स्तनपान से शिशुओं को गंभीर...

कोरोना टीका के महत्व को जाना तो खुद के साथ पूरे परिवार को दिलाया टीका

संवाददाता - धर्मेंद्र रस्तोगी लोगों को जागरूक करने व टीकाकरण को बढ़ावा देने में अखबारों की भूमिका महत्वपूर्ण: जिले में टीकाकरण को गति देने में जागरूकता...

Recent Comments