Saturday, October 24, 2020
Home Pradesh Uttar Pradesh यूपी वेदर अलर्ट: लखनऊ समेत इन जिलों में बारिश की संभावना, उमस...

यूपी वेदर अलर्ट: लखनऊ समेत इन जिलों में बारिश की संभावना, उमस से राहत lucknow – समाचार हिंदी में


यूपी वेदर अलर्ट: लखनऊ समेत इन जिलों में बारिश की संभावना, उमस से राहत

अगले कुछ घंटों में इन जिलों में बारिश के आसार

लखनऊ (लखनऊ) और आसपास के जिलों में बुधवार की सुबह शुरुआत की तेज रोशनी के बीच नहीं बल्कि बादलों की छांव के बीच हुई। कुछ ऐसा ही मौसम पूरे दिन बने रहने की गुंजाइश है। बादलों की आवाजाही के बीच हल्की बारिश भी संभव है।

लखनऊ। मौसम विभाग (मौसम विभाग) ने बुधवार के मौसम (मौसम) के लिए ताजा अनुमान जारी कर दिया है। इसके अनुसार तराई के कुछ जिलों में बारिश (बारिश) की संभावना बनी हुई है। राजधानी लखनऊ (लखनऊ) वासियों को भी उमस से राहत मिलने वाली है। अनुमान के मुताबिक लखनऊ तक लखनऊ और उसके आसपास के जिलों में भी बारिश की संभावना जताई गई है। जिन जिलों में अगले कुछ घंटों में बारिश की उम्मीद है वे जिले हैं लखनऊ, गोंडा, बहराइच, श्रावस्ती, लखीमपुर खीरी, बरेली और पीलीभीत।

बाकी सभी जिलों में मौसम सामान्य रहेगा

लखनऊ और आसपास के जिलों में बुधवार की सुबह शुरुआत की तेज रोशनी के बीच नहीं बल्कि बादलों की छांव के बीच हुई। कुछ ऐसा ही मौसम पूरे दिन बने रहने की गुंजाइश है। बादलों की आवाजाही के बीच हल्की बारिश भी संभव है। प्रदेश के बाकी सभी जिलों में मौसम सामान्य रहेगा। वैसे तो तेज धूप निकलेगी लेकिन कई जिलों में बादलों की आवाजाही से थोड़ी राहत मिल सकती है। बारिश न होने की सूरत में तेज उमस का भी सामना करना पड़ सकता है।

आकाशीय बिजली गिरने से 16 की जान चली गईवैसे तो मौसम विभाग ने किसी भी तरीके का कोई जवाब जारी नहीं किया था लेकिन फिर भी मौसम में आए बदलाव और आकाशीय बिजली ने प्रदेश में मंगलवार को कई लोगों की जान ले ली। छह जिलों में आकाशीय बिजली की चपेट में आने से 16 लोगों की जान चली गई। कुशीनगर में दो, जौनपुर में एक, काशांबी में तीन, गाजीपुर में चार, चंदौली में एक और चित्रकूट में 5 लोग आकाशीय बिजली की चपेट में आकर अपनी जान गंवा बैठे हैं। योगी सरकार ने सभी मृतकों के परिजनों को 4 लाख रुपये की सहायता राशि की घोषणा की है।

बाढ़ग्रस्त क्षेत्रों में राहत

दूसरी तरफ बारिश में आई कमी का साफ असर बाढ़ ग्रस्त जिलों पर देखने को मिल रहा है। 2 सप्ताह पहले जहां बाढ़ ग्रस्त जिलों की संख्या 20 थी, अब वह घटकर 3 रह गई है। सैकड़ों की संख्या में जो गांव टापू बने हुए थे वह भी जलजमाव की त्रासदी से बाहर निकल गए हैं। 3 जिलों के सिर्फ 28 गांव आज की तारीख में पानी से घिरे हैं।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

स्कूलों के फिर से बंद होने के बाद मिजोरम कोरोनावायरस के मामले बढ़ जाते हैं – फिर से बंद रहने के आदेश – मिजोरम...

मिजोरम में 16 अक्टूबर से स्कूलों को खोला गया था। (फाइल फोटो)खास बातेंमिजोरम में फिर से बंद होंगे स्कूल कोरोना केस आने के बाद...

बीजेपी मुक्त कोरोनावायरस वैक्सीन के बाद नि: शुल्क वादे जोहर बिडेन अमेरिका में हर किसी के लिए नि: शुल्क कोविद टीका लगाने का वादा...

बिहार विधानसभा चुनाव के साथ-साथ अमेरिका में भी राष्ट्रपति चुनाव को लेकर सरगर्मियां तेज हैं। जिस तरह बिहार में भारतीय जनता पार्टी...

Recent Comments