Saturday, September 24, 2022
HomeIndia'यूपी में अशांति और अराजकता फैला रहे हैं विपक्षी दल', स्‍वतंत्र देव...

'यूपी में अशांति और अराजकता फैला रहे हैं विपक्षी दल', स्‍वतंत्र देव सिंह का आरोप


Image Source : PTI/FILE
‘यूपी में अशांति और अराजकता फैला रहे हैं विपक्षी दल’, स्‍वतंत्र देव सिंह का आरोप

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में केंद्र सरकार के कृषि कानूनों के विरोध के दौरान भड़की हिंसा में चार किसानों समेत आठ लोगों की मौत के मामले में आंदोलित विपक्षी दलों पर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने निशाना साधते हुए उनपर राज्‍य में अशांति और अराजकता फैलाने का आरोप लगाया है।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने मंगलवार को एक बयान में कांग्रेस, सपा, बसपा सहित अन्य विपक्षी दलों पर निशाना साधते हुए कहा कि विपक्षी दल उत्तर प्रदेश में अशांति और अराजकता फैलाने पर आमादा हैं।

उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि विपक्षी दलों को किसानों के हित की चिंता नहीं है, उन्हें अपने वोट बैंक और अपने राजनीतिक हितों की चिंता ज्यादा है।उन्होंने कहा, ‘‘विपक्ष द्वारा किये जा रहे सियासी ड्रामे का सच जनता जानती है और कोई भी उनके झांसे में आने वाला नहीं है।’’

प्रदेश भाजपा अध्यक्ष ने कहा, ‘‘पीड़ित परिवार और किसान संगठन सरकार की कार्रवाई से संतुष्ट हैं लेकिन विपक्षी दल लगातार उन्हें भ्रमित करके उकसाने और राज्य में अस्थिरता पैदा करने का कुत्सित प्रयास कर रहे है, लेकिन वे अपने मंसूबों में सफल नहीं होंगे।

प्रदेश में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में राज्य की भाजपा सरकार अराजकता फैलाने का प्रयास करने वाले तत्वों के खिलाफ कड़ाई से पेश आएगी।’’ उन्होंने कहा कि राजनीतिक पर्यटन पर यूपी आने वाले कांग्रेस के नेता किसानों के नाम पर घड़ियाली आंसू बहाने का नाटक कर रहे हैं। 

स्वतंत्र देव सिंह ने कहा, ‘‘जिनके नाम किसानों के नरसंहार है, जिन्होंने किसानों की जमींने हड़पी, वही अब किसानों के नाम पर प्रदेश में अराजकता व हिंसा को बढ़ावा देने की साजिश रच रहे और किसानों को उकसाने की कोशिश कर रहे हैं।’’

स्‍वतंत्र देव सिंह ने चेतावनी देते हुए कहा कि प्रदेश में माहौल खराब करने की साजिश रचने वाले विपक्षी चेहरों को अच्छी तरह से समझ लेना चाहिए कि यह योगी सरकार है, कोई भी कानून के खिलाफ काम करेगा उसे बख्शा नहीं जाएगा।

(भाषा)





Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments