Saturday, October 24, 2020
Home Desh यदि चीन के साथ बातचीत हो सकती है, तो दूसरे पड़ोसी के...

यदि चीन के साथ बातचीत हो सकती है, तो दूसरे पड़ोसी के साथ क्यों नहीं: फारूक अब्दुल्ला – जब चीन से बात कर सकते हैं तो दूसरे पड़ोसी देश से क्यों नहीं? फारूक अब्दुल्ला का संसद में सरकार से सवाल


नेशनल कांफ्रेंस के नेता ने कहा कि जम्मू-कश्मीर में प्रगति होनी चाहिए थी लेकिन वहां कोई प्रगति नहीं हुई है।

नई दिल्ली:

जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री और लोकसभा सदस्य फारूक अब्दुल्ला ने शनिवार को केंद्र शासित प्रदेश की मौजूदा स्थिति का मुद्दा शनिवार को सदन में उठाया और कहा कि चीन की तरह दूसरे पड़ोसी देश से भी बातचीत होनी चाहिए। उन्होंने सदन में शून्यकाल के दौरान कहा कि वे उन सभी लोगों का आभार प्रकट करना चाहते हैं जिन्होंने अपनी हिरासत में रहने के दौरान समर्थन जताया। हिरासत से रिहा होने के बाद पहली बार लोकसभा में आपनी बात रखते हुए नेशनल कांफ्रेंस के नेता ने कहा कि जम्मू-कश्मीर में प्रगति होनी चाहिए थी लेकिन वहां कोई प्रगति नहीं हुई है।

यह भी पढ़ें

उन्होंने कहा, "आज हमारे बच्चों और दुकानदारों के पास 4 जी इंटरनेट की सुविधा नहीं है, जबकि पूरे देश में है।" उन्होंने जम्मू-कश्मीर में कुछ लोगों के कथित मुठभेड़ में मारे जाने का उल्लेख किया और कहा कि मुझे खुशी है कि सेना ने माना है कि शोपियां में गलती से तीन आदमी मारे गए थे। अब्दुल्ला ने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि संबंधित परिवारों को उचित मुआवजा मिलेगा।

'किसान बिल का समर्थन करना किसानों के डेथ वारंट पर दस्तखत करना होगा', कांग्रेस का सदन में सूरजोर विरोध

उन्होंने पाकिस्तान का नाम लिए बगैर कहा कि हम जिस तरह से चीन से बात कर रहे हैं उसी तरह पड़ोसी से बात करनी पड़ेगी, रास्ता निकालना पड़ेगा। अब्दुल्ला ने कहा कि अगर हिंदुस्तान तरक्की कर रहा है तो क्या जम्मू-कश्मीर को तरक्की नहीं करनी चाहिए। पिछले साल जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने और राज्य को दो केंद्रशासित प्रदेशों में बांटने के बाद सरकार ने फारुक अब्दुल्ला, उनके बेटे उमर अब्दुल्ला, पूर्व सीएम महबूबा मुफ्ती सहित कई नेताओं के नजरिए कर दिए थे।

वीडियो: आपने किसानों की आय दोगुनी करने का वादा किया था: डेरेक ओ ब्रायन

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने साझा नहीं किया है। यह सिंडीकेट ट्वीट से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

केजरीवाल ने कहा, पूरे देश को नि: शुल्क कोरोना वैक्सीन पाने का अधिकार है – केजरीवाल बोले, पूरे देश को कोरोना की मुक्त वैक्सीन...

नि: शुल्क कोरोना वैक्सीन: भाजपा ने बिहार में कोरोना की मुक्त वैक्सीन का चुनावी वादा किया हैनई दिल्ली: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल...

मोदी कैबिनेट से कर्ज लेने वालों को 2 करोड़ रुपये तक के कर्ज पर ब्याज में छूट दी गई है

मोदी क्रेन ने करोड़ों लोगों को दिवाली का तोहफा दिया है। केंद्र सरकार ने लोन मटोरोरियम की अवधि में ब्याज पर ब्याज...

Recent Comments