Monday, May 17, 2021
Home Pradesh Uttar Pradesh मुस्लिम धर्मगुरुओं ने सीएम योगी से की कोविड प्रोटोकॉल में रियायत की...

मुस्लिम धर्मगुरुओं ने सीएम योगी से की कोविड प्रोटोकॉल में रियायत की मांग, मिला ये जवाब


योगी आदित्यनाथ ने कहा कि इस समय मानवता को बचाने की आवश्यकता है।

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि इस समय मानवता को बचाने की आवश्यकता है।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने धर्मगुरुओं से संवाद में कहा है कि आस्था का सम्मान होना चाहिए लेकिन आस्था मानव के लिए है, मानव आस्था के लिए नहीं है। मानव ही नहीं रहेगा तो कुछ नहीं बचेगा। आस्था को किनारे रख मानवता बचाना होगा, इसलिए धर्मस्थलों के लिए बने मानकों का पालन करें और प्रशासन का सहयोग करें।

लखनऊ। सीएम योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को मुस्लिम धर्मगुरुओं के साथ संवाद कार्यक्रम किया। इस दौरान मुस्लिम धर्मगुरुओं ने सरकार से मांग की है कि रमज़ान को देखते हुए कोरोना नियंत्रण से जुड़े नियमों में कुछ ढ़ाल दी जाए। पहली मांग तो ये की गई कि नाइट कर्फ्यू को एक घंटा आगे बढ़ाया जाए। दूसरी मांग ये की गई कि धार्मिक स्थलों में एक बार में पांच लोगों के ही प्रवेश करने के नियम में भी ढील दी जाए। सीएम योगी आदित्यनाथ ने धर्मगुरुओं से संवाद में कहा है कि आस्था का सम्मान होना चाहिए लेकिन आस्था मानव के लिए है, मानव आस्था के लिए नहीं है। मानव ही नहीं रहेगा तो कुछ नहीं बचेगा। आस्था को किनारे रख मानवता बचाना होगा, इसलिए धर्मस्थलों के लिए बने मानकों का पालन करें और प्रशासन का सहयोग करें।

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के दौरान मौलाना खालिद रशीद फरंगी महली ने सीएम योगी से कहा कि दो नियमों में थोड़ी रियायत दी जाए क्योंकि रमजान का महीना शुरू हो गया है। उन्होंने कहा कि मुख्य सचिव ने आदेश जारी किया था कि खुली जगहों पर अधिकतम 100 लोग जबकि बंद स्थानों जैसे हॉल में अधिकतम 50 लोग जमा हो सकते हैं। ऐसे में यही नियम इबादतगाहों के लिए भी लागू किए जाएंगे।

बता दें कि सरकार ने कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए ये आदेश जारी किया था कि धर्म स्थलों में एक बार में पांच लोग ही प्रवेश करेंगे। इसी नियम में ढ़िलाई की मांग फरंगी महली कर रहे थे। उन्होंने और एक दूसरे मुस्लिम धर्मगुरु मौलाना कल्बे जव्वाद ने भी मांग की है कि नाइट कर्फ्यू को थोड़ा आगे बढ़ाया जाए। फरंगी महली के ही साथ कल्बे जव्वाद ने भी कहा कि रमजान के महीने में रोजा खुलते-खुलते रोजेदारों को रात के 8 बज जाते हैं। नाइट कर्फ्यू 9 बजे से प्रभावी हो जाता है। ऐसी दुकानों में आधे घंटे पहले ही बंद हो जाते हैं। इस कारण से रमज़ान की खरीदारी में बहुत समस्याएं आ रही हैं। ऐसे में रात 9 बजे की बजाय 10 बजे से नाइट कर्फ्यू लगाया जाएगा।

मुस्लिम धर्मगुरुओं की दोनों मांगों पर सीएम योगी ने जवाब देते हुए कहा, “मौलाना साहब मैं आपका दिल धन्यवाद अदा करता हूं। पिछली बार भी साल 2020 में जब हम लोगों ने संवाद बनाया था उस समय प्रदेश में आप सभी लोगों ने शासन / इस प्रोटोकॉल के हिसाब से ही प्रदेश की जनता से और अपने सभी अनुयायियों से इसके लिए अपील भी जारी की थी और इसके लिए निर्देश भी जारी किया था कि इस समय मानवता को बचाने की आवश्यकता है। ” उन्होंने आगे कहा, “प्रदेश सरकार ने वर्तमान में भी कोरोना के खिलाफ इस लड़ाई में ये निर्देश उसी क्रम में जारी किए हैं। आपने कुछ सुझाव दिए हैं सरकार इसका संज्ञान लेगी और जो भी इस संबंध में आवश्यक निर्णय होगा, उसके बारे में निश्चित रूप से आपको। अवगत कराया जाएगा। “








Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

2021 वोक्सवैगन टी-आरओसी की भारत में लॉन्च करने के लिए,…

डिजिटल नई दिल्ली। संचार के मामले में नियामक वोक्सवैगन (क्वाक्सवेगन) ने मार्च 2021 में टी-रॉक (टी-रोक) को भारत में इस्तेमाल किया...

छोटे कद का बड़ा धमाल, इन स्‍तंभों में कैमरा ने कहा कि कम माटा

बाजार में तेज गति से चलने वाला ने धमाल मचाते हुए अपने दिमाग को हल्का कर दिया।'' ऐरान ने जहां 20...

Recent Comments