Thursday, October 22, 2020
Home Pradesh Uttar Pradesh मुख्य आरोपी धीरेंद्र प्रताप सिंह पर एनएसए और गैंगस्टर एक्ट लगेगा

मुख्य आरोपी धीरेंद्र प्रताप सिंह पर एनएसए और गैंगस्टर एक्ट लगेगा


मुख्य आरोपी धीरेंद्र प्रताप सिंह पर एनएसए और गैंगस्टर एक्ट लगेगा

मुख्य आरोपी धीरेंद्र प्रताप सिंह पर एनएसए और गैंगस्टर एक्ट लगेगा

इस बीच दोनों पक्षों में मारपीट शुरू हो गई। आरोप है कि धीरेंद्र ने अपनी पिस्टल (पिस्टल) से फायरिंग शुरू कर दी, जिसमें जयप्रकाश उर्फ ​​गामा पाल की गोली लगने से मौत हो गई।

  • News18Hindi
  • आखरी अपडेट:
    18 अक्टूबर, 2020, 12:27 बजे IST

लखनऊ। उत्तर प्रदेश (उत्तर प्रदेश) के बलिया (बलिया) में कोटे की दुकान के आवंटन को लेकर प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा बुलाई गई खुली बैठक में एक शख्स की गोली मारकर हत्या के मामले में मुख्य आरोपी धीरेंद्र सिंह (धीरेंद्र सिंह) एनएसए और गैंगस्टर एक्ट के तहत मामला स्थानांतरित इससे पहले पुलिस उप महानिरीक्षक सुभाष चंद्र दुबे ने बताया कि हत्या के आरोपी धीरेंद्र सिंह सहित बाकी आरोपियों पर एनएसए और गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई की जाएगी। उधर, रविवार को हत्या के मामले में फरार चल रहे मुख्य आरोपी धीरेंद्र सिंह को एसटीएफ (एसटीएफ) ने राजधानी लखनऊ (लखनऊ) से गिरफ्तार कर लिया है।

दो नामजद अभियुक्त और गिरफ्तार

पुलिस ने दो नामजद अभियुक्त और 50-50 हजार के इनामी संतोष यादव और अमरजीत यादव को भी गिरफ्तार किया है। अपने आप ही मुख्य आरोपी सहित छह लोगों के खिलाफ रासुका और गैंगस्टर के तहत भी कार्रवाई की है।

ये पूरा मामला हैबलिया जिले की ग्राम सभा दुर्जनपुर व हनुमानगंज की कोटे की दो दुकानों के आवंटन के लिए गुरुवार दोपहर को पंचायत भवन में खुली बैठक का आयोजन किया गया था। इसमें एसडीएम बैरिया सुरेश पाल, सीओ बैरिया चंद्रकेश सिंह और बीडीओ बैरिया गजेंद्र प्रताप सिंह के साथ ही रेवती थाने की पुलिस फोर्स मौजूद थी। दुकानों के लिए चार स्वयं सहायता समूहों ने आवेदन किया, जिसमें दो समूहों मां सायर जगदंबा स्वयं सहायता समूह और शिव शक्ति स्वयं सहायता समूह के बीच दांव लगाने का निर्णय लिया गया।

अधिकारियों ने कहा कि वोटिंग वहाँ जिसके पास आधार या अन्य कोई पहचान पत्र होगा। एक पक्ष के पास आधार व पहचान पत्र मौजूद था, लेकिन दूसरे पक्ष के पास कोई आईडी प्रूफ नहीं था। इसको लेकर दोनों पक्षों के बीच विवाद शुरू हो गया है। मामला बिगड़ने को देखते हुए बैठक की कार्रवाई को स्थगित कर दिया गया। इस बीच दोनों पक्षों में मारपीट शुरू हो गई। आरोप है कि धीरेंद्र ने अपनी पिस्टल से फायरिंग शुरू कर दी, जिसमें जयप्रकाश उर्फ ​​गामा पाल की गोली लगने से मौत हो गई।

(रिपोर्ट- मनीष मिश्रा)



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

दिवाली पर भारत में लॉन्च होगी निसान मैग्नेट, जानिए क्या होगी कीमत SUV: निसान मैग्नेट इंडिया में दिवाली पर होगी लॉन्च, जानें क्या होगी...

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। कार निर्माता निसान (निसान) की आगामी सभी कॉम्पैक्ट एसयूवी मैग्नाइट (मैग्नेट) लंबे समय से चर्चा में है।...

RBI गवर्नर ने कहा – आर्थिक पुनरुद्धार के मुहाने पर भारत – रिजर्व बैंक के गवर्नर ने कहा – भारत आर्थिक पुनरोद्धार के मुद्दे...

भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास - फाइल फोटोनई दिल्ली: भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास ने बुधवार को कहा कि...

अपराधियों को कानून का डर होना चाहिए, कहा जाता है कि प्रधान मंत्री योगी आदित्यनाथ – CM योगी आदित्यनाथ बोले

कानपुर के सतरू कांड में शहीद हुए पुलिसकर्मियों के परिवारीजनों को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार सुबह पुलिस लाइन में सम्मानित किया।...

Recent Comments