Friday, January 21, 2022
HomeUttar Pradeshमुख्यमंत्री ने  गोरखपुर में  334 विकास परियोजनाओं का लोकार्पण व शिलान्यास किया

मुख्यमंत्री ने  गोरखपुर में  334 विकास परियोजनाओं का लोकार्पण व शिलान्यास किया

इन परियोजनाओं में गोरखपुर विकास प्राधिकरण की लगभग 316.64 करोड़ रु0 की परियोजनाओं का लोकार्पण एवं 616 करोड़ रु0 की परियोजनाओं का शिलान्यास तथा लोक निर्माण विभाग एवं ग्रामीण अभियंत्रण विभाग की 22 करोड़ रु0 की 22 परियोजनाओं का लोकार्पण शामिल
मुख्यमंत्री ने 1,261 दिव्यांग बच्चों को सहायक उपकरण वितरित किए
गोरखपुर मण्डल के 414 पूर्ण दृष्टिबाधित बच्चों को अनुकूलित टैबलेट, जनपद गोरखपुर के 316 पूर्ण श्रवणबाधित बच्चों को श्रवण यंत्र तथा 264 मानसिक मंदित छात्रों को एम0आर0 किट, 55 पूर्ण दृष्टिबाधित बच्चों को ब्रेल किट तथा उ0प्र0 मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना के तहत बच्चों को लैपटॉप का वितरण
आज का दिन विशेष महत्वपूर्ण, 19 दिसम्बर, 1927 को देश की आजादी में अपने आप को बलिदान करने वाले पं0 राम प्रसाद बिस्मिल, अशफाक उल्ला खां तथा ठा0 रोशन सिंह जैसे क्रान्तिकारियों को फांसी की सजा हुई थी
07 दिसम्बर, 2021 को प्रधानमंत्री द्वारा गोरखपुर में एम्स व उर्वरक कारखाने का उद्घाटन किया गया
गोरखपुर में विकास की विभिन्न योजनाएं संचालित, शीघ्र ही नगर निगम के नए भवन का लोकार्पण होगा, वॉटर स्पोर्ट्स का नया आधुनिक केन्द्र बन रहा
श्री काशी विश्वनाथ धाम विकास एवं समग्रता के प्रतीक का बेहतरीन केन्द्र बना, भगवान शिव की आस्था एवं श्रमिकों को सम्मान मिला

 

लखनऊ,

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ   ने   गोरखपुर में 955 करोड़ रुपए की लागत की 334 विकास परियोजनाओं का लोकार्पण व शिलान्यास किया। इनमें गोरखपुर विकास प्राधिकरण की लगभग 316.64 करोड़ रुपए की परियोजनाओं का लोकार्पण एवं 616 करोड़ रुपए की परियोजनाओं का शिलान्यास तथा लोक निर्माण विभाग एवं ग्रामीण अभियंत्रण विभाग की 22 करोड़ रुपए की 22 परियोजनाओं का लोकार्पण शामिल है।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री   ने 1,261 दिव्यांग बच्चों को सहायक उपकरण वितरित किए। इसके अन्तर्गत गोरखपुर मण्डल के 414 पूर्ण दृष्टिबाधित बच्चों को अनुकूलित टैबलेट, जनपद गोरखपुर के 316 पूर्ण श्रवणबाधित बच्चों को श्रवण यंत्र तथा 264 मानसिक मंदित छात्रों को एम0आर0 किट, 55 पूर्ण दृष्टिबाधित बच्चों को ब्रेल किट तथा उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना के तहत बच्चों को लैपटॉप का वितरण किया गया।

मुख्यमंत्री  ने महंत दिग्विजयनाथ पार्क में आयोजित कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए कहा कि आज का दिन विशेष महत्वपूर्ण है। 19 दिसम्बर, 1927 को देश की आजादी में अपने आप को बलिदान करने वाले पं0 राम प्रसाद बिस्मिल, अशफाक उल्ला खां तथा ठा0 रोशन सिंह जैसे क्रान्तिकारियों को फांसी की सजा हुई थी।

मुख्यमंत्री   ने कहा कि विकास का कोई विकल्प नहीं होता। विकास की प्रक्रिया का ही यह परिणाम है कि गोरखपुर निरन्तर प्रगति के पथ पर अग्रसर है। विगत 07 दिसम्बर, 2021 को प्रधानमंत्री जी द्वारा गोरखपुर में एम्स व उर्वरक कारखाने का उद्घाटन किया गया था। यह उर्वरक कारखाना अब किसानों को भरपूर मात्रा में खाद उपलब्ध कराएगा। इसके अलावा, रोजगार के सृजन के साथ-साथ आत्मनिर्भरता के लक्ष्य को भी प्राप्त करेगा। गोरखपुर में अन्तर्राष्ट्रीय मानक के स्वास्थ्य की बेहतरीन सुविधा के केन्द्र के रूप में एम्स की स्थापना हुई है। इंसेफ्लाइटिस के मामले भी अब समाप्त हो गए हैं। उन्होंने कहा कि जब कोई बड़ा प्रोजेक्ट आता है, तो वह अपने साथ अनेक योजनाएं लेकर आता है। आज यहां उसका लाभ प्राप्त हो रहा है।

मुख्यमंत्री  ने कहा कि गोरखपुर में विकास की विभिन्न योजनाएं संचालित हैं। शीघ्र ही नगर निगम के नए भवन का लोकार्पण होगा। यहां पर वॉटर स्पोर्ट्स का नया आधुनिक केन्द्र बन रहा है। वॉटर स्पोर्ट्स से यहां के नौजवानों को आगे बढ़ने की प्रेरणा मिलेगी। उन्होंने कहा कि विकास की योजनाओं में सभी को योगदान देना चाहिए। श्री काशी विश्वनाथ धाम विकास एवं समग्रता के प्रतीक का बेहतरीन केन्द्र बना है। जहां भगवान शिव की आस्था एवं श्रमिकों को सम्मान मिला है। उन्होंने कहा कि स्वच्छता को अपने जीवन का हिस्सा बनाना होगा। समाज के हर एक व्यक्ति को सम्मान देना होगा। विकास के लिए जब सार्थक समग्र सोच के साथ हम कार्य करना प्रारम्भ करेंगे, तो निश्चित ही सकारात्मक परिणाम भी प्राप्त होंगे।

सांसद   रविकिशन शुक्ल, महापौर   सीताराम जायसवाल तथा विधायक   विपिन सिंह ने भी कार्यक्रम को सम्बोधित किया। इस अवसर पर जनप्रतिनिधिगण तथा शासन-प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments