Thursday, August 5, 2021
Home Pradesh Uttar Pradesh मिशन शक्ति- यूपी के हर थाने में महिला हेल्प डेस्क के लिए...

मिशन शक्ति- यूपी के हर थाने में महिला हेल्प डेस्क के लिए सुविधाओं से लैस ग्लास रूम होगा


लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (सीएम योगी आदित्यनाथ) ने कहा है कि प्रदेश के सभी 1535 थानों (पुलिस स्टेशनों) में महिलाओं की समस्याओं का पूरी संवेदनशीलता के साथ समाधान निकल सके, इसके लिए मिशन शक्ति अभियान (मिशन शक्ति) के तहत महिला हेल्प डेस्क (महिला हेल्प डेस्क) की स्थापना का अभिनव कार्यक्रम एक साथ प्रारम्भ किया जा रहा है। अपने सरकारी आवास पर सीएम योगी ने समूह माध्यम से महिला हेल्प डेस्क का अधिग्रहण किया।

7 दिन में कई कार्यक्रम शुरू किए गए

सीएम ने कहा कि पिछले 7 दिनों में अभियान के माध्यम से कई प्रकार के कार्यक्रम प्रारम्भ किए गए हैं। समाज से जुड़ी तमाम समस्याओं को जानने, समझने और उनके समाधान तलाशने के लिए एक नया मंच प्रस्तुत करने का प्रयास किया गया है। मिशन शक्ति अभियान के माध्यम से हम रचनात्मक रूप से प्रत्येक बहन, बेटी के मन में सुरक्षा, सम्मान और स्वावलम्बन का नया भाव जाग्रत करने में सफल होंगे।

अगले साल नवरात्रि तक चलेगा मिशन शक्तिसीएम ने कहा कि ये अभियान अगले साल बासंतिक नवरात्रि तक जारी रहेगा। आज सातवें दिन 1535 थानों में महिला हेल्प डेस्क का विंब मिशन शक्ति अभियान को नई ऊंचाइयों तक पहुंचाने जैसा है। मुख्यमंत्री जी ने कहा कि पुलिस समाज के संपर्क में सबसे पहले आता है। सुरक्षा प्रदान करने, मदद करने या फिर समाज के किसी भी अभियान से सबसे पहले पुलिस जुड़ती है। पिछले दिनों में पुलिस के कई कार्य दिखाई दिए।

ग्लास रूम में सभी तरह की आवश्यक सुविधाएं हैं

सीएम ने कहा कि हर प्रत्येक थाने में महिला हेल्प डेस्क के लिए एक अलग से कमरा होना चाहिए। ये पारदर्शी हो, जिसमें ग्लास लगा हो। कक्ष में बैठने की उचित व्यवस्था, शुद्ध पेयजल, सीसीटीवी, कंप्यूटर, पंजीकरण की सुविधा, आवेदक महिला के लिए प्रार्थना पत्र लेखन के लिए स्टेशनरी की व्यवस्था होनी चाहिए। इसके अलावा, महिला अधिकारी या कर्मचारी की तैनाती होनी चाहिए। कक्ष के बाहर महिला हेल्प डेस्क स्पष्ट रूप से लिखा जाना चाहिए। साथ ही, महिला कल्याण और सुरक्षा सम्बन्धी हेल्प लाइन यथा 1090, 102, 108, 112 और 1076 आदि नम्बरों को प्रदर्शित किया जाना चाहिए। साथ ही गलत या फेक कॉल पर सजा का प्रावधान है, ये चेतावनी भी अंकित हो। इससे पूर्व पीड़िता को त्वरित सहायता और तय समय-सीमा में न्याय दिलाने की प्रक्रिया को आगे बढ़ाया जा सकता है।

योगी महिला

यूपी में महिला हेल्प डेस्क की शुरुआत के दौरान संवाद करते सीएम योगी आदित्यनाथ

समय-समय पर समीक्षा होगी

सीएम ने कहा कि मिशन शक्ति अभियान से जुड़े सभी विभागों की कार्रवाई की समीक्षा मुख्य सचिव कार्यालय और मुख्यमंत्री कार्यालय द्वारा की जाएगी। समीक्षा में पिछले कुल 9 दिन में किए गए कार्यों को देखा जाएगा। प्रत्येक विभाग की आगामी 100 दिन और एक 180 दिन की अभियान संबंधीधी कार्ययोजना की भी समीक्षा की जाएगी। मिशन शक्ति अभियान को हमें स्पष्टता नहीं बनने देना है।

कार्यक्रम के दौरान मिशन शक्ति पर केन्द्रित एक लघु फिल्म भी दिखाई गई। इस अवसर पर मुख्यमंत्री जी ने वर्ग माध्यम से जनपद गौतमबुद्ध नगर, लखनऊ, वाराणसी, मेरठ और आगरा के पुलिस अधिकारियों, एनजीओ के पदाधिकारियों व स्कूल के अध्यापकों से संवाद किया।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने कहा- ‘महिलाएं आनंद की वस्तु हैं’ पुरुष वर्चस्व की इस मानसिकता से सख्ती से निपटना जरूरी, पढ़ें मामला

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने एक महत्वपूर्ण आदेश में कहा है कि शादी का झूठा वादा कर यौन संबंध बनाना कानून में दुराचार का अपराध...

2020 से बेहतर हुई यूपी के खजाने की स्थिति, जुलाई में 12655 करोड़ आए : सुरेश खन्ना

प्रदेश में कोरोना संक्रमण पर प्रभावी नियंत्रण का सकारात्मक असर राज्य की आर्थिक गतिविधियों में नजर आने लगा है। चालू वित्तीय वर्ष के...

सदर अस्पताल प्रांगन में ऑक्सीजन प्लांट की भी शुरुआत हो जाएगी: सिविल सर्जन सिविल सर्जन की अध्यक्षता में स्वास्थ्य विभाग की मासिक समीक्षात्मक...

संवाददाता - धर्मेंद्र रस्तोगी बैठक में स्वास्थ्य विभाग के सभी कार्यक्रम की समीक्षा की गई अन्य प्रदेश से आने वाले सभी व्यक्तियों की जांच आवश्यक: किशनगंज, जिले में...

विश्व स्तनपान सप्ताह: स्वास्थ्यकर्मी स्तनपान को लेकर कर रहे जागरूक

संवाददाता - धर्मेंद्र रस्तोगी एनएफएचएस—5 की रिपोर्ट जिला में 42.4 फीसदी शिशु ही कर पाते हैं पहले घंटे में स्तनपान: नियमित स्तनपान से शिशुओं को गंभीर...

Recent Comments