Sunday, October 2, 2022
HomeUttar Pradeshमदरसों के सर्वे से डरना क्यों, जब कुछ गलत नहीं हो रहा......

मदरसों के सर्वे से डरना क्यों, जब कुछ गलत नहीं हो रहा… अखिलेश और नीतीश पर ब्रजेश पाठक का सीधा निशाना


आगरा: उत्तर प्रदेश में मदरर्सों के सर्वे को लेकर बखेड़ा खड़ा हो गया है। विपक्ष और मुस्लिम संगठन के लोग सरकार के इस कदम का विरोध कर रहे हैं। हालांकि सीएम योगी के इस फैसले की सराहना करते हुए डेप्यूटी सीएम ब्रजेश पाठक का कहना है कि प्रदेश में किसी भी प्रकार की असामाजिकता, अराजकता नहीं होने देंगे। अगर मदरसों में कोई गैरकानूनी गतिविधियां संचालित नहीं हैं तो सर्वे से डरना नहीं चाहिए। डेप्यूटी सीएम शनिवार को आगरा में थे। उन्होंने सर्किट हाउस में आयोजित प्रेसवार्ता में विपक्षियों को सीधे निशाने पर लिया। खासतौर पर समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव पर तंज कसते हुए कहा कि सपा ने गुंडों और माफियाओं को बढ़ावा दिया है।

लखनऊ में सपा कार्यालय के बाहर लगे बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और अखिलेश यादव के पोस्टर से विपक्ष की राजनीति को गर्मा दिया है। 2024 के लोकसभा चुनाव से पहले सियासी दलों में बड़ी उथल-पुथल होने की आशंकाएं हैं। सर्किट हाउस में प्रेसवार्ता को संबोधित करते हुए ब्रजेश पाठक से जब इस पोस्टर पर सवाल किया तो उन्होंने साफ तौर पर कुछ भी कहने से इनकार कर दिया। उन्होंने कहा कि उनसे प्रदेश सरकार की योजनाओं और आगरा के बारे में बात करें। हालांकि एक सवाल पर वे बोल गए कि समाजवादी पार्टी को लगातार मिल रही हार से सभी विपक्षी दल हताश हैं। चार-चार चुनाव में बीजेपी ने समाजवादी पार्टी को करारी शिकस्त दी है। 2014, 2017, 2019 और 2022 में बीजेपी ने प्रचंड बहुमत से जीत हासिल की है। अब 2024 में भी 80 सीटों पर बीजेपी जीतकर आएगी।

अखिलेश पर साधा निशाना
डेप्युटी सीएम ब्रजेश पाठक ने कहा कि समाजवादी पार्टी ने गुंडों और माफियाओं को बढ़ावा दिया है। उन्होंने कहा कि एक सप्ताह पहले आजमगढ़ की जेल में वे एक माफिया से किस तरह से मिले हैं। इससे साफ जाहिर हो रहा है कि सपा में गुंडों, माफियाओं को संरक्षण मिलता रहा है। उन्होंने अखिलेश पर निशाना साधते हुए कहा कि अखिलेश की दुकान का शटर बंद हो चुका है। अब वे सोशल साइट्स, ट्विटर तक ही सीमित रह गए हैं।

बाढ़ पीड़ितों की मदद का दिलाया भरोसा
विपक्ष की राजनीति पर किए गए सवालों पर डेप्यूटी सीएम ब्रजेश पाठक लगातार बचते हुए नजर आए। कई सवालों का उन्होंने कोई जवाब नहीं दिया। उन्होंने डेंगू के बढ़ते प्रकोप पर कहा कि दो बार संचारी अभियान चलाया जा चुका है। जहां भी केस मिल रहे हैं, वहां स्वास्थ्य विभाग लगातार चेकिंग कर रहा है। उन्होंने बाढ़ पीड़ितों की मदद का भरोसा भी जताया।
रिपोर्ट – सुनील साकेत



Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments