Saturday, January 16, 2021
Home Desh मकर संक्रांति, पोंगल के बहाने केंद्र पर राहुल गांधी का लक्ष्य, आंदोलनकारी...

मकर संक्रांति, पोंगल के बहाने केंद्र पर राहुल गांधी का लक्ष्य, आंदोलनकारी किसानों को विशेष शुभकामनाएं


मकर संक्रांति, पोंगल के बहाने केंद्र पर राहुल गांधी का लक्ष्य, आंदोलनकारी किसानों को विशेष शुभकामनाएं

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने मकर संक्रांति, पोंगल बिहू के अवसर पर देशवासियों को शुभकामनाएं दी हैं।

खास बातें

  • मकर संक्रांति, पोंगल के बहाने केंद्र सरकार पर राहुल गांधी का निशाना
  • आंदोलनरत किसानों को दी गई विशेष शुभकामनाएँ, प्रार्थना
  • TN गो हैंगलीकट्टू समारोह के बनेंगे गवरेज

नई दिल्ली:

कांग्रेस (कांग्रेस)) के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (राहुल गांधी) ने आज मकर संक्रांति, पोंगल बिहू के अवसर पर देशवासियों को शुभकामनाएं दी हैं। इसके साथ ही उन्होंने विवादास्पद कहा कृषि कानून (नए कृषि कानून) के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसानों को “विशेष प्रार्थना और शुभकामनाएं” दी हैं। इसके बहाने उन्होंने केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर भी निशाना साधा है।

यह भी पढ़ें

राहुल गांधी ने ट्वीट किया है, “फसल कटाई का मौसम आनंद और उत्सव का समय होता है। मकर संक्रांति, पोंगल, बिहू, भोगी और उत्तरायण की बहुत-बहुत शुभकामनाएं! हमारे उन किसान-मज़दूर मुसलमानों के लिए विशेष प्रार्थनाएँ और शुभकामनाएँ जोशीले!” ताकतों के खिलाफ अपने अधिकारों के लिए लड़ रहे हैं। “

कृषि कानूनों को लेकर मोदी सरकार पर राहुल गांधी का वार- ‘अन्नदाता की सोच है आपका इरादा’

कांग्रेस नेता ने अपने दूसरे ट्वीट में आज के TN दौरे के बारे में भी लिखा है। उन्होंने लिखा है कि वह आज विवादित जल्लीकट्टू उत्सव के गवाह बनेंगे। उन्होंने तमिल में लिखा, “मैं आज आपके साथ पोंगल मनाने वाली तमिलनाडु आ रहा हूं। मैं मदुरै में जल्लीकट्टू उत्सव में भाग लूंगा।” दक्षिणी राज्य के कांग्रेस प्रमुखों ने कहा कि उनकी यात्रा “किसानों और साहसी तमिल संस्कृति का सम्मान है।”

किसान कानून पर ममता सरकार के मंत्री ने जाम किया हाइवे, दूसरे रास्ते ले जाई गई वैक्सीन वैन: सूत्र

न्यूज़बीप

बता दें कि दिल्ली की सीमा पर तीनों नए कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग पर विरोध-प्रदर्शन कर रहे हजारों किसानों का समर्थन कर रहे हैं। इन प्रदर्शनकारियों में पंजाब, हरियाणा और अन्य राज्यों के किसान शामिल हैं। उनका आरोप है कि केंद्र सरकार ने नए कानून के जरिए उन्हें कॉरपोरेट्स के भरोसे छोड़ दिया है।

वीडियो- कृषि कानूनों पर बनी समिति 2 महीने में रिपोर्ट पर किसान नेता चर्चा के लिए तैयार नहीं है





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

देखिये कैसे कार में लगे हुए ब्रायलर कैमरा से पकड़ा गया और रन का आरोपी

नई दिल्ली: दिल्ली पुलिस ने एक हिट एंड रन (हिट एंड रन) के एक केस में एक दूसरी कार में लगे ब्रोडबोर्ड कैमरे...

विदेशी मुद्रा भंडार 586 अरब डॉलर के रिकॉर्ड स्तर पर

देश का विदेशी मुद्रा भंडार 8 जनवरी को समाप्त सप्ताह में 75.8 करोड़ डॉलर 586.08 अरब डॉलर के नए रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच...

कोरोनाकैनीकरण के लिए हिमाचल प्रदेश तैयार, वैक्लाइन की खेप मिली: सीएम जयराम ठाकुर

नई दिल्ली: कोरोना टीकाकरण: कोरोना के खिलाफ देश का टीकाकरण अभियान शनिवार, 16 जनवरी से प्रारंभ हो रहा है। देश के...

Recent Comments