Thursday, August 5, 2021
Home Pradesh Uttar Pradesh भाजपा नेता की हत्या के आरोप में मुख्य आरोपी सहित तीन गिरफ्तार

भाजपा नेता की हत्या के आरोप में मुख्य आरोपी सहित तीन गिरफ्तार


भाजपा नेता की हत्या के आरोप में तीन गिरफ्तार (फाइल फोटो)

भाजपा नेता की हत्या के आरोप में तीन गिरफ्तार (फाइल फोटो)

घटना के बाद ग्रामीणों में आक्रोश व्याप्त हो गया है टुंडला आगरा मार्ग जाम कर दिया। वहीं, पुलिस (पुलिस) के आला अधिकारियों के द्वारा दिए गए आश्वाशन के बाद लगभग आठ घंटे बाद जाम खुलवा दिया गया।

  • News18Hindi
  • आखरी अपडेट:
    17 अक्टूबर, 2020, 1:44 PM IST

फिरोजाबाद। उत्तर प्रदेश के फिरोजाबाद जनपद (फिरोजाबाद जिला) में बीजेपी नेता पर तमततोड़ गोलियां बरसाईं। इससे बीजेपी नेता डीके गुप्ता की दर्दनाक मौत हो गई। मामले में पुलिस ने तीन नामजद आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस की गिरफ्त में आए तीनों आरोपियों आपस में रिश्तेदार हैं। इस हत्याकांड में एक अन्य आरोपी अभी भी फरार है। एडीजी आगरा अजय आनंद ने कहा कि पकड़ में आए मुख्य आरोपी सहित तीन लोगों से पूछताछ की जा रही है। शव पोस्टमार्टम के बाद उनके निवास पर भेजा गया है।

जानकारी के मुताबिक, पूरी घटना जनपद फ़िरोज़ाबाद के थाना नारखी क्षेत्र के नगला बीच कस्बे की है, जहां शाम शाम लगभग साढ़े आठ बजे भाजपा मंडल उपाध्यक्ष दयाशंकर गुप्ता रोज की तरह अपनी दुकान बंद कर रहे थे। केवल गांव का ही वीरेश तोमर अपने दो साथियों के साथ बाइक पर आया। इससे पहले कि दयाशंकर कुछ समझ पाते हैं दबंगों ने भाजपा नेता दयाशंकर गुप्ता उर्फ़ डीके गुप्ता पर तात्यातोड़ गोलियां बरसा दीं। घटना को अंजाम देने के बाद तीनों दबंग हथियार लहराते हुए मौके से फरार हो गए। फिर आनन- फानन में दयाशंकर गुप्ता को अस्पताल ले जाया गया जहां, डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। घटना के बाद ग्रामीणों में आक्रोश व्याप्त हो गया है टुंडला आगरा मार्ग जाम कर दिया। वहीं, पुलिस के आला अधिकारियों के द्वारा दिए गए आश्वाशन के बाद लगभग आठ घंटे बाद जाम खुलवा दिया गया।

घटना के पीछे प्रज्ञा की रंजिश

वहीं, घटना के पीछे प्रज्ञा की रंजिश बताई जा रही है, जिसमें डीके गुप्ता द्वारा 2015 में प्रधानी चुनाब लड़े थे। इस दरम्यान इसका अन्य विरोधी गुट से झगड़ा भी हुआ था। बताया जाता है कि दबंगों ने 2 दिन पूर्व दयाशंकर को जान से मारने की धमकी भी दी थी और आज इस घटना को अंजाम दिया गया है। वहीं, सूत्रों की माने तो इस बार भी मृतक डीके अपने गांव में प्रधानी का चुनाव लड़ने की तैयारी कर रही थी। जितने की पूरी उम्मीद थी। इसके लिए भी आरोपियों द्वारा हत्या की आशंका जताई जा रही है।इलाके में नाकाबंदी

वर्तमान घटना की जानकारी मिलते ही आगरा एडीजी जॉन अजय आनंद और आईजी जॉन सतीश गणेश सहित जिले के आला अधिकारीयो के साथ बीजेपी के जिला स्तर के नेता और जन प्रतिनिधित्व भी घटना स्थल पर पहुंच गए। वहीं, पुलिस अधिकारियों ने घटना स्थल का मौका- मुआयना किया। पुलिस ने दबंगों को पकड़ने के लिए क्षेत्र में नाकाबंदी कर दी है। वर्तमान में अभी तक पुलिस आरोपियों को पकड़ने नाकाम रही है।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

2020 से बेहतर हुई यूपी के खजाने की स्थिति, जुलाई में 12655 करोड़ आए : सुरेश खन्ना

प्रदेश में कोरोना संक्रमण पर प्रभावी नियंत्रण का सकारात्मक असर राज्य की आर्थिक गतिविधियों में नजर आने लगा है। चालू वित्तीय वर्ष के...

सदर अस्पताल प्रांगन में ऑक्सीजन प्लांट की भी शुरुआत हो जाएगी: सिविल सर्जन सिविल सर्जन की अध्यक्षता में स्वास्थ्य विभाग की मासिक समीक्षात्मक...

संवाददाता - धर्मेंद्र रस्तोगी बैठक में स्वास्थ्य विभाग के सभी कार्यक्रम की समीक्षा की गई अन्य प्रदेश से आने वाले सभी व्यक्तियों की जांच आवश्यक: किशनगंज, जिले में...

विश्व स्तनपान सप्ताह: स्वास्थ्यकर्मी स्तनपान को लेकर कर रहे जागरूक

संवाददाता - धर्मेंद्र रस्तोगी एनएफएचएस—5 की रिपोर्ट जिला में 42.4 फीसदी शिशु ही कर पाते हैं पहले घंटे में स्तनपान: नियमित स्तनपान से शिशुओं को गंभीर...

कोरोना टीका के महत्व को जाना तो खुद के साथ पूरे परिवार को दिलाया टीका

संवाददाता - धर्मेंद्र रस्तोगी लोगों को जागरूक करने व टीकाकरण को बढ़ावा देने में अखबारों की भूमिका महत्वपूर्ण: जिले में टीकाकरण को गति देने में जागरूकता...

Recent Comments