Thursday, November 26, 2020
Home Pradesh Uttar Pradesh बलिया फायरिंग मामले के आरोपियों का बचाव करते भाजपा विधायक सुरेंद्र सिंह...

बलिया फायरिंग मामले के आरोपियों का बचाव करते भाजपा विधायक सुरेंद्र सिंह – बलिया कांड पर आरोपी के बचाव में उतरे भाजपा विधायक सुरेंद्र सिंह, बोले


उत्तर प्रदेश के बलिया में सस्ते गल्ले की दुकान के चयन को लेकर बुलाई गई बैठक में पुलिस के सामने ही एक युवक की गोली मारकर हत्या कर दी गई है। बताया जा रहा है कि गोली चलाने वाला आरोपी भारतीय जनता पार्टी का नेता है।

इसी तरह भारतीय जनता पार्टी के बलिया के भाजपा विधायक सुरेंद्र सिंह का कहना है कि घटना बहुत ही परेशान करने वाली है, यह नहीं होना चाहिए था, लेकिन मैं प्रशासन की एकतरफा जांच की निंदा करता हूं। घटना में घायल हुई छह महिलाओं के दर्द को कोई नहीं देख रहा है। धीरेंद्र सिंह यह फायरिंग आत्मरक्षा में का था। उनका कहना है कि उसने गोली नहीं चलाई होती है तो उसके दर्जनों रिश्तेदार मारे जाते हैं। गलत काम करने वालों को कानून के तहत सजा मिलनी चाहिए। लेकिन पुलिस को अन्य समूहों के खिलाफ भी कार्रवाई करनी चाहिए, जिन्होंने महिलाओं पर लाठी, लोहे की छड़ों से हमला किया। आपको बता दें कि धीरेंद्र सिंह वही आरोपी है जिस पर गोली चलाने का आरोप है।

गौरतलब है कि बलिया जिले के रेवती क्षेत्र में गुरुवार को कोटा आवंटन को लेकर खुली बैठक के दौरान ही एक युवक की गोली मारकर हत्या कर दी गई। उसे तार्थातोड़ चार गोलियां मारी गई। पुलिस के सामने ही हुई वारदात से सनसनी फैल गई है। अफरातफरी के बीच विवाद और मारपीट में कई लोग घायल भी हुए हैं। घायलों को सीएचसी सोनबरसा में भर्ती कराया गया है। तनाव को देखते हुए गांव में कई थानों की पुलिस तैनात कर दी गयी है। साथ ही कुछ लोगों को हिरासत में भी लिया गया है।

कैसे और कब हुई यह वारदात?

दरअसल ग्राम सभा दुर्जनपुर और हनुमानगंज की कोटे की दो दुकानों के आवंटन के लिए गुरुवार की दोपहर पंचायत भवन पर खुली बैठक का आयोजन किया गया था। इसमें एसडीएम बैरिया सुरेश पाल, सीओ बैरिया चंद्रकेश सिंह, बीडीओ बैरिया गजेन्द्र प्रताप सिंह के साथ ही रेवती थाने की पुलिस फोर्स मौजूद थी। दुकानों के लिए चार स्वयं सहायता समूहों ने आवेदन किया था।

दुर्जनपुर की दुकान के लिए आम सहमति नहीं सकसी। लिहाजा दो समूहों मां सायर जगदंबा स्वयं सहायता समूह और शिव शक्ति स्वयं सहायता समूह के बीच दांव लगाने का निर्णय लिया गया। अधिकारियों ने कहा कि वोटिंग वही होगा जिसके पास आधार या अन्य कोई पहचान पत्र होगा। एक पक्ष के पास अधार और पहचान पत्र मौजूद था, लेकिन दूसरे पक्ष के पास कोई आईडी नहीं थी। इसको लेकर दोनों पक्षों के बीच विवाद शुरू हो गया है। मामला बिगड़ता देख बैठक की कार्रवाई को स्थगित कर अधिकारी चले गए। मौके पर मौजूद रेवती पुलिस के दोनों पक्षों को समझाने और विवाद शांत करने में जुट गई।

एक पक्ष के अधिकारियों पर पक्षपात करने का आरोप लगाते हुए नारेबाजी करने लगा। इसी दौरान दूसरे पक्ष के लोगों से भिड़ंत हो गए। बात बढ़ी तो लाठी-डंडे के साथ ही ईट-पत्थर चलने लगी। इसी बीच एक पक्ष की ओर से फायरिंग शुरू हो गयी। दुर्जनपुर के 46 वर्षीय जयप्रकाश उर्फ ​​गामा पाल को ताथतोड़ चार गोलियां मार दी गई। गोली का कारण ही अफरातफरी मच गया। जयप्रकाश को लेकर लोग सीएचसी सोनबरसा पहुंचे, जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया।

एक आरोपी हुआ गिरफ्तार, मुख्य आरोपी धीरेंद्र अब भी फरार

इस हत्याकांड के एक आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। हालांकि मुख्य आरोपी धीरेंद्र अभी भी पुलिस की पकड़ से दूर हैं। बलिया पुलिस धीरेंद्र को पकड़ने के लिए लगातार छापेमारी कर रही है। यहीं नहीं आजमगढ़ जोन के आईजी सुभाष चंद्र दुबे, दुर्जनपुर गांव में कैंप कर रहे हैं। बताया जा रहा है कि शस्त्र लाइसेंस रद्द करने की कार्रवाई शुरू हो गई है। सूचना यह भी है कि मुख्य आरोपी धीरेंद्र के घर भारी पुलिस फोर्स तैनात की गई है और घरवालों पर भी नजर रखी जा रही है।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

फारूक अब्दुल्ला ने भूमि घोटाले के आरोपों पर प्रतिक्रिया दी, 10 अंक – भूमि संरक्षण के आरोपों पर फारुक अब्बीदुल्ला बोले-झूठ फैलाया जा रहा...

फारुक अब्सीदुल्ला ने आरोपों को उनकी छवि प्रदान करने के समझौते पर दिया हैश्रीनगर: जम्ममू -श्सिर (जम्मू और कश्मीर)...

भोपल गैस पीड़ितों के लिए घातक COVID-19, यूनियन कार्बाइड से अधिक मुआवजा चाहता है – भोपाल के गैस पीड़ितों के लिए जानलेवा साबित हो...

भोपाल गैस त्रासदी के शिशु अभी भी कई आत्मसात नई समसयाओं का सामना कर रहे हैं (प्रतीकात्मक शब्द)खास बातेंगैस पीडिआतों के लिए कन्फरत...

कोरोनावायरस के मामले बढ़ने से एयलाइंस कंपनियों की बढ़ी मुश्किलें

यूरोप और अमेरिकी में कोरोनावायरस के मामलों में वृद्धि के साथ ही दुनिया भर की विमानन कंपनियों का वित्तीय परिदृश्य खराब हो रहा...

महबूबा मुफ्ती के करीबी सहयोगी, पीडीपी नेता वहीद पारा को आतंकी मामले में गिरफ्तार – महबूबा मुफ्ती का करीबी, पीडीपी का युवा नेता आतंकी...

खास बातेंहिजबुलंदरर के साथ कथित संबंध मामले में हुई गिरफ्तारी एनआईए ने दिलली में की गुंजाइश थी इसके बाद वहीद पारा को अरेस्ट किया गयानई...

Recent Comments