Thursday, January 20, 2022
HomeIndiaबढ़ी चिंता: देश में तेजी से फैल रहा Omicron, संक्रमित मरीजों का...

बढ़ी चिंता: देश में तेजी से फैल रहा Omicron, संक्रमित मरीजों का आंकड़ा 80 के पार पहुंचा


Image Source : PTI FILE PHOTO
बढ़ी चिंता: देश में तेजी से फैल रहा Omicron, संक्रमित मरीजों का आंकड़ा 80 के पार पहुंचा

Highlights

  • Omicron के कर्नाटक में 5 और तेलंगाना में चार नए मरीज मिले
  • देश में Omicron संक्रमितों की कुल संख्या 87 तक पहुंची
  • मुंबई में सख्ती बढ़ी, 16 दिसंबर से 31 दिसंबर तक धारा 144 लागू

Coronavirus Omicron India Updates: देश में कोरोना के नए वैरिएंट ओमीक्रोन के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। देश में ओमीक्रोन संक्रमित मरीजों की कुल संख्या बढ़कर 87 हो गई है। देश में ओमीक्रोन के बढ़ते मामलों ने सरकार की चिंता बढ़ा दी है। कोरोना वायरस का खतरनाक स्वरूप ओमिक्रॉन अबतक देश के 11 राज्यों में फैल चुका है। कर्नाटक में गुरुवार को ओमीक्रोन वेरिएंट के 5, जबकि दिल्ली और तेलंगाना की राजधानी हैदराबाद में 4-4 और गुजरात में 1 नया संक्रमित पाया गया है। उधर, केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला ने देश के विभिन्न हिस्सों में कोरोना के नए ओमीक्रोन वेरिएंट के खतरों के बीच देश में कोविड-19 की स्थिति की समीक्षा की। 

जानिए ओमिक्रॉन के किस राज्य में कितने मामले

भारत में गुरुवार तक ओमीक्रोन संक्रमण के 87 मामले सामने आ चुके हैं। ओमीक्रोन के महाराष्ट्र में अब तक सबसे ज्यादा केस मिले हैं, यहां 32 केस सामने आ चुके हैं। राजस्थान में 17, राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में 10, केरल में 5, गुजरात में 5, कर्नाटक में 8, तेलंगाना में 7, बंगाल, तमिलनाडु, आंध्रप्रदेश और चंडीगढ़ में 1-1 मामले सामने आ चुके हैं।

कर्नाटक में 1 ही दिन में ओमिक्रॉन के 5 नए संक्रमित मरीज मिले

कर्नाटक में कोरोना के नए वैरिएंट के मामले बढ़ने लगे हैं। कर्नाटक में एक ही दिन में ओमीक्रोन के 5 नए संक्रमित मरीज मिलने की जानकारी राज्य के स्वास्थ्य मंत्री डॉ. सुधाकर के. ने ट्वीट करके दी है। कर्नाटक के स्वास्थ्य विभाग के अनुसार, कर्नाटक में ओमीक्रोन संक्रमितों की संख्या बढ़कर 8 हो गई है। विभाग का कहना है कि सभी 5 नए ओमीक्रोन पॉजिटिव मरीजों को कोविशील्ड वैक्सीन के दोनों डोज लग चुके हैं।

दिल्ली में ओमिक्रॉन के 10 मामले सामने आ चुके हैं

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने गुरुवार को बताया, ‘‘दिल्ली में अभी तक ओमीक्रोन स्वरूप के 10 मामले सामने आए हैं। इनमें से एक को अस्पताल से छुट्टी मिल गई है।’’ उन्होंने बताया कि इनमें से किसी की हालत ‘‘गंभीर’’ नहीं है। एक स्टडी में खुलासा हुआ है कि कोरोना का ओमीक्रोन वैरिएंट डेल्टा की तुलना में 70 गुना तेजी से फैलेगा, हालांकि इससे कोई गंभीर रूप से बीमार नहीं पड़ेगा। 

गुजरात के महसाणा में महिला स्वास्थ्यकर्मी ओमिक्रॉन से संक्रमित

गुजरात के महसाणा जिले की विजापुर तहसील के एक गांव में एक 41 वर्षीय महिला स्वास्थ्यकर्मी कोरोना वायरस के ओमीक्रोन वैरिएंट से संक्रमित पाई गई है। प्रदेश में ओमीक्रोन से संक्रमण का यह पांचवां मामला सामने आया है। जानकारी के अनुसार, महिला का इलाज चल रहा है और उसकी हालत स्थिर है। 

महाराष्ट्र में ओमिक्रॉन के सबसे अधिक 32 मामले सामने आ चुके हैं, मुंबई में सख्ती बढ़ी

महाराष्ट्र में ओमीक्रोन के सबसे अधिक 32 मामले सामने आ चुके हैं। मुंबई में 16 दिसंबर से 31 दिसंबर तक धारा 144 लागू कर दी गई है। धारा 144 को लेकर मुंबई पुलिस ने गुरुवार को कहा कि और कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के उपायों के तहत क्रिसमस और नए साल की पूर्व संध्या को देखते हुए शहर में बड़े समारोहों पर प्रतिबंध लागू रहेगा। 

केंद्र बच्चों के लिए वैक्सीन और बूस्टर डोज पर जल्द ले सकता है फैसला

केंद्र सरकार जल्द ही कोरोना वैक्सीनेशन प्लान का रिव्यू करेगी। सरकार ने दिसंबर अंत तक ही देश की 65 प्रतिशत वयस्क आबादी को दोनों डोज लगाने का लक्ष्य तय किया है। केंद्र सरकार के रिव्यू में बच्चों को वैक्सीन लगाने और बड़ों को बूस्टर डोज देने पर चर्चा की जाएगी। एक अधिकारी ने बताया कि दिसंबर अंत तक ओमीक्रोन को लेकर हालात साफ हो जाएंगे। फिलहाल हमारी प्राथमिकता यह है कि वयस्कों में दूसरे डोज की कवरेज को बढ़ाया जाए। इसमें वे लोग भी शामिल होंगे जो रिस्क पर हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, देश में कोविड-19 वैक्सीनेशन का आंकड़ा गुरुवार (16 दिसंबर, 2021) को 135.91 करोड़ के पार पहुंच गया। देश में गुरुवार आज शाम 7 बजे तक वैक्सीन की 62 लाख से ज़्यादा डोज़ लगाई गई हैं। 

ओमिक्रॉन के खिलाफ कोरोना के टीके कम प्रभावी हो सकते हैं: डब्ल्यूएचओ

ओमिक्रॉन को लेकर दुनिया में चिंता बढ़ती जा रही है। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने कहा है कि ओमीक्रोन वैरिएंट के खिलाफ कोरोना के टीके कम प्रभावी हो सकते हैं। WHO ने कहा कि हल्के लक्षण के चलते ओमिक्रॉन को नजर अंदाज नहीं किया जा सकता, यह अन्य वैरिएंट से ज्यादा संक्रामक है। 

केंद्रीय गृह सचिव ने की समीक्षा बैठक

केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला ने देश के विभिन्न हिस्सों में कोरोना वायरस के नए स्वरूप ओमीक्रोन के बढ़ते मामलों की खबरों के बीच गुरुवार को देश में कोविड-19 की स्थिति की समीक्षा की। गृह मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने कहा कि कोविड​​​​-19 स्थिति से निपटने के लिए सभी केंद्र शासित प्रदेशों की स्वास्थ्य संबंधी तैयारियों की भी समीक्षा की गई। केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने बैठक में भाग लिया, जिसमें केंद्र शासित प्रदेशों के प्रशासनिक अधिकारी भी शामिल हुए। प्रवक्ता ने कहा, ”केंद्र शासित प्रदेशों में कोविड-19 की स्थिति की समीक्षा के लिए केंद्रीय गृह सचिव ने आज केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव के साथ हुई बैठक की अध्यक्षता की। कोविड-19 से निपटने के लिए सभी केंद्र शासित प्रदेशों के स्वास्थ्य ढांचे की तैयारी की भी समीक्षा की गई।” 





Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments