Tuesday, January 31, 2023
HomeUttar Pradeshफरवरी से सड़क पर संघर्ष करेगी एएनएम

फरवरी से सड़क पर संघर्ष करेगी एएनएम

मातृ शिशु कल्याण महिला कर्मचारी संघर्ष समिति गठित
लखनऊ   लालकुआ स्थित एक होटल मंें आयोजित एक आम सभा में उपस्थित प्रदेश की हजारों स्वास्थ कार्यकर्ता महिला ने एएनएम की जायज मांगों की पूर्ति न होने तथा इस संवर्ग के नाम से बने तमाम संगठनों की सुस्ती, संवर्ग की अनेदखी से परेशान और नाराज होकर नव वर्ष पर मातृ शिशु कल्याण महिला कर्मचारी संघर्ष समिति का गठन किया है। आम सभा की अध्यक्षता राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद के प्रदेश उपाध्यक्ष अवधेश कुमार सिंह एवं संचालन शीला कपूर ने किया। बैठक में सर्व सम्मति से रूपधारा बिजनौर को समिति का प्रदेश अध्यक्ष, मधुबाला प्रयागराज  उपाध्यक्ष, मंजू तिवारी उपाध्यक्ष, मृणालनी महामंत्री, उर्मिला भट्ट वरिष्ठ उपाध्यक्ष और शीला कपूर को सम्प्रेक्षक चुना गया।
आमसभा में चर्चा करते हुए वक्ताओं ने कहा कि प्रदेश की हजारों हजार महिला स्वास्थ कार्यकर्ता अपनी जायज मांगों के निस्तारण का इंतजार कर रही है।कई संगठन महिला स्वास्थ कार्यकर्ता के नाम से बने हुए है लेकिन कई वर्षों से इस संवर्ग की जायज मांगों पर कोई विचार नही किया जा रहा है। नई कार्यकारिणी के गठन के उपरान्त प्रदेश स्तर पर मण्डलीय एवं जनपदीय कार्यकारिणी का गठन 15 जनवरी तक कराये जाने का निर्णय आम सभा में लिया गया। मण्डलीय एवं जनपदीय कार्यकारिणी के गठन के उपरान्त एक राज्य स्तरीय बैठक राजधानी में आयोजित कर फरवरी के पहले सप्ताह से मांगों की प्रतिपूर्ति के लिए सड़क पर उतरने का निर्णय आमसभा में लिया गया। आमसभा की अध्यक्षता कर रहे परिषद के प्रदेश उपाध्यक्ष अवधेश कुमार सिंह ने कहा कि उनका पूरा सहयोग समिति के साथ रहेगा। आमसभा में प्रदेश अध्यक्ष मधुबाला ने बताया कि मातृ शिशु कल्याण महिला कर्मचारी संघर्ष समिति की मुख्य मांगों में 2800 ग्रेड पे, महिला एवं पुरूष स्वास्थ कार्यकर्ता की अलग-अलग सेवानियमावली, समयबद्ध पदोन्नति, पुरानी पेंशन बहाली और पीएचएम की बहाली मुख्य है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments