Sunday, October 2, 2022
HomeUttar Pradeshपीलीभीत में किशोरी से गैंगरेप की कोशिश जिंदा जलाया हालत गंभीर गांव...

पीलीभीत में किशोरी से गैंगरेप की कोशिश जिंदा जलाया हालत गंभीर गांव पहुंचे आई रेंज बरेली


पीलीभीत: उत्तर प्रदेश के पीलीभीत में सामूहिक दुष्कर्म का मामला सामने आया था। दो आरोपियों ने पहले तो किशोरी के साथ बारी-बारी से दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया। उसके बाद डीजल डालकर किशोरी को जिंदा जला दिया। घटना के बाद गंभीर रूप से घायल किशोरी को इलाज के लिए जिला अस्पताल भर्ती कराया गया है। जहां उसकी हालत को गंभीर बताते हुए चिकित्सकों ने किशोरी को लखनऊ रेफर कर दिया है। लखनऊ में किशोरी का इलाज चल रहा है, लेकिन किशोरी की हालत गंभीर बताई जा रही है। रविवार को पुलिस ने तत्काल कार्रवाई करते हुए दोनों नामजद आरोपियों को गिरफ्तार कर न्यायालय के समक्ष पेश किया। वहीं, बरेली रेंज के आईजी रमित शर्मा भी घटनास्थल का मुआयना किया। उन्होंने पुलिस को दिशा निर्देश जारी किए।

7 सितंबर को माधोटांडा थाना क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले गांव की रहने वाली 17 वर्षीय किशोरी को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया था। किशोरी बुरी तरह आग से झुलसी हुई थी। 10 सितंबर को सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हुआ, जिसमें किशोरी ने गांव के रहने वाले दो आरोपियों पर दुष्कर्म करने और जिंदा जलाने का आरोप लगाया। पूरे मामले में 10 सितंबर को पुलिस ने किशोरी के पिता की तहरीर पर दो नामजद आरोपी ताराचंद और राजवीर के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया।

सपा नेता हेमराज ने लगाए लापरवाही के आरोप
समाजवादी पार्टी की सरकार में पूर्व मंत्री रहे हेमराज वर्मा भी किशोरी के परिजनों से मुलाकात करने रविवार को पहुंचे। जहां परिजनों से बातचीत के बाद मीडिया से रूबरू होते हुए पूर्व मंत्री ने जिला प्रशासन, पुलिस प्रशासन और अस्पताल प्रशासन पर मामले को दबाने का आरोप लगाया। सपा नेता का कहना था कि 7 सितंबर को जब किशोरी जिला अस्पताल आई तो अस्पताल प्रशासन द्वारा पूरे मामले की सूचना पुलिस को क्यों नहीं दी गई। अगर पुलिस को सूचना दी गई थी तो समय से कार्रवाई क्यों नहीं हुई। इसके साथ ही जिंदा जलाई गई किशोरी के बेड पर चीटियां देख पूर्व राज्य मंत्री ने स्वास्थ्य व्यवस्था के ऊपर भी जमकर निशाना साधा।

हालत गंभीर होने पर किशोरी को किया गया रेफर
जिला अस्पताल में 7 सितंबर को भर्ती कराई गई किशोरी को 11 सितंबर को चिकित्सकों ने उसकी हालत में सुधार न होता देख लखनऊ रेफर कर दिया है। चिकित्सकों का कहना है कि किशोरी की हालत गंभीर है, उसे इलाज के लिए हायर सेंटर भेजा गया है।
कुमार सौरभ



Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments