Tuesday, January 31, 2023
HomeIndiaपीडित महिला ने लगाए राजस्व निरीक्षक योगेश चौपड़ा और दर्शन शर्मा पर...

पीडित महिला ने लगाए राजस्व निरीक्षक योगेश चौपड़ा और दर्शन शर्मा पर खेत के सीमांकन में फर्जीवाड़ा

पीडित महिला ने लगाए राजस्व निरीक्षक योगेश चौपड़ा और दर्शन शर्मा पर खेत के सीमांकन में फर्जीवाड़ा करने के गंभीर आरोप, कलेक्टर सहित मुख्यमंत्री को की शिकायत, पीड़ित ने न्याय नही मिलने पर आत्महत्या की दी धमकी

नीमच   ग्वालटोली निवासी मंजुबाई पति भोलाराम ग्वाला ने एक लिखित शिकायत कलेक्टर सहित मुख्यमंत्री को की है। शिकायत में उन्होने राजस्व निरीक्षक योगेश चौपड़ा और दर्शन शर्मा पर गंभीर आरोप लगाते हुए बताया है कि पीड़िता की ग्राम बरूखेड़ा स्थित कृषिभूमि जिसका सर्वे क्रमांक 650 है, जहां दो पतरा पोश के मकान के साथ ही मेड़ पर एक कुआं भी है। दर्शन शर्मा पीड़िता का पड़ोसी है जिनकी कृषिभूमि का सर्वे क्रमांक 651 है। पीड़िता का आरोप है कि दर्शन शर्मा उनका कुआं और दो पतरा मकान हड़पना चाहता है। इसी कारण राजस्व निरीक्षक योगेश चौपड़ा से मिलीभगत कर दर्शन शर्मा ने सीमांकन में फर्जीवाड़ा करवाया। सर्वे क्र. 650 की कृषिभूमि में दर्शाया गया कुआं दर्शन शर्मा ने खुद की कृषिभूमि जिसका सर्वे क्र. 651 पर अंकित करवा लिया।
पीड़ित महिला ने शिकायत में यह भी बताया है कि योगेश चौपड़ा से मिलीभगत कर दर्शन शर्मा ने नियमो के विपरित जाकर अवैध सीमांकन करवा लिया। जिसमे राजस्व निरीक्षक योगेश चौपड़ा ने सीमांकन में न ही फिल्ड बुक बनाये, न ही स्थाई चिन्हो से सीमांकन किया। मनमाने और योजनाबद्ध तरीके से सर्वे क्र. 650 की कृषिभूमि की मेड से कुआं उठाकर दर्शन शर्मा की कृषिभूमि में सीमांकीत कर दिया। जबकि पीड़िता ने इंजिनियर से अपनी भूमि का पुन: सीमांकन करवाया जिसमें स्पष्ट रूप से कुआं पीड़िता की सर्वे क्र. 650 की कृषिभूमि में दर्शाई दे रहा है।
पीडिता ने अपनी शिकायत में यह भी बताया कि वर्ष 2009 में सीताराम माली से उन्होने सर्वे क्र. 650 की भूमि खरीदी थी और उक्त कुआं विक्रयपत्र में शामिल है। जबकि दर्शन शर्मा ने सर्वे क्र. 651 की भूमि पीड़िता की ही सास रामप्यारीबाई से खरीदी थी, जिसके विक्रयपत्र में और राजस्व रिकार्ड में आज दिनांक तक कुआं शामिल नही है।
पीड़िता ने शासन — प्रशासन से मय प्रमाणीत दस्तावेजो सहित शिकायत करते हुए राजस्व निरीक्षक योगेश चौपड़ा और दर्शन शर्मा विरूद्ध प्रताडित करने और फर्जीवाड़ा करने के संबंध में कार्रवाई की मांग की है। यदि समय रहते पीड़िता को न्याय नही मिलता है तो ऐसी दशा में पीडिता ने आत्महत्या करने की चेतावनी दी है।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments