Monday, May 17, 2021
Home Desh पश्चिम बंगाल में राजनीतिक हिंसा के कारण सैकड़ों भाजपा कार्यकर्ता असम में...

पश्चिम बंगाल में राजनीतिक हिंसा के कारण सैकड़ों भाजपा कार्यकर्ता असम में शरण लेते हैं


मतगणना के बाद से ही बंगाल में राजनीतिक हिंसा का नंगा नाच हो रहा है। अब तक लगभग एक दर्जन बीजेपी कार्यकर्ताओं की हत्या हो चुकी है।

हिमंत बिस्वा सरमा

ट्वीट कर ममता बनर्जी से हस्तक्षेप की अपील भी। (फोटो क्रेडिट: न्यूज नेशन)

हाइलाइट

  • असम के स्वास्थ्य मंत्री ने ट्वीट कर दीदी से की अपील
  • दावा किया कि बीजेपी के सैकड़ों कार्यकर्ता असम पहुंचे
  • चुनाव जीतने के बाद कहा था कि कांग्रेस का मजाक उड़ेगा नहीं

नई दिल्ली:

असम के मंत्री हिमंत बिस्व सरमा (हिमंत बिस्व सरमा) ने मंगलवार को दावा किया कि पश्चिम बंगाल (पश्चिम बंगाल) में चुनाव बाद हुआ हिंसा (हिंसा) के बीच में लगभग 300-400 बीजेपी कार्यकर्ता और उनके परिवार के सदस्य भागकर पड़ोसी राज्य आ गए हैं। उन्होंने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री के ममता बनर्जी (ममता बनर्जी) बद दानव को कुरूप होने से बचाने की अपील भी ’। असम (असम) के स्वास्थ्य एवं वित्त मंत्री ने ट्वीट किया, ‘एक दुखद विवरण में बंगाल भाजपा के 300-400 कार्यकर्ता और उनके परिवार के सदस्य घोर अत्याचार और हिंसा की मार के बाद असम के धुबरी पहुंच गए।’ उन्होंने कहा, ‘हम (उन्हें) आश्रय और भोजन दे रहे हैं। ममता दीदी को दानव को बदरूप होने से बचाना चाहिए। बंगाल बेहतर का नेतृत्व है। ‘

बंगाल में राजनीतिक हिंसा चरम पर है
गौरतलब है कि मतगणना के बाद से ही बंगाल में राजनीतिक हिंसा का नंगा नाच हो रहा है। अब तक लगभग एक दर्जन बीजेपी कार्यकर्ताओं की हत्या हो चुकी है। घरों को लक्ष्य बनाया जा रहा है। पश्चिम बंगाल सोमवार को भी व्यापक हिंसा की गिरफ्त में जा रहा है जिसमें कथित रूप से बीजेपी के कई कार्यकर्ता हिंट झड़प में मारे गए और कई घायल हो गए। इसके साथ ही दुकानों में लूट की वारदातें भी सामने आईं। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने विपक्षी कार्यकर्ताओं पर हमले की घटनाओं पर राज्य सरकार से निष्पक्ष रिपोर्ट मांगी है। साथ ही बीजेपी इन हत्याओं के विरोध में आज राष्ट्रव्यापी धरने का आयोजन कर रही है।

यह भी पढ़ें: यूपी पंचायत चुनाव परिणाम: इस बार सपा ने मारी बाजी, बीजेपी को पचड़ा

कांग्रेस कार्यकर्ताओं को दिया था संदेश
सोमवार को सरमा ने कहा था कि असम में लगातार दूसरी बार भाजपा के विधानसभा चुनाव जीतने के बाद किसी भी कांग्रेस कार्यकर्ता पर हमला तो भूल जाइए, उनका मजाक भी उड़ा नहीं। उन्होंने ट्वीट किया था, ‘बहुत दूर नहीं, बंगाल में ही दीदी के दादाओं ने भाजपा कार्यकर्ताओं पर हमले और उनकी हत्याएं कर आतंक का राज कायम कर दिया है। क्या ‘उदारवादी’ यह बात देख सकते हैं? ‘

यह भी पढ़ें: ममता बनर्जी 10.45 बजे तीसरी बार लेंगी मुख्यमंत्री पद की शपथ

बीजेपी ने हिंसा के लिए टीएमसी को जिम्मेदार बताया
भाजपा ने हिंसा के लिए तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) को जिम्मेदार ठहराया है और कहा है कि तृणमूल कांग्रेस प्रमुख और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के राज्य विधानसभा चुनावों में भारी जीत हासिल करने के बाद भाजपा के कार्यकर्ताओं और पार्टी से सहानुभूति वालों को निशाना बनाया जा रहा है। है। मंगलवार को बीजेपी चीफ जेपी नड्डा दो दिवसीय दौरे पर पश्चिम बंगाल पहुंचे और उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी के कार्यकर्ता हिंसक प्रदर्शन का सामना कर रहे हैं।



संबंधित लेख

पहली प्रकाशित: 05 मई 2021, 10:09:37 पूर्वाह्न

सभी के लिए नवीनतम भारत समाचार, न्यूज नेशन डाउनलोड करें एंड्रॉयड तथा आईओएस मोबाईल ऐप्स।




Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments