Tuesday, January 31, 2023
HomeBiharनगरपालिका आम निर्वाचन में नगर पंचायत मुरौल, माधोपुर सुस्ता एवं नगर निगम मुजफ्फरपुर...

नगरपालिका आम निर्वाचन में नगर पंचायत मुरौल, माधोपुर सुस्ता एवं नगर निगम मुजफ्फरपुर के लिए मतदान शांतिपूर्ण सम्पन्न

ध्रुव कुमार सिंह, मुजफ्फरपुर, बिहार, 

 

नगरपालिका आम निर्वाचन, 2022 के अवसर पर मुजफ्फरपुर जिले में दूसरे चरण के मतदान के लिए 07 बजे पूर्वाह्न से नगर पंचायत मुरौल, माधोपुर सुस्ता एवं नगर निगम मुजफ्फरपुर के लिए मतदान छिटपुट घटनाओं के बीच शांतिपूर्ण सम्पन्न हो गया. संध्या 05 बजे तक चले मतदान में मुजफ्फरपुर जिले के पश्चिमी अनुमंडल अंतर्गत नगर पंचायत माधोपुर सुस्ता में 69.84%, तथा पूर्वी अनुमंडल के नगर पंचायत मुरौल में 65.69%, वहीं मुजफ्फरपुर नगर निगम के लिए 49.99% मतदाताओं ने अपने मतों का प्रयोग किया. मतदान के दौरान जिला प्रशासन स्वच्छ, निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण चुनाव सम्पन्न कराने के लिए पूरी तरह से मुस्तैद दिखा। हर एक बूथ पर एक मतदाता के लिए तीन-तीन कंपार्टमेंट बनाए गए हैं। सुबह 7 बजे से ही लोग घरों से निकलकर वोट डालने के लिए पहुंचे। हालांकि, सुबह के समय धुंध छाई रही, जिसकी वजह से कई मतदान केन्द्रों पर मतदान कक्ष में कम रोशनी की उपलब्धता के बावजूद वोट डालने के लिए लोगों में उत्साह कम नहीं दिखाई दिया। बड़ी संख्या में बुजुर्ग और युवाओं से लेकर दिव्यांग मतदाता भी वोट डालने के लिए पहुंचे। महिला वोटर्स में भी काफी उत्साह देखा गया। मुजफ्फरपुर नगर निगम क्षेत्र में 22/4 बूथ पर मतदान के अंतिम समय वोट डालने पहुंचीं एक ही घर की पांच महिलाएं का आरोप था कि बिना लाइन लगे वोटरों को पहले मतदान के लिए भेजा जा रहा है। महिलाओं ने इसका विरोध किया तो सुरक्षाकर्मियों से विवाद होने लगा। इसके बाद हंगामा होने पर पुलिस ने महिलाओं पर लाठीचार्ज कर उन्हें मतदान केंद्र से भगाया। इसमें चार महिलाएं घायल हो गईं। गंभीर रूप से घायल एक महिला को सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया। दूसरी ओर मतदान कर्मियों और मतदान केंद्र पर तैनात पुलिसकर्मियों का कहना था कि ये महिलाएं निर्धारित समय के बाद आई थीं। वह जबरदस्ती प्रवेश कर वोट देना चाहती थीं। मुजफ्फरपुर में नगर निकाय का चुनाव में  दो जगह मॉडल बूथ भी बनाए गए थें। इसके अलावा, शहर के सरैयागंज में स्थित एक बूथ आकर्षण का केंद्र बने हुए थें। सरैयागंज स्थित आदर्श मध्य विद्यालय में बने इस केंद्र को ट्रेन की बोगी के तरह सजाया गया है। दीवारों को रंग कर बोगी बनाई गई थी। मुजफ्फरपुर में नगर निगम चुनाव को लेकर दो आदर्श बूथ बनाये गए है। इसमे एक जिला स्कूल बूथ व चक्कर मैदान में स्थित प्रभात तारा बूथ शामिल थें। प्रभात तारा को पिंक बूथ बनाया गया है। पिंक बूथ पर केवल महिलाएं वोट दल सकती थी। इसको लेकर सभी बूथों पर वोटर की सुविधा के मद्देनजर मुकम्मल व्यवस्था की गई है। इस बूथ पर सिर्फ महिला वोटर के मतदान करने की व्यवस्था थी। इससे महिलाओं में भी काफी उत्साह था। पिंक बूथ पर ठंड से बचने के लिए हीटर भी लगाया गया है। ताकि, किसी भी वोटर पर ठंड भारी नहीं पड़े। वहीँ जिला स्कूल को मॉडल बूथ बनाया गया है। यहां पर आयोग के गाइडलाइन के अनुसार सभी सुविधा वोटर के लिए की गयी थीं। राज्य में बार मेयर और डिप्टी मेयर के चयन को लेकर सीधे वोटिंग हो रही है। जबकि पहले वार्ड पार्षद मिलकर मेयर और डिप्टी मेयर का चयन करते थे। इसमें जमकर खरीद फरोख्त होता था। इसी को समाप्त करने के लिए इस बार नई व्यवस्था लागू की गई है। समाचार संकलन के दौरान विभिन्न मतदान केन्द्रों पर मिले डॉ.पंकज पुरुषोत्तम, प्रमोद नारायण सिंह, ज्योति देवी, कल्पना कुमारी, काजल कुमारी, कुमार अमित, डॉ.अंजनी शुक्ला, डॉ.कमलेश कुमार, डॉ.विनोद दत्ता, डॉ.सर्वजीत सिंह, मुन्ना पटेल, प्रियरंजन सिंह, घनश्याम महतो, राजीव कुमार, संतोष रंजन, जितेन्द्र कुमार ”जित्तू बाबु” सहित बड़ी संख्या में मतदाताओं नें बताया की ये व्यवस्था बहुत अच्छी है। हमें शहर की सरकार चुनने का खुद अधिकार मिला है। शहर में विकास के मुद्दे को ध्यान में रखते हुए वोट करने आए हैं। किसी पार्टी या जात-पात को ध्यान में नहीं रखा है। इस बार डिजिटल फोटो सर्विलांस का इस्तेमाल बूथों पर मतदान कर्मी कर रहे थें। इसमें पहले मतदान कर्मी मतदाता का फोटो खींचते हैं, फिर उसे डिजिटली वेरिफाइड किया जाता था तब आगे वोटिंग की प्रक्रिया होती थी। इससे फर्जीवाड़ा होने का खतरा नहीं रहता है। सभी बूथों पर ये व्यवस्था की गई थी। इसके लिए दो मतदान कर्मी तैनात किये गए थें। मतदान समाप्ति के पश्चात् मिले आंकड़ों के अनुसार मुजफ्फरपुर नगर निगम के लिए शहरी मतदाताओं की अपेक्षा ग्रामीण क्षेत्रों के नगर पंचायतों के मतदाताओं नें काफी ज्यादा मतदान किया. मुजफ्फरपुर नगर निगम के चुनाव में मात्र 49.99%  मतदाताओं द्वारा किया गया मतदान प्रशासनिक, राजनीतिक और सामाजिक हलकों में काफी चर्चा का विषय बना हुआ है.

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments